तेजस्वी ने पूछा-ये कैसी परीक्षा है, रेलवे ने परीक्षा सेंटर 2000 किमी दिए

नईदिल्लीः पहली बार ऐसा हो रहा है कि रेलवे में नौकरी की हसरत रखने वाले बेरोजगारों को परीक्षा देने के लिए अपने गृह जनपद से 2000 किलोमीटर से अधिक लंबा सफर तय करना होगा। परीक्षा का सेंटर मद्रास, कोलकाता, दिल्ली और मुंबई जैसे जगहों पर भेज दिया गया है। इससें उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान के दिव्यांगों व लड़कियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। रेलवे ने अभ्यार्थियों की सहूलियत के लिए ऑनलाइन परीक्षा आयोजित कराने का फैसला किया था। लेकिन बड़ी संख्या में आवेदनों के चलते परीक्षा केंद्र कम पड़ गए।
संसद में भी उठा मुद्दा
इस मुद्दे को संसद में भी उठाया गया। लोकसभा में शून्यकाल के दौरान कांग्रेस नेता रंजीत रंजन ने रेलवे की परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों का परीक्षा केंद्र उनके निवास स्थान से हजारों किलोमीटर दूर करने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि अभ्यर्थी के लिए परीक्षा केंद्र उसके निवास के आसपास बनाना चाहिए। रंजन ने कहा कि रेलवे के सहायक लोको पॉयलट व तकनीशियन के 26,502 पदों पर भर्ती की घोषणा की है। इसके लिए ऑनलाइन परीक्षा आयोजित कराई जाएगी। रिक्त पदों के लिए 47 लाख से अधिक बेरोजगारों ने आवेदन किया है। लेकिन उनके साथ रलवे ने गलत किया है। अभ्यर्थियों के लिए परीक्षा केंद्र उनके घरों से हजारों किलोमीटर दूर बनाए गए हैं।
तेजस्वी ने पूछा ये कैसी परीक्षा
तेजस्वी यादव ने रेलमंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर पूछा है कि ये कैसी ऑनलाइन परीक्षा ली जा रही है। जिसमें परीक्षार्थियों को दो हजार किलोमीटर दूर जाकर परीक्षा देनी पड़ेगी?
रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि बिहार, यूपी, राजस्थान में उपलब्ध परीक्षा केंद्रों की अपेक्षाकृ़त अभ्यर्थियों की संख्या अधिक है। बिहार से 9 लाख, यूपी से 9.5 लाख, राजस्थान से 4.5 लाख आवेदक हैं। रेलवे ने 47 लाख में से 34 लाख (71 फीसदी) आवेदकों को 200 किलोमीटर के भीतर परीक्षा केंद्र दिए हैं। इसमें 99 फीसदी महिला व दिव्यांगों को उक्त दूरी के भीतर परीक्षा केंद्र अलॉट किए गए हैं। यानी शेष एक फीसदी महिलाओं-दिव्यांगों को दो हजार किलोमीटर की दूरी तय करनी होगी। विदित हो कि पटना से हैदराबाद, बेगलुरु, चैन्नई की दूरी 1800 से 2100 किलोमीटर (ट्रेन) है।
वहीं रेल मंत्रालय ने कल प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा था कि आरआरबी भर्ती परीक्षा के लिए 47 लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने आवेदन किए हैं। हमने उम्मीदवारों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए परीक्षा केंद्र उनके शहर या उनके शहर के पास आवंटित किए हैं। रेल मंत्रालय ने कहा है कि हमने शारारिक रूप से अशक्त 99 फीसदी पुरूष और महिला उम्मीदवारों के परीक्षा केंद्र उनके शहर से 200 किमी के दायरे में आवंटित किए हैं।
9 अगस्त से शुरू होगी परीक्षा
रेल अधिकारियों ने बताया कि सहायक लोको पॉयलट व तकनीशिन के पदों के लिए रेलवे की परीक्षा आगामी नौ अगस्त से शुरू हो रही है। इसके बाद परीक्षा 10, 13, 14, 17, 20, 21, 29, 30 व 31 अगस्त को आयोजित कराई जाएंगी। अभ्यर्थियों की अधिक संख्या के चलते प्रतिदन परीक्षा तीन पाली में कराई जाएगी।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

ईशा अंबानी की इटली में आज सगाई

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार मुकेश अंबानी के घर एक बार फिर सगाई की [Read more...]

आतंकियों ने 3 पुलिसकर्मियों को अगवा कर की हत्या

श्रीनगरः पाक फौज द्वारा बीएसएफ जवान की बर्बर हत्या के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने शुक्रवार तड़के शोपियां जिले में 3 पुलिसकर्मियों को अगवा कर उनकी हत्या कर दी। पुलिसकर्मियों के तलाशी अभियान के दौरान तीनों शव कापरन गांव से [Read more...]

मुख्य समाचार

ईशा अंबानी की इटली में आज सगाई

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार मुकेश अंबानी के घर एक बार फिर सगाई की [Read more...]

आतंकियों ने 3 पुलिसकर्मियों को अगवा कर की हत्या

श्रीनगरः पाक फौज द्वारा बीएसएफ जवान की बर्बर हत्या के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने शुक्रवार तड़के शोपियां जिले में 3 पुलिसकर्मियों को अगवा कर उनकी हत्या कर दी। पुलिसकर्मियों के तलाशी अभियान के दौरान तीनों शव कापरन गांव से [Read more...]

ऊपर