सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद जमकर फोड़े गए पटाखे, हवा हुई खतरनाक

नयी दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट द्वारा पटाखे नहीं फोड़ने को लेकर दिया गया आदेश्‍ा को दिल्लीवासियों ने उल्लंघन कर एक दिन में ही राजधानी की हवा खतरनाक स्तर पर पहुंचा दी। गुरुवार को सुबह छह बजे कुल एयर क्वॉलिटी इंडेक्स पीएम 2.5 805 रेकॉर्ड किया गया। वहीं दिल्ली के कई इलाकों में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 900 के ऊपर पहुंच गया। आनंद विहार में लेवल 999, अमेरिकी दूतावास चाणक्यपुरी के आसपास 459 और मेजर ध्यान चंद नेशनल स्टेडियम के आसपास 999 पहुंच गया, जो हवा की गुणवत्ता की खतरनाक श्रेणी में आता है। आनंद विहार ही नहीं आईटीओ और जहांगीरपुरी जैसे इलाकों में भी प्रदूषण का स्तर काफी ज्यादा पाया गया है। मयूर विहार एक्सटेंशन, लाजपत नगर, लुटियंस दिल्ली, आईपी एक्सटेंशन, द्वारका, नोएडा सेक्टर 78 समेत कई इलाकों में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन किए जाने की सूचना है। इससे पहले दिवाली के दिन बुधवार को शाम 7 बजे एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 286 रेकॉर्ड किया गया था जो रात 8 बजे 405 के स्तर पर पहुंच गया।

सुबह कई इलाकों में लोगों को सांस लेने की दिक्कत हुई
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार बुधवार रात 9 बजे स्थिति और खराब हो गई और एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 514 पर पहुंच गया। मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने पटाखे फोड़ने को लेकर रात 8 से 10 बजे की समयसीमा तय की थी पर लोगों ने इस आदेश का उल्लंघन किया। दिवाली के बाद दिल्ली में गुरुवार को सुबह जब लोगों ने आंखें खोली तो कई इलाकों में उन्हें सांस लेने में भी दिक्कत हुई। साउथ ब्लॉक एवं आसपास का इलाका स्मॉग की मोटी चादर से ढका था। हालांकि दिवाली से पहले भले ही पटाखों को लेकर लोगों में उत्साह कम देखा गया था, लेकिन बुधवार को दिल्ली में जमकर पटाखे फोड़े गए, जिससे राजधानी की हवा ‘खतरनाक’ स्तर पर पहुंच गई।


क्या था सुप्रीम कोर्ट का आदेश?
सुप्रीम कोर्ट ने सिर्फ ग्रीन पटाखों के निर्माण और बिक्री की अनुमति दी थी। ग्रीन पटाखों से कम प्रकाश और ध्वनि निकलती है और इसमें कम हानिकारक रसायन होते हैं। कोर्ट ने पुलिस से इस बात को सुनिश्चित करने को कहा था कि प्रतिबंधित पटाखों की बिक्री नहीं हो सकती है और किसी भी उल्लंघन की स्थिति में संबंधित थाना के एसएचओ को व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार ठहराया जाएगा और यह अदालत की अवमानना होगी। कोर्ट ने दिवाली के दिन रात 8 से 10 बजे तक ही पटाखे फोड़ने का निर्देश दिया था। इसके साथ ही पटाखों की ऑनलाइन बिक्री भी रोक दी गई थी।



एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

मुख्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

ऊपर