सिद्धू ने लगाया नारा, सीनेटर ने कहा सिद्धू पाकिस्तान से लड़े चुनाव

नई दिल्लीः क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान ने शनिवार को पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली। इस दौरान उनके शपथ ग्रहण समरोह में हिस्सा लेने के लिए भारत से पूर्व क्रिकेटर और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पहुंचे थे। सिद्धू ने इमरान की प्रशंसा की और कहा पाकिस्तान में नई सरकार के साथ एक नई सुबह हुई है। यह सरकार इस देश की किस्मत बदल सकती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि दोनों पड़ोसी देशों के बीच शांति प्रक्रिया में इमरान की जीत से लाभ होगा।
बाजवा से मिल कर सिद्धू ने सुर्खियां बटोरी
पाकिस्तान गये कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान में काफी सुर्खियां बटोरी है। सिद्धू पीटीआई चेयरमैन इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पाक आर्मी चीफ जनरल बाजवा से गले मिले। इस मुलाकात पर सिद्धू ने कहा कि बाजवा ने उन्हें कहा कि वे भारत से शांति चाहते हैं। इससे पहले सिद्धू ने पीटीआई के नेताओं और सांसदों से मुलाकात की। इस दौरान पीटीआई के एक सीनेटर ने कहा कि सिद्धू इतने लोकप्रिय हैं कि उन्हें पाकिस्तान में ही चुनाव लड़ना चाहिए। इस्लामाबाद में पाकिस्तानी के टीवी चैनल पीटीवी सिद्धू की प्रतिक्रिया ले रहे थे, इस दौरान सिद्धू के साथ पीटीआई सीनेटर फैसल जावेद ने कहा इतना कमाल है कि अब हम सोच रहे हैं कि ये इलेक्शन यहां से लड़ें। तने पॉपुलर हैं ये मोहब्बतें हैं। मसले बैठकर टेबल पर हल करेंगे। सिद्धू भाई का जो पैगाम है। बहुत पॉजिटिव है। इस्लामाबाद में नवजोत सिंह सिद्धू का गर्मजोशी से स्वागत किया। इस मौके पर सिद्धू अपने शायराना अंदाज में नजर आए। उन्होंने कहा कि कुछ खान साहब जैसे होते हैं वो इतिहास बनाया करते हैं। सिद्धू ने कहा कि पाकिस्तान को लेकर दुनिया में बनें परसेप्शन को बदलने की जरूरत है।
बाजवा सिद्धू से गले मिले और दोनों ने की संक्षिप्त बातचीत
बता दें कि शपथ ग्रहण समारोह के दौरान सिद्धू को पहली पंक्ति में जगह दी गई थी। समारोह में पहुंचने के साथ ही पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा पहली पंक्ति के पास गये जहां सिद्धू अन्य अतिथियों के साथ बैठे थे। सिद्धू की साथ वाली कुर्सी पर पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर के राष्ट्रपति मसूद खान बैठे थे जनरल बाजवा सिद्धू से गले मिले और दोनों ने संक्षिप्त बातचीत की। दोनों मुस्कुरा रहे थे। बातचीत करने के बाद दोनों फिर से गले मिले।
प्यार और दुआओं का संदेश लेकर आया हूं
सिद्धू ने कहा मैं अपने दोस्त (इमरान) के आमंत्रण पर पाकिस्तान आया हूं। यह बहुत महत्वपूर्ण क्षण है। उन्होंने कहा खिलाड़ी और कलाकार दूरियां मिटाते हैं। मैं यहां प्यार का संदेश और पाकिस्तान के लिए दुआएं लेकर आया हूं। इमरान खान की अगुआई वाली सरकार का स्वागत करते हुए उन्होंने नारे लगाए। हिंदुस्तान जीवे, पाकिस्तान जीवे। मालूम हो कि इमरान खान ने निजी संबंधों के आधार पर सिद्धू, सुनील गावस्कर और कपिल देव को आमंत्रित किया था। हालांकि कपिल देव और गावस्कर शपथग्रहण समारोह में नहीं गए।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

मुख्य समाचार

2 मोटरसा​इकिलों की टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल, 4 की हालत गंभीर

जामुड़िया : केंदा फांड़ी अंतर्गत तपसी के भूत बांग्ला के पास तेज गति से आ रही 2 मोटर साइकिलों में आमने-सामने हुई टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल हो गये जिसमें 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही [Read more...]

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

ऊपर