बारिश का कहर : बाढ़ व भूस्खलन से 774 मृत

केरल में 94 साल हुई इतनी बारिश 
नयी दिल्ली/शिमला/तिरूअनंतपुरमः गृह मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक मानसून के इस मौसम में बाढ़ और बारिश से जुड़ी घटनाओं में अब तक 774 से अधिक लोगों की मौत हो गयी।
केरल में 187, उत्तरप्रदेश में 171, पश्चिम बंगाल में 170, महाराष्ट्र में 139, गुजरात में 52, असम में 45, हिमाचल प्रदेश में 16 और नगालैंड में 8 लोगों की जान गयी तथा बारिश से जुड़ी घटनाओं में 245 लोग जख्मी हुए। केरल में 22 और पश्चिम बंगाल में 5 लोग लापता हैं। बारिश और बाढ़ की विभीषिका से महाराष्ट्र के 26, असम के 23, पश्चिम बंगाल के 22, केरल के 14, उत्तरप्रदेश के 12, हिमाचल और नगालैंड के 11 और गुजरात के 10 से अधिक जिले प्रभावित हुए। कुछ प्रदेशों में राष्ट्रीस आपदा मोचल बल (एनडीआरएफ) की टीम को तैनात किया गया है।
केरल में 5 दिन से जारी बारिश-बाढ़ की वजह से 8316 करोड़ रुपये की संपत्ति का नुकसान हुआ और 10000 किलोमीटर से ज्यादा सड़कें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयीं। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार तक वहां बारिश से राहत की उम्मीद नहीं है। राज्य में 94 साल बाद वहां सर्वाधिक बारिश हुई है। मौसम अधिकारियों ने मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी और कहा कि केरल और लक्षद्वीप के तटों पर 35-45 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है और इसकी गति 60 किलोमीटर तक जा सकती है।
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित इडुक्की और एर्नाकुलम जिलों का हवाई सर्वेक्षण कर कहा कि स्थिति ‘बहुत गंभीर’ है। उन्होंने केंद्रीय राहत के रूप में तत्काल 100 करोड़ रुपये देने का एलान किया।
हिमाचल प्रदेश में भी 2 दिनों से हो रही भारी बारिश से तबाही का मंजर देखने को मिला। बारिश और भूस्खलन के कारण पूरा प्रदेश बेपटरी हो गया और जनजीवन अस्तव्यस्त है, कई राष्ट्रीय राजमार्ग बंद हैं। राज्य के 11 जिलों में स्कूलों में छुट्टी का ऐलान कर दिया गया।
जम्मू-कश्मीर और उत्तराखंड में भी आम जनजीवन पर असर पड़ा। जम्मू-श्रीनगर में राष्ट्रीय राजमार्ग बंद कर दिया गया।

उत्तराखंड में बारिश की चेतावनी 
मौसम विभाग ने सोमवार को अगले 24 घंटों में उत्तराखंड के 8 जिलों, देहरादून, टिहरी, पौड़ी, चमोली, नैनीताल, उधमसिंह नगर, चंपावत और पिथौरागढ़ में बारिश की चेतावनी जारी की। पर्वतीय क्षेत्रों में जाने वाले यात्रियों तथा मैदानी क्षेत्रों के निचले स्थानों में रहने वाले लोगों सावधान रहने की सलाह दी गयी।
शाह की शिमला यात्रा रद्द 
हिमाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने बताया कि राज्य में भारी बारिश से जान-माल की हानि हुई है जिस वजह से भाजपाध्यक्ष अमित शाह की गुरुवार को प्रस्तावित शिमला की एक दिवसीय यात्रा को रद्द करने का फैसला किया गया। उन्हें पीटरहॉफ में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करना था।
उन्होंने कहा कि शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं को सामान्य हालत बहाल करने में प्रशासन की मदद करने का निर्देश दिया।

ओडिशा में सतर्कता के निर्देश 
बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दवाब के क्षेत्र के चलते ओडिशा सरकार ने मंगलवार से गुरुवार तक राज्य के लगभग सभी जिलों में भारी बारिश के पूर्वानुमान को देखते हुए संभावित बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए सभी जिला कलेक्टरों को सतर्क रहने को कहा। अगले 72 घंटे के दौरान सभी मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गयी।

Leave a Comment

अन्य समाचार

तीन महीने तक भारत नहीं आ सकता : चोकसी

मुंबई : पंजाब नेशनल बैंक में हुए घोटाले के मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी ने कहा है कि वह तीन महीने तक भारत नहीं आ सकते हैं। आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोर्ट से चोकसी को भगोड़ा आर्थिक [Read more...]

14 करोड़ के चादर और कंबल चुरा ले गये एसी कोच के यात्री : रेलवे

नई दिल्ली : यात्रियों की गंदी हरकत से परेशान रेलवे एसी कोच में दी जाने वाली सुविधाओं में कमी करने का मन बना रहा है। दरअसल देशभर में रेलवे के एसी कोच से तौलिया, चादर और कंबल चोरी हो रहे [Read more...]

मुख्य समाचार

सरकारी अस्पताल में पहला हृदय प्रत्यारोपण

कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के डॉक्टरों ने की सफल सर्जरी कोलकाताः कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल ने देश में पहले किसी भी [Read more...]

हिन्दी पर हुई बात, तो रुकी हर धड़कन…

हिन्दी के पक्ष व विपक्ष में बोले दिग्गज ‘हिंदी ने देश को बांधा कम, बांटा अधिक’ विषय पर वाद-विवाद 2018 का आयोजन [Read more...]

ऊपर