नीतीश क्यों नहीं बन पाएंगे अगले पीएम?

‘ज़हरीली शराब से 136 लोगों की मौत’. ये हेडलाइन 2009 की है और मामला गुजरात का है. पाकिस्तान की तरह शराब मुक्त गुजरात में मौत की ऐसी ख़बरें नई बात नहीं हैं.

बिहार में भी इस तरह मौतों की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता.

और ऐसा हो भी चुका है. अप्रैल के अंतिम हफ़्ते में बिहार में दो अलग-अलग घटनाओं में ज़हरीली शराब पीने से चार लोगों की मौत हो गई थी.

अगर ऐसी घटना बिहार में बड़े पैमाने पर होती हैं तो इसमें कोई संदेह नहीं कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पूर्ण शराबबंदी की नीति को दोष दिया जाएगा.

लेकिन लग रहा है कि नीतीश कुमार एक तरह से पूरे देश में शराब निषेध अभियान चलाने की कोशिश कर रहे हैं. झारखंड, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तराखंड और राजस्थान सहित विभिन्न राज्यों में महिला संगठनों ने उन्हें आमंत्रित भी किया है.

वैसे उनकी ये कोशिश किसी दिन बुरी तरह नाकाम हो सकती है .

पिछले दशक में जो सबसे बड़े राजनीतिक बदलाव हुए हैं, उनमें से महिला मतदाताओं का एक ताक़त के तौर पर उभरना भी शामिल है.

Leave a Comment

अन्य समाचार

बंदरों का आतंक : 12 दिन के बच्चे को पटक कर मार डाला

आगरा : बंदरों की बदंरबाजी से हर को परिचित है। वक्त बे वक्त बंदर अपनी हैरतअगेंज हरकत से चर्चा में आते रहे है। ऐसा ही उत्तर प्रदेश के आगरा में कस्बा रुनकता में बदमाश बंदरों ने कांड कर डाला। दर्जन [Read more...]

मुझे अकबर पर संदेह नहीं

नई दिल्ली : यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे पूर्व विदेश राज्य मंत्री व पत्रकार एम जे अकबर के बचाव में अब उनकी एक सहकर्मी भी उतर आई हैं। अकबर के साथ काम कर चुकीं पत्रकार जोयिता बसु ने मीटू [Read more...]

मुख्य समाचार

सुप्रीम कोर्ट ने पलटा सिरीसेना का फैसला, नहीं होंगे चुनाव

कोलंबो : श्रीलंका के सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना के संसद भंग करने के फैसले को निरस्त कर दिया है। इसके अलावा सिरीसेना की ओर से मध्यावधि चुनाव की तैयारियों पर भी रोक लगा दी है। आपको बता दें [Read more...]

अमेरिका ने ईरान को फिर धमकाया

सिंगापुर : ईरान पर प्रतिबंधों को लेकर एक बार फिर अमेरिका का बड़ा बयान आया है। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कहा है कि उनका देश ईरान को इतना निचोड़ देगा कि उसके अंदर केवल गुठली ही [Read more...]

ऊपर