राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए चार सदस्यों को किया मनोनीत

नई दिल्लीः राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस साल राज्यसभा में खाली हुई चार सीटों के लिए चार लोगों को नामित कर दिया है। इन चारों में से लेखक राकेश सिन्हा, उत्तर प्रदेश से बीजेपी के पूर्व दलित सांसद और किसान नेता राम सकल सिंह, मूर्तिकार रघुनाथ महापात्रा और क्लासिकल डांसर सोनल मानसिंह शामिल है। यह जो सीटें खाली हुई है वो फिल्म, सामाजिक कार्य और कानून से जुड़े हैं। यूपीए सरकार ने फिल्म से रेखा, खेल से सचिन तेंदुलकर, सामाजिक कार्य और कानून से जुड़े हैं। यूपीए सरकार ने फिल्म से रेखा, खेल से सचिन तेंदुलकर, सामाजिक क्षेत्र से अनु आगा और कानून से के पराशरन का मनोनीत कराया था। इन्हीं चारों की जगह पर राष्ट्रपति ने ये नए चेहरे मनोनीत किए।
सरकार ने सभी नामों को भेजा था राष्ट्रपति के पास
सरकार ने इन सभी नामों का चुनाव कर राष्ट्रपति के पास भेजा था जिसके बाद कोविंद ने इन नामों पर अपनी मुहर लगा दी। बता दें कि राकेश सिन्हा को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचार के तौर पर जाना जाता है। मानसून सत्र से पहले इन चारों मनोनयन को काफी अहम माना जा रहा है क्योंकि राज्यसभा में बीजेपी के पास बहुमत नहीं है, जबकि सरकार को मानसून सत्र में संसद से करीब दर्जन भर अहम विधेयकों को पास कराने की चुनौती है।
राष्ट्रपति ने कला, संस्कृति, शिक्षा और सामाजिक कार्य कोटे से किया मनोनीत
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार (14 जुलाई) को चार लोगों को राज्यसभा के लिए मनोनीत किया है। मनोनीत होने वालों में दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर, लेखक और टीवी चैनलों पर संघ और बीजेपी की पैरवी करने वाले डॉ. राकेश सिन्हा, मशहूर मूर्तिकार-शिल्पकार पद्म विभूषण रघुनाथ महापात्रा, मशहूर शास्त्रीय नृत्यांगना सोनल मान सिंह और उत्तर प्रदेश से बीजेपी के पूर्व दलित सांसद और किसान नेता राम सकल सिंह शामिल हैं। राष्ट्रपति ने ये मनोनयन कला, संस्कृति, शिक्षा और सामाजिक कार्य कोटे से की हैं। राष्ट्रपति ने ये मनोनयन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सलाह पर की है। क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, बॉलीवुड अभिनेत्रा रेखा, बिजनेस वुमेन अनु आगा और पूर्व एटॉर्नी जनरल के पराशरन के रिटायरमेंट से ये सीटें खाली हुई थीं।
मानसून से पहले मनोनयन माना जा रहा अहम
मानसून सत्र से पहले इन चारों मनोनयन को काफी अहम माना जा रहा है क्योंकि राज्यसभा में बीजेपी के पास बहुमत नहीं है, जबकि सरकार को मानसून सत्र में संसद से करीब दर्जन भर अहम विधेयकों को पास कराने की चुनौती है। बता दें कि अगले हफ्ते 18 जुलाई से संसद का मानसून सत्र शुरू होने जा रहा है। इस दौरान सरकार को सबसे पहले उप सभापति के चुनाव में विपक्षी एकता का सामना करना होगा। मौजूदा उप सभापति पी जे कूरियन का कार्यकाल 30 जून को समाप्त हो चुका है। बीजेपी के पास फिलहाल सदन में 69 है जबकि उसके सहयोगियों के पास मात्र 24 सांसद ही हैं।
चारों मनोनीत सदस्य
राकेश सिन्हा: ये दिल्ली यूनिवर्सिटी के तहत मोतीलाल नेहरू कॉलेज में प्रोफेसर हैं। इसके अलावा दिल्ली स्थित थिंक टैंक ‘इंडिया पॉलिसी फाउंडेशन’ के संस्थापक और निदेशक हैं। ये लेखक और स्तंभकार हैं। इन्हें अक्सर टीवी चैनलों पर होने वाले डिबेट में संघ और बीजेपी की पैरवी करते हुए देखा जाता है। मौजूदा समय में ये इंडियन काउंसिल ऑफ सोशल साइंस रिसर्च के सदस्य भी हैं।
रघुनाथ महापात्रा: महापात्र मशहूर मूर्तिकार और शिल्पकार हैं। इन्हें पद्म श्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण अलंकरण मिल चुका है। पारंपरिक स्थापत्य और धरोहरों के संरक्षण में इनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने श्री जगन्नाथ मंदिर, पुरी के सौदर्यीकरण कार्य में हिस्सा लिया। उनके प्रसिद्ध कार्यो में छह फुट लम्बे भगवान सूर्य की संसद के सेंट्रल हाल में स्थित प्रतिमा और पेरिस में बुद्ध मंदिर में लकड़ी से बने बुद्ध हैं।
राम सकल सिंह: उत्तर प्रदेश के राम सकल सिंह ने दलित समुदाय के कल्याण एवं बेहतरी के लिये काम किया है। एक किसान नेता के रूप में उन्होंने किसानों, श्रमिकों के कल्याण के लिये काम किया। वे तीन बार सांसद रहे और उत्तर प्रदेश के राबर्ट्सगंज का प्रतिनिधित्व किया था ।
सोनल मान सिंह: ये मशहूर भरतनाट्यम और ओडिसी नृत्यांगना हैं। छह दशकों से इन्होंने इस क्षेत्र में योगदान दिया है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

सुप्रीम कोर्ट ने पलटा सिरीसेना का फैसला, नहीं होंगे चुनाव

कोलंबो : श्रीलंका के सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना के संसद भंग करने के फैसले को निरस्त कर दिया है। इसके अलावा सिरीसेना की ओर से मध्यावधि चुनाव की तैयारियों पर भी रोक लगा दी है। आपको बता दें [Read more...]

अमेरिका ने ईरान को फिर धमकाया

सिंगापुर : ईरान पर प्रतिबंधों को लेकर एक बार फिर अमेरिका का बड़ा बयान आया है। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कहा है कि उनका देश ईरान को इतना निचोड़ देगा कि उसके अंदर केवल गुठली ही [Read more...]

मुख्य समाचार

सुप्रीम कोर्ट ने पलटा सिरीसेना का फैसला, नहीं होंगे चुनाव

कोलंबो : श्रीलंका के सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना के संसद भंग करने के फैसले को निरस्त कर दिया है। इसके अलावा सिरीसेना की ओर से मध्यावधि चुनाव की तैयारियों पर भी रोक लगा दी है। आपको बता दें [Read more...]

अमेरिका ने ईरान को फिर धमकाया

सिंगापुर : ईरान पर प्रतिबंधों को लेकर एक बार फिर अमेरिका का बड़ा बयान आया है। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कहा है कि उनका देश ईरान को इतना निचोड़ देगा कि उसके अंदर केवल गुठली ही [Read more...]

ऊपर