ब्रजेश ने किया नया खुलासा, न्यायाधीश ब्रजेश बालिका गृह में आते थे, मैं निर्दोष हूं

ब्रजेश ने कहा कि कांग्रेस के टिकट से चुनाव लड़ना था

मुजफ्फरपुरः मुजफ्फपुर बालिका गृह यौन मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर पेशी के दौरान पॉक्सो कोर्ट जाते हुए अपने को बेकसूर कहते हुए कहा कि वह मुजफ्फपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ना चाहता था और यह लगभग फाइनल भी हो गया था। लेकिन विरोधियों ने साजिश रच मुझे फंसाया गया है। कहा कि बालिका गृह की किसी लड़की ने मेरे खिलाफ कुछ नहीं कहा है।
ब्रजेश ने कहा कि मंजू वर्मा के साथ मेरे संबंध रहे
ब्रजेश ने समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा व उनके पति से गहरा संबंध होने से इन्कार किया। मंत्री के पति से राजनीति के मुद्दे पर बात होती थी। उसने मधु से भी किसी तरह के संबंध होने से इन्कार किया। उसने यह कबूल किया कि मंत्री मंजू वर्मा के साथ मेरे सम्बंध रहे हैं, लेकिन सिर्फ व्यावहारिक। वह मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ना चाह रहा था। इसकी तैयारी भी करीब-करीब कर ली थी। ब्रजेश के इस बयान से राजनीति पारा और गरम हो गया है। साथ ही उसने यह भी कहा कि बच्चियों के मेडिकल में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई हैं।
कांग्रेस ने दी सफाई, मेरा ब्रजेश से कोई संबंध नहीं
बिहार कांग्रेस ने ब्रजेश से किसी भी तरह के संबंध से साफ इंकार किया है। बिहार कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि ब्रजेश की फंडिंग सरकार कर रही थी। मंत्री मंजू वर्मा और उनके पति से उसकी बात होती थी और वह चुनाव कांग्रेस से लड़ना चाहता था। ब्रजेश के हवाले यह पठकथा कौन लिख रहा है बीजेपी या जदयू? ब्रजेश को यह बताना चाहिये कांग्रेस में उनके किसके साथ संबंध हैं। कादरी ने दोहराया कि मुजफ्फपुर मसले पर कांग्रेस बड़ा आंदोलन खड़ा करेगी।
न्यायाधीश ब्रजेश आते थे बालिका गृह
मेरा फरार मधु के साथ कोई रिश्ता नहीं है। बालिका गृह की एक भी लड़कियों ने मेरा नाम नहीं लिया है, आप खुद भी चेक कर सकते हैं। वहीं ब्रजेश ने इस मामले में एक न्यायाधीश के नाम को भी सामने ला दिया है। पेशी के दौरान कोर्ट लाए गए ब्रजेश ने कहा कि उसके नाम के एक न्यायाधीश बालिका गृह आते थे। लड़कियां उन्हें ही हंटर वाले अंकल कह रहीं। मुख्य आरोपी के इन दो बयानों से मामला और गरमा गया है।
महिला ने ब्रजेश पर फेंकी काली स्याही
इस बीच कोर्ट हाजत से पेशी के लिए ले जाए जा रहे ब्रजेश के मुंह पर महिलाओं ने कालिख पोत दी। इससे कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गई। एक महिला को हिरासत में लिया गया है। जब उसे कोर्ट में ले जाया जा रहा था, तो लोग हाजत के बाहर हाय-हाय का नारा लगा रहे थे। बालिका गृह यौनशोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत 10 आरोपियों को बुधवार को पेशी के लिए मुजफ्फरपुर कोर्ट लाया गया जहां पॉक्सो कोर्ट में सभी की पेशी हुई है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

भारत में गाय के गोबर से बिजली बनाएगी दो विदेशी कंपनियां

कोलकाताः देश में अभी तक बायोगैस आधारित संयंत्रों को लेकर खास लोकप्रियता नहीं मिल सकी है, लेकिन कुछ विदेशी कंपनियां देश में गाय के गोबर से बिजली बनाने के अवसर तलाश रही है। इस विषय में पोलैंड की एक [Read more...]

राफेल विवाद में नया मोड़ः अब फ्रांस के राष्ट्रपति और भारतीय उप सेना प्रमुख ने दिया बड़ा बयान

न्यूयॉर्क/नई दिल्लीः राफेल डील पर भारत में रार बढ़ गया है। विपक्षी पार्टियों ने इस डील पर कई सवाल उठाए है। अब इस मुद्दे पर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने जवाब दिया है। हालांकि उन्होंने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र [Read more...]

मुख्य समाचार

चुनाव में भाजपा विरोधी दलों का बिना शर्त समर्थन करूंगा : शंकर सिंह वाघेला

दिल्ली : गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला ने मोदी सरकार पर चुनाव पूर्व किये गये वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि वह अगले चुनाव में इस सरकार को दुबारा सत्ता में आने से [Read more...]

कृपानाथ मल्लाह असम विधानसभा के उपाध्यक्ष निर्वाचित

गुवाहाटी : भारतीय जनता पार्टी के विधायक कृपानाथ मल्लाह को बुधवार को सर्वसम्मति से असम विधानसभा का उपाध्यक्ष निर्वाचित किया गया। विधानसभा के अध्यक्ष हितेंद्र नाथ गोस्वामी ने सदन में कृपानाथ मल्लाह को उपाध्यक्ष चुने जाने की घोषणा की। गोस्वामी ने [Read more...]

ऊपर