पाक आर्मी चीफ से गले मिलना सिद्धू को पड़ा भारी, भाजपा ने जताया विरोध तो कांग्रेस ने बताया अच्छा कदम

चंडीगढ़ : पाकिस्तान में इमरान खान के प्रधानमंत्री शपथ ग्रहण समारोह में वहां के आर्मी चीफ से पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के गले मिलना गले की हड्डी बनता बन गया है। राजनीतिक गलियारे में सिद्धू पाकिस्तान के आर्मी चीफ बाजवा से गो मिलने का विवाद और गर्मा गया है। वहीं पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने भी सिद्धू के इस काम को बहुत गलत बताया है और उनकी आलोचना की है। अमरिंदर ने कहा कि सिद्धू को ऐसा कतई नहीं करना चाहिए था। विरोधियों के संग पाकिस्‍तानी सेना की बर्बरता के शिकार हुए शहीद सैनिकों के परिजनों ने भी इसके लिए सिद्धू पर निशाना साधा है। पूरे मामले पर पंजाब में राजनीति गर्मा गई है। दूसरी ओर, पाकिस्‍तान से लौटने के बाद सिद्धू ने पूरे मामले पर सफाई दी है। सिद्धू का कहना है कि पाक आर्मी चीफ ने शांति की बात की तो मैंने उनको झप्‍पी दी।
पंजाब के मुख्यमंत्री ने सिद्धू के गले मिलने को नहीं ठहराया सही
वहां से लौटने के बाद सिद्धू ने अटारी बॉर्डर पर खुद को ‘शांतिदूत’ के रूप में पेश करने की कोशिश की। लेकिन विरोधी उनके इमरान खान के समारोह में गुलाम कश्‍मीर के राष्‍ट्रपति के साथ बैठने और पाक सेना के प्रमुख कमर जावेद बाजवा से गले मिलने पर तीखे वार कर रहे हैं। पाकिस्‍तान जाने को लेकर अब तक सिद्धू का समर्थन करने वाले पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने भी उनके पाकिस्‍तान के आर्मी चीफ बाजवा के गले मिलने पर गहरी नाराजगी जताई। कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में सिद्धू उनके मित्र होने के नाते गए थे और इसमें कोई गलत नहीं है। लेकिन, वहां पाकिस्‍तान के आर्मी चीफ से गले मिलना किसी भी तरीके से सही नहीं है।
शहीद सैनिकों के परिजनों ने भी जतायी नाराजगी
दूसरी ओर, पाकिस्‍तानी सैनिकों की बबर्रता के शिकार हुए सैनिक शहीद परमजीत सिंह के परिवार ने भी सिद्धू से तीखे सवाल पूछे हैं। शहीद परमजीत के परिजनों ने कहा है सिद्धू पाकिस्‍तानी सेना के प्रधान बाजवा से पाक सैनिकों द्वारा शहीद जवानों के काटे गए सिर ही मांग लाएं। अगर सिर नहीं ला सकते ताे वीर जवानों की पगड़ी ही ले आएं।
कांग्रेस ने बताया अच्छा कदम
दूसरी ओर, भाजपा ने राष्‍ट्रीय शोक के समय इस तरह पाकिस्‍तान जाने के लिए सिद्धू पर हमला किया है। पार्टी ने उनके पाकिस्‍तानी सेना के प्रधान से गले मिलने के लिए सवाल उठाया है। भाजपा ने इसे शहीद सैनिकों का अपमान करार दिया है। दूसरी ओर, कांग्रेस ने सिद्धू का खुलकर समर्थन किया है और उनके इमरान के शपथ ग्रहण समारोह में जाने को बहुत अच्‍छा कदम बताया है। पाक जेल में मारे गए सरबजीत सिंह की बहन दलबीर कौर ने भी सिद्धू पर निशाना साधा है। सिद्धू आज दोपहर बाद पाकिस्‍तान से लौटेंगे। वह अटारी बॉर्डर होकर आएंगे।
शहीद सैनिकों को सिद्धू ने अपमानित किया है
पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा से गले मिलने पर तरनतारन के शहीद परमजीत सिंह का परिवार सिद्धू से काफी खफा है। शहीद की पत्नी परमजीत कौर ने इसे शहीदों का अपमान बताते हुए कहा- सिद्धू साब, जफ्फी पाउण तों पहलां शहीद दे सिर दा वी पूछ लैंदे.. (सिद्धू साहब, जफ्फी डालने से पहले शहीद के सिर के बारे में पूछ लेते)। बता दें कि पहली मई 2017 को जम्मू-कश्मीर की कृष्णा घाटी में सिख रेजीमेंट में नायब सूबेदार परमजीत पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) की गोलाबारी में शहीद हो गए थे। बैट जवान बाउनका सिर काट ले गए थे। शहीद परमजीत के भाई रणजीत सिंह ने कहा कि भी सिद्धू पर कड़ा हमला किया। उन्‍होंने कहा कि परमजीत की शहादत के बाद सिद्धू दिलासा देने घर आए थे तो पाकिस्‍तान को दुश्‍मन देश बताया था और उसके टुकड़े-टुकड़े करने की बात की थी। अब उसी सिद्धू का पाकिस्‍तान दोस्‍त हो गया है। रणजीत ने कहा, पाक आर्मी चीफ से गले मिलते वक्‍त सिद्धू कम से कम उनसे यह पूछ लेते कि हमारे सैनिकों के कटे सिर कहां हैं। सिद्धू साहब वे कटे सिर ले आते तो बड़ा एहसान होता। सिर नहीं ला सकते तो उनकी पगड़ी की ले आते। तरनतारन के गांव वेईपुई में शहीद परमजीत सिंह का परिवार शनिवार को टीवी देख रहा था। इसी दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे सिद्धू द्वारा वहां के आर्मी चीफ से जफ्फी पाने का पता चला। परमजीत कौर ने कहा कि शहादत के बाद उनके पति का बिना सिर वाला शव जब अंतिम संस्कार के लिए लाया गया था तो फौज के अधिकारियों ने बदला लेने का वादा किया था।
सिद्धू ने दी सफाई मैं नफरत की आग ठंडी करने गया था
दूसरी ओर, नवजोत सिंह सिद्धू दोपहर बाद अटारी बॉर्डर से भारत पहुंच गए। अटारी बार्डर पर पहुंचने पर कई संगठनों ने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की और कहा कि सिद्धू ने पाकिस्तानी सेना चीफ को गले लगाकर शहीदों का अपमान किया। वहीं, सिद्धू ने इस मामले पर सफाई दी। सिद्धू ने कहा, ”मैं वहां नफरत की आग ठंडी करने गया था। उनका यह पाकिस्तान दौरा बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा।” पाकिस्तान के सेना प्रमुख को जफ्फी डालने के मुद्दे पर सिद्धू ने कहा जब पाक सेना प्रमुख ने गुरु नानकदेव जी के 550 में गुरु पर्व के मौके पर करतारपुर कॉरिडोर खोलने की बात कही तो जफ्फी दे दी।
सिद्धू सिर्फ सुर्खिया बटोरने का कार्य करते है
भाजपा के पूर्व प्रधान कमल शर्मा ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू केवल मीडिया में बने रहना चाहते हैं और इस मामले में वह यह भी नहीं देखते कि जिससे गले मिलकर वे मीडिया की सुर्खियां बटोर रहे हैं वह कौन है और उसका भारत के प्रति नजरिया क्या है? कमल शर्मा ने कहा कि सिद्धू के पाकिस्तान के सेना प्रमुख से गले मिलने और उनके साथ हंसी मजाक करने को सही नहीं है।
सरबजीत सिंह की बहन दलबीर कौर ने भी सिद्धू पर साधा निशाना
दूसरी ओर, पाकि‍स्‍तानी जेल में मारे गए सरबजीत सिंह की बहन दलबीर कौर ने भी नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा। दलबीर कौर ने कहा कि सिद्धू ने पाक में शेरो शायरी में कहा कि पाकिस्तान जीवे। दलबीर ने सिद्धू से पूछा उन्होंने तो पाकिस्तान के जिंदा रहने की दुआ कर दी, लेकिन क्या कभी किसी पाकिस्तानी ने भारत की धरती पर आकर जीवे हिंदुस्तान कहा है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

सोनिया ने मोरक्को की दोआ को बूरी तरह पीटा

नई दिल्लीः भारत की सोनिया ने महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में 54-57 फेदरवेट वर्ग में मोरक्को की तोजानी दोआ को 5-0 से हराकर विजयी शुरुआत की। सोनिया को अपने वजन वर्ग के पहले राउंड में बाई मिली थी और इस [Read more...]

14 करोड़ के चादर और कंबल चुरा ले गये एसी कोच के यात्री : रेलवे

नई दिल्ली : यात्रियों की गंदी हरकत से परेशान रेलवे एसी कोच में दी जाने वाली सुविधाओं में कमी करने का मन बना रहा है। दरअसल देशभर में रेलवे के एसी कोच से तौलिया, चादर और कंबल चोरी हो रहे [Read more...]

मुख्य समाचार

सोनिया ने मोरक्को की दोआ को बूरी तरह पीटा

नई दिल्लीः भारत की सोनिया ने महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में 54-57 फेदरवेट वर्ग में मोरक्को की तोजानी दोआ को 5-0 से हराकर विजयी शुरुआत की। सोनिया को अपने वजन वर्ग के पहले राउंड में बाई मिली थी और इस [Read more...]

14 करोड़ के चादर और कंबल चुरा ले गये एसी कोच के यात्री : रेलवे

नई दिल्ली : यात्रियों की गंदी हरकत से परेशान रेलवे एसी कोच में दी जाने वाली सुविधाओं में कमी करने का मन बना रहा है। दरअसल देशभर में रेलवे के एसी कोच से तौलिया, चादर और कंबल चोरी हो रहे [Read more...]

ऊपर