बंगाल में लोकतांत्रिक मूल्यों का हो रहा हननःकेंद्रीय मंत्री

 

पुरुलिया में भाजपा कर्मी की हत्या निंदनीय
कोलकाताः केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने शनिवार को कहा कि बंगाल में लोकतांत्रिक मूल्यों का हनन हो रहा है। राज्य सरकार लोगों के विचारों को दबाने का प्रयास कर रही है। राज्य में हाल ही में संपन्न हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के नामांकन व मतदान के दिए विरोधी दल पर जमकर हिंसा हुई। पुरुलिया में 2 भाजपा कर्मी की हत्या कर दी गई। यह घटना निंदनीय है। हम इस घटना पर संवेदना व्यक्त करते हैं। बंगाल में आम लोगों पर ही अत्याचार हो रहा है। इतिहास गवाह है कि मुसोलिनी और हिटलर जैसे लोगों का अत्याचार भी नहीं टिका। बिहार में आपातकाल के समय आतंकवाद तक नहीं टिका। विचारों की हत्या किसी प्रकार से उचित नहीं है। बंगाल ने देश को जगाया है। वहीं यहीं अब लोगों के स्वतंत्र विचारों पर हमला देखा जा रहा है। इस पर राज्य सरकार को सोचने की आवश्यकता है।
2019 में फिर से नमो सरकारः
एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2019 में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार बनाएगी। विरोधी दलों की हार सुनिश्चित है। केंद्रीय योजनाओं को देखते हुए आम लोग नमो सरकार के पक्ष में अपना मत देंगे।

Leave a Comment

अन्य समाचार

सुषमा का ऐलान : नहीं लड़ेगीं 2019 का चुनाव

नई दिल्ली : मध्यप्रदेश के इंदौर में संवाददाता सम्मेलन के दौरान विदिशा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि - वह वर्ष 2019 में होने वाला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। सुषमा ने [Read more...]

वर्धा में सेना के केंद्रिय आयुध डिपो में धमाका, 6 की मौत कई घायल

वर्धा : महाराष्ट्र के वर्धा जिले में स्थित आर्मी डिपो के पास मंगलवार की सुबह गोला बारूद उतारने के दौरान हुए धमाके में छह लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 लोग घायल हो गए। आपकाे बता दें कि वर्धा [Read more...]

मुख्य समाचार

सुषमा का ऐलान : नहीं लड़ेगीं 2019 का चुनाव

नई दिल्ली : मध्यप्रदेश के इंदौर में संवाददाता सम्मेलन के दौरान विदिशा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा सांसद और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि - वह वर्ष 2019 में होने वाला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। सुषमा ने [Read more...]

स्थानीय निकायों को अधिकार से कम होगीं घरों की कीमतें

नयी दिल्लीः स्थानीय निकायों को 20 से 50 हजार वर्ग मीटर की परियोजनाओं से जुड़े हरित नियमों के अनुपालन का अधिकार दिए जाने के सरकार के फैसले से इनकी मंजूरी की प्रक्रिया तेज होगी। इससे घरों के दाम भी घटेंगे। [Read more...]

ऊपर