प्रणीत ने थाईलैंड ग्रां प्री एकल का खिताब जीता

यह उपलब्धि हासिल करने वाले तीसरे भारतीय

बैंकाकः 120000 डालर इनामी थाईलैंड ओपन के पुरुष एकल में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी  ने रविवार को देश का सिर ऊंचा कर दिया। शुरुआती दौर में पिछड़ने के बावजूद प्रणीत ने वापसी करते हुए इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी को हराकर पुरुष एकल का खिताब जीत लिया।  प्रणीत इस खिताब को जीतने वाले तीसरे भारतीय खिलाड़ी बन गये हैं। सायना ने 2012 में और श्रीकांत ने 2013 में यहां खिताब जीते थे। सायना नेहवाल के शनिवार को सेमीफाइनल में हारने के बाद प्रणीत ने रविवार को खिताब जीतकर भारतीय खेमे को खुशी से सराबोर कर दिया।
मोदी ने दी बधाई
जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, ‘बी साई प्रणीत को थाईलैंड ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब जीतने पर बधाई। भारत को इस कामयाबी पर गर्व है।’
तीन लाख का इनाम
भारतीय बैडमिंटन संघ (बाई) ने थाईलैंड ओपन का खिताब जीतने वाले युवा खिलाड़ी बी साई प्रणीत को तीन लाख रुपये का नगद पुरस्कार देने की घोषणा की है।
ऐसे चला मुकाबला
तीसरे वरीय भारतीय ने एक घंटे और 11 मिनट चले फाइनल मुकाबले में इंडोनेशिया के चौथे वरीय खिलाड़ी को 17-21, 21-18, 21-19 से हराया। प्रणीत की यह लगातार दूसरी खिताबी जीत है। इससे पहले उन्होंने सिंगापुर ओपन का खिताब जीता था। दुनिया के 24वें नंबर के खिलाड़ी प्रणीत की फाइनल में पहले गेम में हार का सामना करना पड़ा।
सभी को धन्यवाद…
प्रणीत ने मैच के बाद कहा, ‘मैं सिर्फ रैली पर ध्यान लगा रहा था। यह कड़ा मुकाबला था। रैली काफी लंबी चल रही थी। लेकिन मैं धीरे धीरे मजबूत होने की कोशिश की और जीत दर्ज की। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने मेरा समर्थन किया।’
हैदराबाद के 24 वर्षीय प्रणीत का यह पहला ग्रां प्री खिताब है।  सिंगापुर ओपन उनका पहला सुपर सीरीज खिताब था। प्रणीत इस वर्ष सैय्यद मोदी  इंटरनेशनल ग्रां प्री गोल्ड टूर्नामेंट में समीर वर्मा से हारकर उपविजेता  रहे थे।
पहला गेम गंवाया
इंडोनेशिया के खिलाड़ी ने पहले गेम में 3-0 की बढ़त बनाई, लेकिन प्रणीत ने जल्द ही स्कोर 4-4 कर दिया जिसके बाद 7-7 तक कड़ा मुकाबला रहा। क्रिस्टी ने इसके बाद 14-11 की बढ़त बनाई लेकिन प्रणीत ने लगातार तीन अंक के साथ 14-14 पर फिर बराबरी हासिल कर ली। कुछ करीबी अंकों के बाद क्रिस्टी ने 18-17 की बढ़त बनाई और फिर लगातार तीन अंक के साथ गेम जीत लिया।
फिर जोरदार वापसी
दूसरे गेम में प्रणीत ने जोरदार वापसी की और 5-0 की बढ़त बनाई और फिर इसे 9-3 किया। क्रिस्टी ने हालांकि इसके बाद लगातार छह अंक के साथ स्कोर 9-9 कर दिया। इसके बाद 15-15 पर स्कोर बराबर रहा। प्रणीत ने 17-15 की मामूली बढ़त बनाई और फिर 17-16 के स्कोर पर तीन अंक के साथ चार गेम प्वाइंट हासिल किया और फिर दूसरा गेम 21-18 से जीत लिया।

तीसरे गेम में रही कांटे की टक्कर

तीसरे गेम में क्रिस्टी ने 2-2 के स्कोर पर लगातार पांच अंक के साथ 7-2 की बढ़त बनाई और फिर स्कोर 8-3 किया। प्रणीत ने वापसी करते हुए स्कोर 7-8 किया। प्रणीत ने 9-9 के स्कोर पर बराबरी हासिल की। उतार चढ़ाव के बाद स्कोर 17-17 से बराबर था जिसके बाद प्रणीत ने दो अहम अंक के साथ स्कोर 19-17 किया। क्रिस्टी ने हालांकि अगले जो अंक जुटाकर 19-19 से बराबरी हासिल की, लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने अगले दो अंक जीतकर गेम, मैच और खिताब अपने नाम किया।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अब भूसे से बनेगा गैसोलीन, वैज्ञानिको ने खोजा नायाब तरीका

कोलंबो : वैज्ञानिकों ने भूसे या बुरादे से गैसोलीन/ईंधन बनाने का नया तरीका खोज लिया है। इससे गैस संयंत्रों को हरित ईंधन बनाने में और मदद मिलेगी। बेल्जियम के लुवेन स्थित कैथोलीक यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने भूसे में पर्याप्त मात्रा में [Read more...]

लुका मोड्रिच बने सर्वश्रेष्ठ फुटबालर, रोनाल्डो-मेसी की बादशाहत खत्म

लंदन : लुका मोड्रिच ने फीफा का वर्ष का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार हासिल करके क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी की फुटबाल के व्यक्तिगत पुरस्कारों को हासिल करने में एक दशक से चली आ रही बादशाहत को समाप्त कर दिया। [Read more...]

मुख्य समाचार

अब भूसे से बनेगा गैसोलीन, वैज्ञानिको ने खोजा नायाब तरीका

कोलंबो : वैज्ञानिकों ने भूसे या बुरादे से गैसोलीन/ईंधन बनाने का नया तरीका खोज लिया है। इससे गैस संयंत्रों को हरित ईंधन बनाने में और मदद मिलेगी। बेल्जियम के लुवेन स्थित कैथोलीक यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने भूसे में पर्याप्त मात्रा में [Read more...]

लुका मोड्रिच बने सर्वश्रेष्ठ फुटबालर, रोनाल्डो-मेसी की बादशाहत खत्म

लंदन : लुका मोड्रिच ने फीफा का वर्ष का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार हासिल करके क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी की फुटबाल के व्यक्तिगत पुरस्कारों को हासिल करने में एक दशक से चली आ रही बादशाहत को समाप्त कर दिया। [Read more...]

ऊपर