ब्रजेश ने किया नया खुलासा, न्यायाधीश ब्रजेश बालिका गृह में आते थे, मैं निर्दोष हूं

ब्रजेश ने कहा कि कांग्रेस के टिकट से चुनाव लड़ना था

मुजफ्फरपुरः मुजफ्फपुर बालिका गृह यौन मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर पेशी के दौरान पॉक्सो कोर्ट जाते हुए अपने को बेकसूर कहते हुए कहा कि वह मुजफ्फपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ना चाहता था और यह लगभग फाइनल भी हो गया था। लेकिन विरोधियों ने साजिश रच मुझे फंसाया गया है। कहा कि बालिका गृह की किसी लड़की ने मेरे खिलाफ कुछ नहीं कहा है।
ब्रजेश ने कहा कि मंजू वर्मा के साथ मेरे संबंध रहे
ब्रजेश ने समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा व उनके पति से गहरा संबंध होने से इन्कार किया। मंत्री के पति से राजनीति के मुद्दे पर बात होती थी। उसने मधु से भी किसी तरह के संबंध होने से इन्कार किया। उसने यह कबूल किया कि मंत्री मंजू वर्मा के साथ मेरे सम्बंध रहे हैं, लेकिन सिर्फ व्यावहारिक। वह मुजफ्फरपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ना चाह रहा था। इसकी तैयारी भी करीब-करीब कर ली थी। ब्रजेश के इस बयान से राजनीति पारा और गरम हो गया है। साथ ही उसने यह भी कहा कि बच्चियों के मेडिकल में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई हैं।
कांग्रेस ने दी सफाई, मेरा ब्रजेश से कोई संबंध नहीं
बिहार कांग्रेस ने ब्रजेश से किसी भी तरह के संबंध से साफ इंकार किया है। बिहार कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि ब्रजेश की फंडिंग सरकार कर रही थी। मंत्री मंजू वर्मा और उनके पति से उसकी बात होती थी और वह चुनाव कांग्रेस से लड़ना चाहता था। ब्रजेश के हवाले यह पठकथा कौन लिख रहा है बीजेपी या जदयू? ब्रजेश को यह बताना चाहिये कांग्रेस में उनके किसके साथ संबंध हैं। कादरी ने दोहराया कि मुजफ्फपुर मसले पर कांग्रेस बड़ा आंदोलन खड़ा करेगी।
न्यायाधीश ब्रजेश आते थे बालिका गृह
मेरा फरार मधु के साथ कोई रिश्ता नहीं है। बालिका गृह की एक भी लड़कियों ने मेरा नाम नहीं लिया है, आप खुद भी चेक कर सकते हैं। वहीं ब्रजेश ने इस मामले में एक न्यायाधीश के नाम को भी सामने ला दिया है। पेशी के दौरान कोर्ट लाए गए ब्रजेश ने कहा कि उसके नाम के एक न्यायाधीश बालिका गृह आते थे। लड़कियां उन्हें ही हंटर वाले अंकल कह रहीं। मुख्य आरोपी के इन दो बयानों से मामला और गरमा गया है।
महिला ने ब्रजेश पर फेंकी काली स्याही
इस बीच कोर्ट हाजत से पेशी के लिए ले जाए जा रहे ब्रजेश के मुंह पर महिलाओं ने कालिख पोत दी। इससे कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गई। एक महिला को हिरासत में लिया गया है। जब उसे कोर्ट में ले जाया जा रहा था, तो लोग हाजत के बाहर हाय-हाय का नारा लगा रहे थे। बालिका गृह यौनशोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत 10 आरोपियों को बुधवार को पेशी के लिए मुजफ्फरपुर कोर्ट लाया गया जहां पॉक्सो कोर्ट में सभी की पेशी हुई है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

पूर्व सीएफओ से केस हारी इंफोसिस, अब ब्याज सहित देने होंगे 12.17 करोड़

नई दिल्लीः भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस मंगलवार को आर्बिट्रेशन केस हार गई है। अब उसे पूर्व सीएफओ राजीव बंसल को 12.17 करोड़ रुपये और ब्याज चुकाने होंगे। दरअसल, इंफोसिस के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्‍का के कार्यकाल [Read more...]

भारतीय स्पिनरों के सामने होंगे पाकिस्तान के तेज गेंदबाज, कौन पड़ेगा भारी ?

नई दिल्लीः पूरी दुनिया में फैले क्रिकेट के प्रशंसकों को इंतजार है 19 सितंबर का जब एशिया कप में भारत का सामना चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से होगा। सदियों से पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मैदान मारने की कोशिश करते हैं। वहीं [Read more...]

मुख्य समाचार

तमिलनाडु में भ्रष्टाचार के खिलाफ द्रमुक का प्रदर्शन

चेन्नईः तमिलनाडु की अन्नाद्रमुक सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए विपक्षी द्रमुक ने अपने पार्टी प्रमुख एमके स्टालिन के नेतृत्व में मंगलवार को पूरे राज्य में अन्नाद्रमुक के खिलाफ प्रदर्शन किया। स्टालिन के अलावा, उनके बेटे उदयनिधि, बहन कनिमोझी [Read more...]

तेलंगाना में टीआरएस के लिए भाजपा चुनौती : राव

हैदराबादः भाजपा प्रवक्ता व राज्यसभा सदस्य जीवीएल नरसिम्हा राव ने मंगलवार को कहा कि तेलंगाना में कांग्रेस-तेदेपा गठजोड़ से उसकी चुनावी संभावनाओं में सुधार हुआ और वहां वह खुद को टीआरएस के लिए मुख्य चुनौती मानती है क्योंकि पार्टी अपने [Read more...]

ऊपर