पुराने फार्मूले के तहत विकलांगता पेंशन पायेंगे सशस्‍त्र बल के रक्षा कर्मी

नयी दिल्ली : स्लैब आधारित विकलांगता पेंशन शुरू करने पर आलोचना से घिर जाने के बाद रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि सशस्त्र बल के कर्मी तब तक प्रतिशत आधार पर ऐसा पेंशन पाते रहेंगे जब तक विसंगति समिति इस मुद्दे पर अपनी रिपोर्ट पेश नहीं कर देती। तीस सितंबर को जारी एक पत्र को लेकर विपक्षी दलों एवं सैन्य प्रतिष्ठान सरकार की आलोचना हो रही है। इस पत्र के माध्यम से रक्षाबलों का विकलांगता पेंशन तय करने के लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिश के अनुसार स्लैब आधारित व्यवस्था शुरू की गयी। आलोचना के बाद रक्षा मंत्रालय ने इस मामले को विसंगति समिति के पास भेज दिया। हालांकि इस बात को भ्रम थी कि कौन सी व्यवस्था विकलांगता पेंशन तय करने के लिए उपयोग में लायी जाएगी। रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि जब तक समिति रिपोर्ट लेकर नहीं आती तब तक वर्तमान प्रतिशत प्रणाली ही विकलांगता पेंशन तय करने के लिए उपयोग में लायी जाएगी। पहले रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि सातवें वेतन आयोग ने विकलांगता पेंशन तय करने के लिए स्लैब आधारित प्रणाली की सिफारिश की थी जिसे सरकार ने स्वीकार कर लिया था। छठवें वेतन आयोग के तहत रक्षाकर्मियों एवं नागरिक कर्मियों का विकलांगता पेंशन तय करने के लिए प्रतिशत आधारित प्रणाली का पालन किया जाता था। सैन्यकर्मी जिस बात को लेकर परेशान हैं वह यह है कि नागरिक कर्मचारी पिछले प्रतिशत प्रणाली के हिसाब से पेंशन पाते रहेंगे जिसका तात्पर्य है कि नागरिक कर्मचारी अपने सैन्य समकक्ष की तुलना में उच्च विकलांगता पेंशन पाएगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

मप्र, छत्तीसगढ़ और राजस्थान विस चुनाव लड़ेगी सवर्ण समाज पार्टी

रीवाः अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम और आरक्षण के विरोध में प्रदर्शन की अनेक घटनाओं के बीच सवर्ण समाज पार्टी के अध्यक्ष व मध्यप्रदेश के विंध्य अंचल के प्रमुख लक्ष्मण तिवारी ने कहा कि उनकी पार्टी ने मध्यप्रदेश के 230 [Read more...]

मुख्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

ऊपर