पार्टी से अलग होकर सहयोगी दे रहे बसपा को झटका

लखनऊः विधानसभा में विरोधी दल के नेता रहे स्वामी प्रसाद मौर्य और वरिष्ठ नेता आर. के. चौधरी के बाद बुधवार को 2 विधायकों ने बगावत कर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को करारा झटका दिया।
लखीमपुर खीरी जिले के पलिया विधानसभा सीट सेविधायक हरविंदर कुमार उर्फ रोमी साहनी और हरदोई के बिलग्राम मल्लावां के विधायक ब्रजेश कुमार वर्मा ने पार्टी अध्यक्ष मायावती पर पैसे लेकर टिकट देने के आरोप भी लगाये। उन दोनों ने दयाशंकर सिंह के परिजनों के संबंध में की गयी बसपा नेताओं की टिप्पणी को भी गलत बताया। साहनी का आरोप है कि बसपा अध्यक्ष ने उनसे टिकट के बदले रुपये की मांग की थी। उन दोनों विधायकों ने सवांददाताओं से कहा कि पैसे लेकर टिकट देने की शुरू की गयी परंपरा से पार्टी का नुकसान तय है एवं उन्होंने कई और विधायकों के बगावत करने की आशंका जाहिर की।रोमी ने कहा कि पार्टी संस्थापक कांशीराम और डा. भीम राव अम्बेडकर के रास्ते से मायावती भटक गयी हैं और जिस तरह उनके सहयोगी उनसे अलग होते जा रहे हैं इससे उन्हें चुनाव में इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा क्योंकि राजनीति में सब कुछ पैसा ही नहीं होता।
उन्होंने कहा कि उन लोगों ने अभी अगली रणनीति के बारे में तय नहीं किया है। समर्थकों से विचारविमर्श के बाद अगली रणनीति तय की जाएगी। साहनी ने कहा कि विधानसभा चुनाव के लिए मायावती ने उनका टिकट काटकर एक व्यापारी को दे दिया और इसका कारण समझ में आता है।
उन्होंने कहा कि कांशीराम ने एक-एक व्यक्ति को जोड़कर पार्टी खड़ी की लेकिन मायावती उसे धीरे-धीरे उसे समाप्त करती जा रही हैं।
दूसरी ओर, बसपा ने पलटवार करते हुए कहा कि टिकट नहीं मिलने से वे दोनों बौखलाये हुए हैं जबकि उन्हें पहले ही बता दिया गया था कि उन्हें टिकट नहीं दिया जाएगा।
पार्टी प्रवक्ता ब्रजेश पाठक ने कहा कि इन्हें पार्टी से निकाल दिया गया था लेकिन आलाकमान से माफी मांग लेने के बाद उन्हें पार्टी में पुनः लिया गया था। माफी मांगते वक्त ही इन्हें बता दिया गया था कि टिकट नहीं दिया जाएगा और टिकट नहीं मिलने के कारण ये निराधार आरोप लगा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि बसपा सिर्फ राजनीतिक पार्टी नहीं बल्कि सामाजिक आंदोलन है। इनके जाने से पार्टी या आंदोलन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

Leave a Comment

अन्य समाचार

पाक सेना की आलोचना करने वाली महिला पत्रकार का अपहरण, कुछ देर बाद वापस लौटीं

अपहरण के पीछे था पाक की खुफिया विभाग व सेना का हाथ, डर के चलते महिला ने पुलिस को नहीं दिया बयान लाहौरः पाकिस्तान में पाक सेना की आलोचना करने के लिए 52 वर्षीय एक महिला पत्रकार का अपहरण कर लिया [Read more...]

लाइलाज नहीं है कैंसर, समय पर जानकारी से बच सकती है जान

नारायणा हैल्थ द्वारा संचालित धर्मशिला नारायणा सुपरस्पेशलिटी अस्पताल ने विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर ‘चेतना - एक पहल विजेताओं द्वारा’ नाम से कार्यक्रम का आयोजन किया। यह कार्यक्रम कैंसर जैसी बीमारी से इलाज के बाद आम जीवन जी रहे [Read more...]

मुख्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

ऊपर