निष्कासित भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति ने राज्यपाल को ज्ञापन दिया

लखनऊ : स्वाति सिंह ने रविवार को उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर बहुजन समाज पार्टी के नेताओं के खिलाफ पोस्को अधिनियम के तहत की कार्रवाई की मांग की। भारतीय जनता पार्टी से निष्कासित नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति ने राज्यपाल से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। उन्होंने बहुजन समाज पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदर्शन के दौरान उनके परिवार के प्रति अभद्र भाषा का प्रयोग किये जाने पर कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने नाईक से मांग की है कि अभियुक्तों के खिलाफ बाल यौन अपराध संरक्षण (पोस्को) अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा जाय। उन्होंने राज्यपाल से कहा कि उनकी पुत्री इस घटना के बाद काफी डरी हुई है। नाईक ने इस मामले में उन्हें पूरी मदद करने का आश्वासन दिया है। पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद से इस मामले की सीडी मंगाकर आगे की कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया।उल्लेखनीय है कि गत 19 जुलाई को मऊ में दयाशंकर सिंह ने बसपा अध्यक्ष के खिलाफ अभद्र टिप्पणी कर दी थी। दूसरे दिन मायावती ने इस मामले को जोरदार ढंग से राज्यसभा में उठाया। मायावती ने दयाशंकर सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की मांग की थी। बसपा नेता सतीश चन्द्र मिश्र ने भी मायावती का जमकर साथ दिया था। इसके बाद केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राज्यसभा में ही दयाशंकर सिंह के बयान पर खेद जता दिया था। भाजपा ने सिंह को पहले प्रदेश उपाध्यक्ष पद से हटाया और बाद में पार्टी से 6 वर्षों के लिए निष्कासित कर दिया। बसपा सचिव मेवालाल गौतम ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी। 21 जुलाई को बसपा ने लखनऊ में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी में दयाशंकर सिंह के परिवार को भी लपेट लिया। दयाशंकर सिंह की पत्नी ने इस पर जबरदस्त आपत्ति की और उनकी मां तेतरा देवी ने मायावती और उनके सहयोगियों नसीमुद्दीन सिद्दीकी, रामअचल राजभर और मेवालाल गौतम के खिलाफ हजरतगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी थी।

Leave a Comment

अन्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

मुख्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

ऊपर