हिंसा की शिकार महिलाओं को मिला दो सौ करोड़ का मुआवजा

नयी दिल्ली : देश में पिछले दो वर्षों के दौरान महिला घरेलू हिंसा संरक्षण अधिनियम के तहत 461 मामले पंजीकृत किये गये हैं और हिंसा की शिकार महिलाओं के लिये सरकार ने अब तक राज्यों को 200 करोड़ रुपये का मुआवजा जारी किया है।  महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अनुसार ये आंकड़े राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की ओर एकत्र किये गये हैं। मंत्रालय के अनुसार 13 जुलाई, 2016 को नयी पुनरीक्षित केंद्रीय पीड़ित मुआवजा फंड (सीवीसीएफ) नीति के तहत जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप एसिड हमले सहित विभिन्न घटनाओं में मारी गयी महिलाओं को मुआवजा देने के लिए सभी राज्यों को अब तक 200 करोड़ रुपयों का आवंटन किया गया है। इसके अलावा एसिड हमले की शिकार महिलाओं को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष के तहत एक लाख रुपये की अतिरिक्त मुआवजा भी दिया गया है। एजेंसियां

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

13,000 फीट से छलांग लगाकर मोदी को दी जन्मदिन की शुभकामना

मुंबईः पद्मश्री से विभूषित भारतीय पैराजंर शीतल राणे-महाजन (35) ने 17 सितंबर को अमरीका के शिकागो में 13,000 फीट की ऊंचाई से विमान से छलांग लगाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन की बधाई दीं। इस सफल छलांग के बाद मोदी के [Read more...]

भागवत ने कांग्रेस की प्रशंसा की, कहा- आरएसएस का इरादा देश में दबदबे का नहीं है

नई दिल्लीः भविष्य का भारत नाम से आरएसएस के कार्यक्रम के दूसरे दिन आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कांग्रेस की प्रशंसा कर सभी को चौंका दिया। इसमें अलग अलग क्षेत्रों की जानी मानी हस्तियां शामिल हो रही हैं। पहले दिन [Read more...]

मुख्य समाचार

ब्रिटिश गोताखोर ने एलन मस्क पर किया मानहानि मुकदमा

कैलिफोर्नियाः थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने वाले ब्रिटिश गोताखोर वर्नोन अनस्वोर्थ ने अब इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क के खिलाफ 75,000 डॉलर (54 लाख 40 हजार रुपए) का मानहानि का मुकदमा किया है। अनस्वोर्थ [Read more...]

पूर्व सीएफओ से केस हारी इंफोसिस, अब ब्याज सहित देने होंगे 12.17 करोड़

नई दिल्लीः भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस मंगलवार को आर्बिट्रेशन केस हार गई है। अब उसे पूर्व सीएफओ राजीव बंसल को 12.17 करोड़ रुपये और ब्याज चुकाने होंगे। दरअसल, इंफोसिस के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्‍का के कार्यकाल [Read more...]

ऊपर