बुराड़ी के बाद अब हजारीबाग, एक ही परीवार के 6 सदस्यों की मौत

हजारीबागः अब झारखंड की राजधानी रांची से 90 किमी दूर हजारीबाग में दिल दहला देने वाली घटना हुई है। रविवार सुबह सदर थाना क्षेत्र के खजांची तालाब के पास एक फ्लैट से एक ही परिवार के 6 सदस्यों की संदिग्ध अवस्था में लाश बरामद की गई। शुरुआती जांच में इसे सामूहिक आत्महत्या माना जा रहा है, लेकिन पुलिस हत्या की आशंका से भी इन्कार नहीं कर रही है।
किसी के गले में फंदा तो कोई बिल्डिंग के नीचे
मृतकों की पहचान महावीर महेश्वरी (70 वर्ष), उनकी पत्नी किरण देवी (65 वर्ष), बेटा नरेश अग्रवाल (40 वर्ष), उनकी पत्नी प्रीति अग्रवाल (38 वर्ष), नरेश का बेटा अमन (10 वर्ष) और बेटी अन्वी (8 वर्ष) के रूप में की गई। छह में से दो ने फांसी लगाकर जान दी। एक बच्चे की गला रेतकर हत्या कर दी गई, जबकि बच्ची को जहर देकर मारा गया है। घर की महिला की गला दबाकर हत्या की गई है। वहीं, बिल्डिंग के नीचे कैम्पस में छठे शख्स की लाश मिली है। ऐसा माना जा रहा है कि परिवार के बाकी सदस्यों की मौत के बाद अंत में नरेश अग्रवाल ने कूदकर जान दे दी।
तीन सुसाइड नोट बरामद
पुलिस को फ्लैट से लिफाफे में बंद तीन सुसाइड नोट भी बरामद हुए हैं, जो किसी गणित के फॉर्मूले की तरह लिखे गए हैं। लिफाफे के ऊपर लिखा है- अमन को लटका नहीं सकते थे, इसलिए उसकी हत्या कर दी। इसके अलावा एक पावर ऑफ एटॉर्नी भी बरामद हुआ है।
सास-बहू की लाश एक कमरे में
किरण माहेश्वरी और उनकी बहू प्रीति का शव एक कमरा में मिला है, जबकि दूसरे कमरे में महावीर और उनके पोते अमन का शव मिला। नरेश की तीन साल की बेटी अन्वी का शव बरामदे में पड़ा मिला। जबकि नरेश अग्रवाल का शव बिल्डिंग के नीचे कम्पाउंड में मिला।
नरेश डिप्रेशन में थे, इलाज चल रहा था
पुलिस के अनुसार, महावीर का यह परिवार काफी सालों से हजारीबाग में रह रहा था। यहां सीडीएम अपार्टमेंट के तीसरी मंजिल पर उनका फ्लैट है। उनके बेटे नरेश का हजारीबाग में ड्राई फ्रूट्स का कारोबार करता था। नरेश काफी डिप्रेशन में थे। उनके चचेरे भाई देवेश अग्रवाल ने बताया कि उनका रांची में इलाज भी चल रहा था। करीब दो महीने पहले पूरा परिवार तीर्थ पर भी गया था।
50 लाख रुपए मार्केट में फंसे थे
सुबह अपार्टमेंट के नीचे नरेश की लाश मिली तो लोग भागकर उनके फ्लैट में पहुंचे। दरवाजा खुला हुआ था। अंदर जाने पर पांच लोगों के शव नजर आए। देवेश ने बताया कि नरेश के करीब 50 लाख रुपए मार्केट में फंसे थे, जो वापस नहीं मिल रहे थे। लिहाजा, उन पर काफी कर्ज हो गया था।

Leave a Comment

अन्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

रेवाड़ी गैंगरेपः 10 दिन बाद सेना के जवान समेत 2 आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्लीः रेवाड़ी गैंगरेप मामले में 10 दिन से फरार चल रहे एक सेना का जवान समेत 2 आरोपी पकड़ लिए गए हैं। ये दोनों आरोपी इस दुष्कर्म कांड में शामिल थे। इनमें से गिरफ्तार पंकज आर्मी में तैनात है। [Read more...]

मुख्य समाचार

गम में डूबा व गुस्से उबल रहा है इस्लामपुर

भाजपा ने दिया मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रु. इस्लामपुर : अपने इलाके दो छात्रों को गोलियों से मरते हुए देख इस्लामपुर गम और गुस्से में उबल रहा है। प्रशासन के खिलाफ लोगों का जबर्दस्त गुस्सा है। इसका कोपभाजन सत्ताधारी [Read more...]

ब्रेकिंग न्यूजः काकद्वीप में निर्माणाधीन पुल ढहा

एक महीने में ब्रिज गिरने की तीसरी घटना काकद्वीपः दक्षिण 24 परगना : सोमवार की सुबह काकद्वीप में निर्माणाधीन पुल ढह गया। इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। इस घटना को लेकर डीएम वाई रत्नाकर ने [Read more...]

ऊपर