पहली महिला पेशेवर मुक्केबाज बनीं सरिता

जीत के साथ किया पेशेवर करियर का आगाज

इंफालः अपने करियर के पहले पेशेवर मैच में उतरी मुक्केबाज सरिता देवी ने हंगरी की सोफियो बेडो के जीत के तमाम दावों को धता बताते कहुए उन्हें 3-0 से हराकर अपने पेशेवर मुक्केबाजी करियर का आगाज जीत के साथ किया। भारतीय मुक्केबाजी की आयरन लेडी कही जाने वाली सरिता को खुमान लंपक स्टेडियम में आईबीसी फाइट नाइट के दौरान सर्वसम्मति से विजेता घोषित किया गया। सरिता की यह जीत इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि उनकी विरोधी को 59 पेशेवर मुकाबलों में खेलने का अनुभव हासिल था।

मुकाबले में प्रवेश करते ही सरिता भारत की पहली महिला पेशेवर मुक्केबाज भी बन गई। पिंकी जांगड़ा, अनुभवी सोम बहादुर पून ने भी अपने अपने मुकाबले जीते। 2014 के कॉमनवेल्थ खेलों की रजत पदक विजेता सरिता पूरे मुकाबले में हंगरी की सोफिया पर पूरी तरह हावी रहीं। उन्होंने जोरदार पंच लगाते हुए सोफियो को एकतरफा अंदाज में 3-0 से शिकस्त दी। सोफिया के पेशेवर मुकाबलों का लंबा अनुभव था लेकिन पहला प्रो मुकाबला खेल रहीं सरिता उनसे बेहतर मुक्केबाज साबित हुई।
मुकाबले की घोषणा के बाद से ही सोफिया और सरिता के बीच बयानबाजी का दौर शुरू हो गया था। हंगरी की स्टार मुक्केबाज ने कहा था कि वह सरिता को एक बार फिर आंसू बहाने पर मजबूर कर देंगी लेकिन सरिता ने उनकी चुनौती को ध्वस्त कर दिया।

तो फिर मैंने फैसला किया

रिंग में अपने तीन वर्षीय बेटे को गले लगाते हुए सरिता ने कहा ने कहा कि एशियाई खेलों में हुई घटना बेहद दर्दनाक थी। यह एक बड़ा कारण था जिसकी वजह से मैंने पेशेवर मुक्केबाजी का रुख किया। किसी भी मां के लिए बच्चे से दूर रहना और उसको दूध नहीं पिलाना सबसे बड़ा त्याग है। मैंने यह त्याग आज के दिन के लिए किया।

पिंकी, सोम बहादुर ने भी बाजी मारी

पिंकी जांगड़ा ने पहले पेशेवर मुकाबले में स्लोवाकिया की क्लाडिया फेरेंजी को 40-36, 40-36, 40-36 से हराया। सोम बहादुर पून ने लाइट हैवीवेट वर्ग में थाईलैंड के मनोप सिथियेम को साढ़े चार मिनट में नाक आउट करके पेशेवर करियर की शानदार शुरुआत की।

सिद्धार्थ का खिताब बरकरार

चार बार के चैम्पियन सिद्धार्थ वर्मा ने तकनीकि नाकआउट के जरिए जगन्नाथ को हराकर अपना खिताब बरकरार रखा। जबकि एक अन्य अनुभवी भारतीय मुक्केबाज विपिन कुमार को जबकि तीसरे दौर में ही युगांडा के मुबारक से गुया ने नॉकआउट कर दिया।

Leave a Comment

अन्य समाचार

लक्ष्य विश्व जूनियर चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में

मरखम (कनाडा): भारत के युवा बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन चीनी ताइपै के चेन शियाउ चेंग को हराकर बीडब्ल्यूएफ जूनियर विश्व चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। अलमोड़ा के 17 साल के सेन इस साल जुलाई में एशियाई जूनियर चैम्पियनशिप [Read more...]

एंडरसन को हरा 15वीं बार एटीपी सेमीफाइनल में फेडरर

लंदनः स्विस मास्टर रोजर फेडरर ने एटीपी फाइनल्स में दक्षिण अफ्रीका के केविन एंडरसन को लगातार सेटों में 6-4, 6-3 से पराजित कर विंबलडन की हार का बदला चुकता किया, हालांकि दोनों खिलाड़ियों ने सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर [Read more...]

मुख्य समाचार

लक्ष्य विश्व जूनियर चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में

मरखम (कनाडा): भारत के युवा बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन चीनी ताइपै के चेन शियाउ चेंग को हराकर बीडब्ल्यूएफ जूनियर विश्व चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। अलमोड़ा के 17 साल के सेन इस साल जुलाई में एशियाई जूनियर चैम्पियनशिप [Read more...]

भाजपा इतिहास, नाम या नोट बदल सकती है गेम नहीं : ममता

कहा : देश बचाने में तृणमूल की होगी महत्वपूर्ण भूमिका ब्रिगेड की सभा को बताया लोकसभा के लिए टर्निंग प्वाइंट सन्मार्ग संवाददाता [Read more...]

ऊपर