5400 करोड़ की अघोषित आय का पता चला

नयी दिल्ली : सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि बीते नवंबर में नोटबंदी लागू होने से लेकर दस जनवरी तक कानून प्रवर्तन एजेंसियों ने 5400 करोड़ रुपये की ‘अघोषित आय’ का पता लगाया है।
सरकार ने नोटबंदी के बाद ‘विभिन्न गड़बड़ियों’ का भी जिक्र किया जिसमें सोना खरीदने के लिए पुराने नोटों का प्रयोग शामिल है। कानून प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा छापेमारी और बरामदगी की जानकारी देते हुए सरकार ने कहा कि नौ नवंबर से 30 दिसंबर 2016 के बीच नोटबंदी काल के बाद आयकर विभाग ने 31 जनवरी को इस दौरान जमा नकदी के ई-सत्यापन हेतु डेटा विश्लेषण के लिए ‘आपरेशन क्लीन मनी’ शुरू किया। वित्त मंत्रालय ने हफलनामा में कहा कि 9 नवंबर 2016 से 10 जनवरी 2017 के बीच ही आयकर विभाग ने विभिन्न लोगों पर 1100 से अधिक छापे मारे या सर्वेक्षण किये। उन्होंने कहा कि इस दौरान ‘बैंक खातों में जमा बड़ी राशि की संदिग्ध नकदी’ के सत्यापन हेतु 5100 से अधिक नोटिस जारी किये गये।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

मप्र, छत्तीसगढ़ और राजस्थान विस चुनाव लड़ेगी सवर्ण समाज पार्टी

रीवाः अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम और आरक्षण के विरोध में प्रदर्शन की अनेक घटनाओं के बीच सवर्ण समाज पार्टी के अध्यक्ष व मध्यप्रदेश के विंध्य अंचल के प्रमुख लक्ष्मण तिवारी ने कहा कि उनकी पार्टी ने मध्यप्रदेश के 230 [Read more...]

मुख्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

ऊपर