मुख्यमंत्री ने की जन-धन योजना की समीक्षा, दिया आवश्यक निर्देश

रांचीः मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री जन-धन योजना समेत अन्य योजनाओं की समीक्षा बैठक की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र या राज्य सरकार की योजनाओं का पैसा अगर किसी लाभुक के खाते में आता है, तो उस राशि से किसी भी अन्य लोन का पैसा नहीं कटना चाहिए। बैंक के अधिकारी इसे सुनिश्चित करें। अपनी शाखाओं में इसके संबंध में पत्र जारी कर निर्देश दें। राशि जिस योजना के लिए आयी है, उसी में खर्च होनी चाहिए। इसमें किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए।
खाता खोलने के लिए सिर्फ आधार नंबर
उन्होंने कहा कि जन-धन खाता खोलने के लिए गारंटर मांगने की भी काफी शिकायतें आ रही हैं। आधार नंबर ही काफी है खाता खोलने के लिए। ऐसी शिकायत भी अब नहीं मिलनी चाहिए। उन्होंने वित्त विभाग को इस तरह की शिकायतों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी करने का निर्देश दिया। सीएम ने कहा कि आज भी बहुत से गांवों में अब तक जनता को बुनियादी सुविधाएं मुहैया नहीं हो सकी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2022 तक न्यू इंडिया का लक्ष्य दिया है। जहां कोई बेघर न हो, सबके घर शौचालय हो, सबका बैंक खाता हो,सबके चेहरे पर मुस्कान हो और कोई अभाव की जिंदगी न जिये। इसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए राज्य सरकार काम कर रही है।
केंद्र सरकार की सात फ्लैगशिप योजना जून तक करें पूरे
केंद्र सरकार की सात फ्लैगशिप योजनाओं को 6512 गांवों में 15 अगस्त तक शत प्रतिशत लागू करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिला व प्रखंड समन्वयकों की इसमें बड़ी भूमिका है। ब्लॉक कोर्डिनेटर अपने अपने क्षेत्र में पंचायत सचिवालय के लोगों के साथ बैठक कर प्रधानमंत्री जन-धन खाता खोलने, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का लाभ सभी लोगों तक पहुंचाने का काम करें। इसके एवज में पंचायत सचिवालय को प्रोत्साहन राशि दी जायेगी। इसी प्रकार आदिवासी विकास समिति और ग्राम विकास समितियों का गठन किया जा रहा है। अब तक 84 प्रतिशत कमेटियों का गठन किया जा चुका है। इनके भी बैंक खाते खुलाने में मदद करें। जून तक ये सारे काम पूरे कर लें।
हर योजना 100 फीसदी हो
मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीब के लिए सरकार की हर योजना को हम 100 प्रतिशत डीबीटी करने जा रहे हैं, ताकि लोगों को उनका हक सीधा उनके खाते में मिल सके। हमें हर कीमत पर बिचैलिया और भ्रष्टाचार मुक्त भारत और झारखण्ड बनाना है। झारखण्ड के 7 लाख कंस्ट्रक्शन कर्मचारियों में से 5 लाख का ही बीमा है। श्रम अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि हर हाल में 1 महीने के भीतर बचे हुए 2 लाख मजदूरों का बीमा करवाएं। इसके प्रीमियम का भुगतान कंस्ट्रशन बोर्ड में जमा राशि से किया जाये। दिसंबर 2018 तक राज्य की 34 लाख गरीब बहनों को मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन देना है। इसी प्रकार हर घर में बिजली कनेक्शन देना है। ब्लॉक कोऑर्डिनेटर का काम यह सुनिश्चित करना है कि गरीब की योजना गरीब तक पहुंचे। आपको सभी योजनाओं की निगरानी करनी है। इसी प्रकार ओडीएफ, बच्चों व गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण, एलइडी बल्ब का वितरण आदि योजनाओं पर भी नजर रखें।

Leave a Comment

अन्य समाचार

ब्रिटिश गोताखोर ने एलन मस्क पर किया मानहानि मुकदमा

कैलिफोर्नियाः थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने वाले ब्रिटिश गोताखोर वर्नोन अनस्वोर्थ ने अब इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क के खिलाफ 75,000 डॉलर (54 लाख 40 हजार रुपए) का मानहानि का मुकदमा किया है। अनस्वोर्थ [Read more...]

पूर्व सीएफओ से केस हारी इंफोसिस, अब ब्याज सहित देने होंगे 12.17 करोड़

नई दिल्लीः भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस मंगलवार को आर्बिट्रेशन केस हार गई है। अब उसे पूर्व सीएफओ राजीव बंसल को 12.17 करोड़ रुपये और ब्याज चुकाने होंगे। दरअसल, इंफोसिस के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्‍का के कार्यकाल [Read more...]

मुख्य समाचार

तमिलनाडु में भ्रष्टाचार के खिलाफ द्रमुक का प्रदर्शन

चेन्नईः तमिलनाडु की अन्नाद्रमुक सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए विपक्षी द्रमुक ने अपने पार्टी प्रमुख एमके स्टालिन के नेतृत्व में मंगलवार को पूरे राज्य में अन्नाद्रमुक के खिलाफ प्रदर्शन किया। स्टालिन के अलावा, उनके बेटे उदयनिधि, बहन कनिमोझी [Read more...]

तेलंगाना में टीआरएस के लिए भाजपा चुनौती : राव

हैदराबादः भाजपा प्रवक्ता व राज्यसभा सदस्य जीवीएल नरसिम्हा राव ने मंगलवार को कहा कि तेलंगाना में कांग्रेस-तेदेपा गठजोड़ से उसकी चुनावी संभावनाओं में सुधार हुआ और वहां वह खुद को टीआरएस के लिए मुख्य चुनौती मानती है क्योंकि पार्टी अपने [Read more...]

ऊपर