ममता की रैली में उमड़ा जनसैलाब

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सत्ता में दोबारा आने के लिए तृणमूल सुप्रीमो व ममता बनर्जी ने उत्तर कोलकाता में पदयात्रा के साथ ही विधानसभा चुनाव का प्रचार शुरू किया था। गुरुवार को दक्षिण कोलकाता में पदयात्रा कर मुख्यमंत्री ने प्रचार के अंतिम दिन चुनाव प्रचार किया। गरिया से गरियाहाट तक मुख्यमंत्री ममता बनर्जी करीब 6 किलोमीटर तक पैदल चलीं। रैली शुरू होने से पहले मुख्यमंत्री ने मतदाताओं से कहा कि कुछ लोग बाहर से आकर आपको डराने-धमकाने की कोशिश कर रहे हैं मगर किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है। सुबह-सुबह घर से निकल आप जमकर वोट दें। विपक्ष पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग काम नहीं करते वह मिथ्याचार फैलाते रहते हैं। उन्हें पता है कि जनता उन्हें वोट नहीं देगी इसीलिए चुनाव आयोग को जरिया बनाकर धारा 144 लगवाने की कोशिश की गयी है। क्या इसे ही चुनाव प्रक्रिया कहते हैं ? ममता बनर्जी ने कहा कि दक्षिण कोलकाता मेरे लिए हमेशा से ही लकी रहा है। यही वजह है कि मैं यहां हमेशा आती रहती हूं। मुख्यमंत्री ने लोगों के बीच विकासमूलक कार्यों का ब्योरा देते हुए कहा कि सभी उम्मीदवारों ने अपने-अपने क्षेत्र में बेहतरीन व सराहनीय काम किया है। आगे भी काम की गति बरकरार रहे, उसके लिए जनता अपना वोट निर्भय होकर तृणमूल कांग्रेस को दे। मुख्यमंत्री ने लोगों से तृणमूल उम्मीदवारों को वोट देकर जिताने की अपील की। मुख्यमंत्री ने रासबिहारी के उम्मीदवार शोभनदेव चट्टोपाध्याय, जादवपुर के उम्मीदवार मनीष गुप्ता, टॉलीगंज के उम्मीदवार अरूप विश्वास, कसबा के उम्मीदवार जावेद अहमद खान, सोनापुर उत्तर की उम्मीदवार फिरदौसी बेगम समेत दक्षिण 24 परगना के अन्य उम्मीदवारों को भारी वोट देकर जिताने की अपील की। सुकांत सेतु से शुरू हुई पदयात्रा ढाकुरिया ब्रिज, ढाकुरिया होते हुए गरियाहाट से सीधे कुछ दूरी पर खत्म की गयी। इस दौरान रासबिहारी, टॉलीगंज, जादवपुर, बालीगंज व कसबा विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार किया गया। वहां से मुख्यमंत्री ने अपने विधानसभा क्षेत्र भवानीपुर में भी पदयात्रा की। यहां बेलतल्ला से पदयात्रा शुरू करते हुए मुख्यमंत्री हाजरा की गलियों में जाकर लोगों से उन्हें वोट देकर विजयी बनाने की अपील की। मुख्यमंत्री की पदयात्रा में एमएमआईसी देवाशिष कुमार, रतन दे, देवव्रत मजुमदार, बोरो चेयरमैन सुशांत घोष, वैश्वानर चट्टोपाध्याय, अरूप चक्रवर्ती, तारकेश्वर चक्रवर्ती, बप्पादित्य दासगुप्ता समेत भारी संख्या में तृणमूल के नेता व समर्थक मौजूद थे।

Leave a Comment

अन्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

मुख्य समाचार

2 मोटरसा​इकिलों की टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल, 4 की हालत गंभीर

जामुड़िया : केंदा फांड़ी अंतर्गत तपसी के भूत बांग्ला के पास तेज गति से आ रही 2 मोटर साइकिलों में आमने-सामने हुई टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल हो गये जिसमें 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही [Read more...]

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

ऊपर