कलिंग स्टेडियम से मेडल डिजाइन तक सब ‘अनूठा’

पटनायक ने हर मौसम के लिए उपयुक्त सिंथेटिक मेनट्रैक और फ्लडलाइट्स का उद्घाटन किया

भुवनेश्वरः ओडिशा में होने वाली 22वीं एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप के लिए कलिंग स्टेडियम से मेडलों के डिजाइन तक बहुत कुछ अनूठा होगा। चैंपियनशिप का आयोजन 6 से 9 जुलाई तक होगा। स्टेडियम इस मामले में अनूठा है कि इसे मात्र 90 दिन में तैयार कर रिकॉर्ड बनाया गया है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पूरी तरह नए कलिंग स्टेडियम का  उद्घाटन किया। इस मौके पर भुवनेश्वर शहर के लिए एक सांस्कृतिक आयोजन भी  किया गया। मुख्यमंत्री ने चैम्पियनशिप के लिए अनूठे डिजाइन वाले मेडल के  साथ-साथ प्रशस्ति पत्रों का भी लोकार्पण किया और यह इस स्टेडियम के हरेक उस  क्षेत्र में हुआ जिसका पुनरुद्धार किया गया है। इसके साथ ही एशिया के प्रमुख ट्रैक और फील्ड आयोजन के लिए  कलिंग स्टेडियम के दरवाजे खोल दिए गए। इस मौके पर ओडिशा के एथलीट मौजूद  थे। इनमें भिन्न खेल आयोजनों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके एथलीट भी  थे। पटनायक ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को गौरव दिलाने वाले  राज्य के प्रमुख एथलीटों दुत्ती चंदश्रावणी नंदा, अमिय कुमार मालिक और जॉना  मूर्मू को तीन लाख रुपए के चेक भी बांटे।  ओलंपियन और 100 मीटर महिला राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी अनुराधा  बिस्वाल, एशियन गेम्स सिल्वर मेडलिस्ट प्रणति मिश्रा, सुषमा बेहरा, भारत की  पूर्व महिला फुटबॉल कप्तान श्रद्धांजलि सामंत्रे, पुलिस मीट के लिए चुनी  गई बनिता लकड़ा और भुवनेश्वर के मशहूर स्पोर्ट्स हॉस्टल की एथलीट तिकड़ी  लतिका बेसरा, रायबरी तिरिया और संयुक्ता मलिक ने नए बने ट्रैक पर उद्घाटन  दौड़ में हिस्सा लिया और फीता काटकर ट्रैक को खुला घोषित किया।
हम पूरी तरह तैयार- पटनायकः इसके बाद गोल्फ कार्ट पर मुख्यमंत्री को स्टेडियम दिखाया गया  और मुख्य ट्रैक समेत सभी वैसे क्षेत्र दिखाए गए जिनका पुनरुद्धार किया गया  है। इनमें मुख्य ट्रैक, वार्मअप ट्रैक, नए स्थापित एलीवेटर और अपने किस्म  के अनूठे हाई मास्ट फ्लड लाइट शामिल हैं। मुख्यमंत्री पटनायक ने कहा ‘ओडिशा ने लंबी दूर तय कर ली है।  आपदा प्रबंध में अंतरराष्ट्रीय मानक तय करने के बाद देश में आहार सुरक्षा  के क्षेत्र में अहम भूमिका निभाते हुए पारदर्शिता और भ्रष्टाचार विरोधी  उपायों के लिए जाना जाने वाला प्रदेश बन गया है। हमने यह चुनौती दुनिया को  यह दिखाने के लिए ली है कि हम कितनी दूर आ चुके हैं। एशियन एथलेटिक्स चैम्पियनशिप से हम यह भी  दिखाना चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनों के लिए हम कितने तैयार हैं।  अगले साल हम हॉकी वर्ल्ड कप का भी आयोजन करेंगे और भविष्य में हम भारत में  होने वाले बड़े खेल आयोजनों के लिए सबसे पसंदीदा शहरों में से एक होना चाहते हैं।’
ऐसे बना रिकॉर्ड
एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की मेजबानी के लिए भुवनेश्वर शहर के सुंदरीकरण समेत कलिंग स्टेडिटम के नवीकरण का सारा काम रिकार्ड समय में पूरा हुआ है। यह आयोजन पहले रांची में होना था पर अंतिम समय में उसने हाथ खींच लिए और इस तरह भुवनेश्वर को तैयारियों के लिए सिर्फ 90 दिन मिले और यह समय ओड़िशा सरकार द्वारा मेजबानी के लिए हां कहने के दिन से ही शुरू हुआ। कलिंग स्टेडियम के पुनरुद्धार का काम 17 जून तक पूरा हो गया था।

 

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

सोनिया ने मोरक्को की दोआ को बूरी तरह पीटा

नई दिल्लीः भारत की सोनिया ने महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में 54-57 फेदरवेट वर्ग में मोरक्को की तोजानी दोआ को 5-0 से हराकर विजयी शुरुआत की। सोनिया को अपने वजन वर्ग के पहले राउंड में बाई मिली थी और इस [Read more...]

14 करोड़ के चादर और कंबल चुरा ले गये एसी कोच के यात्री : रेलवे

नई दिल्ली : यात्रियों की गंदी हरकत से परेशान रेलवे एसी कोच में दी जाने वाली सुविधाओं में कमी करने का मन बना रहा है। दरअसल देशभर में रेलवे के एसी कोच से तौलिया, चादर और कंबल चोरी हो रहे [Read more...]

मुख्य समाचार

सोनिया ने मोरक्को की दोआ को बूरी तरह पीटा

नई दिल्लीः भारत की सोनिया ने महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में 54-57 फेदरवेट वर्ग में मोरक्को की तोजानी दोआ को 5-0 से हराकर विजयी शुरुआत की। सोनिया को अपने वजन वर्ग के पहले राउंड में बाई मिली थी और इस [Read more...]

14 करोड़ के चादर और कंबल चुरा ले गये एसी कोच के यात्री : रेलवे

नई दिल्ली : यात्रियों की गंदी हरकत से परेशान रेलवे एसी कोच में दी जाने वाली सुविधाओं में कमी करने का मन बना रहा है। दरअसल देशभर में रेलवे के एसी कोच से तौलिया, चादर और कंबल चोरी हो रहे [Read more...]

ऊपर