लोकतंत्र के लिये शुभ संकेत नहीं है भाजपा की मनमानी : अखिलेश

लखनऊ : समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि सत्ता में आने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मनमानी करने लगी है, यह लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है। बुधवार को यहां लखनऊ विश्वविद्यालय छात्र संघ के दल को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि भाजपा शासन में छात्रों का उत्पीड़न हो रहा है। नौजवानों को रोजगार देने का वादा सिर्फ धोखा साबित हुआ है। समाजवाद आयेगा। सत्ता में आकर भाजपा मनमानी करने लगी है, यह लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है। सपा गरीबों, किसानों और नौजवानों की हितैषी पार्टी हैं। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) की छात्राओं का उत्पीड़न हुआ है। छात्राओं ने कोई बड़ी मांग नहीं रखी थी। उन्हें सुरक्षा चाहिए थी। उन्होंने कहा कि भाजपा का एजेण्डा विकास नहीं है। समाज को अंधकार में धकेला जा रहा है। रोजगार और विकास से भविष्य का रास्ता खुलता है। समाजवादी सरकार में मेडिकल कालेज खुले, एमबीबीएस की सीटें बढ़ी। भाजपा के समय सड़क के काम बंद है। भाजपा जातिवादी और संकीर्णता की राजनीति करती है। समाजवादी पार्टी जातिवाद के विरुद्ध है और लोकतांत्रिक मूल्यों की पक्षधर है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

ईशा अंबानी की इटली में आज सगाई

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार मुकेश अंबानी के घर एक बार फिर सगाई की [Read more...]

आतंकियों ने 3 पुलिसकर्मियों को अगवा कर की हत्या

श्रीनगरः पाक फौज द्वारा बीएसएफ जवान की बर्बर हत्या के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने शुक्रवार तड़के शोपियां जिले में 3 पुलिसकर्मियों को अगवा कर उनकी हत्या कर दी। पुलिसकर्मियों के तलाशी अभियान के दौरान तीनों शव कापरन गांव से [Read more...]

मुख्य समाचार

भारत में राफेल पर रार, डेप्युटी एयर मार्शल रघुनाथ ने उड़ाया लड़ाकू विमान

नयी दिल्ली : देश में एक तरफ राफेल विमान के सौदे को लेकर राजनीतिक युद्ध छिड़ा हुआ है वहीं दूसरी तरफ वायुसेना 36 राफेल विमानों को बेडे़ में शामिल करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। भारतीय वायु सेना [Read more...]

श्रीकांत का अभियान मोमोटा से हारकर खत्म

चांगजूः भारतीय शटलर किदाम्बी श्रीकांत का अभियान 10 लाख डालर इनामी राशि के चाइना ओपन बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में मौजूदा विश्व चैम्पियन केंटो मोमोटा से हारकर खत्म हो गया। [Read more...]

ऊपर