छत्तीसगढ़ : पहले चरण में जमकर हुई वोटिंग

रायपुर : छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण में नक्सलियों के गढ़ में भी जमकर वोटिंग हुई। सुबह से ही पोलिंग बूथों पर पहुंचे मतदाताओं ने साबित कर दिया कि बंदूकों के डर पर लोकतंत्र की ताकत भारी है। छत्तीसगढ़ में 18 विधानसभा सीटों पर सोमवार सुबह से वोटिंग हो रही है। इनमें से आठ नक्सल प्रभावित जिले हैं। मतदान के लिए इन इलाकों में 4,336 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। कई जगह चुनाव का बहिष्कार करने से जुड़ी नक्सलियों की चेतावनी और बैनर-पोस्टर्स के बावजूद बड़ी संख्या में मतदाता मतदान के लिए निकले। इस सीटों पर दोपहर 1 बजे तक 25 प्रतिशत से ज्यादा मतदान हो चुका था।

दोनों पार्टियां ज्यादा सीटें जीतने का रहीं दावा
पहले चरण में 18 सीटें हैं, जिनमें से बस्तर क्षेत्र की आठ सीटों समेत 12 पर पिछले चुनाव में कांग्रेस जीती थी। भाजपा सिर्फ छह सीटों पर कामयाब हुई थी। दोनों पार्टियां उम्मीद जता रही हैं कि बस्तर क्षेत्र में इस बार वे पिछले चुनाव से ज्यादा सीटें जीतेंगी। वहीं 20 नवंबर को 78 सीटों के लिए वोटिंग होगी। चुनाव के नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे। 15 सालों से काबिज बीजेपी के लिए ये चुनाव एक कड़ा इम्तेहान है, तो वहीं कांग्रेस ने दोबारा सत्ता में वापसी के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ में कई तूफानी रैलियां की। वहीं पीएम मोदी भी खुद चुनाव प्रचार में उतरे।

100 साल की उम्र की महिला ने दिया मतदान
मतदान शुरू होने के कुछ ही देर बाद 100 साल की मतदाता सुकमा के ही द्रोणापल में अपने अधिकार का प्रयोग करने पहुंचीं। दंतेवाड़ा में दृष्टिबाधित दिव्यांग और यहीं के चिंतागुफा पोलिंग स्टेशन पर चलने में असमर्थ दिव्यांग वोट डालने पहुंचे। कोई अड़चन मतदाताओं को बूथ तक आने से नहीं रोक सकी।

दो जवान घायल
बीजापुर के पामेड़ में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच 12 बजकर 20 मिनट से शुरू हुई मुठभेड़ में दोनों ओर से रुक-रुककर फायरिंग होती रही। एनकाउंटर में दो कोबरा बटालियन के जवान घायल हो गए। शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव करवाने के लिए 1 लाख जवानों को तैनात किया गया है। चुनाव आयोग ने बताया कि 4336 में से 53 मतदान केंद्रों ने तकनीकी कारणों से मतदान के देर से शुरू हुई। हालांकि मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी कतारों के साथ मतदान सुचारु रूप से चला।

नक्सलियों के मंसूबे हुए नाकाम
दंतेवाड़ा जिले के केतकल्याण ब्लॉक में तुमाकपाल कैंप के पास नक्सलियों ने 2 किलोग्राम इम्प्रोविज्ड एक्सप्लोजिव डिवाइस (आईईडी) से विस्फोट किया। एआईडी (ऐंटी नक्सल ऑपरेशंस) देवनाथ ने बताया कि सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए लगभग 5:30 बजे तुमाकपाल-नयनार रोड पर नक्सलियों ने आईईडी को ट्रिगर किया था। सुरक्षा बलों और चुनावकर्मी दल को कोई नुकसान नहीं हुआ है और पार्टी सुरक्षित रूप से नयनार मतदान बूथ संख्या 183 तक पहुंच गई।






एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका का ट्रेलर हुआ जारी

मुंबई : कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी की इन दिनों लगातार चर्चाएं हो ही रही है। हाल ही में कंगना का एक लुक सामने आया था जिसमें वो सिंहासन पर बैठी हुई नजर [Read more...]

लोकसभा में हंगामे से नाराज सुमित्रा महाजन ने कहा – ‘हम स्कूली बच्चों से भी गए-गुजरे हैं’

नयी दिल्ली : संसद के शीतकालीन सत्र में पांच दिनों से विभिन्न मुद्दों पर चल रहे हंगामें तथा मंगलवार को भाजपा, कांग्रेस, एआईएडीएमके, टीडीपी सदस्यों के शोर शराबे से नाराज लोकसभा [Read more...]

मुख्य समाचार

कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका का ट्रेलर हुआ जारी

मुंबई : कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी की इन दिनों लगातार चर्चाएं हो ही रही है। हाल ही में कंगना का एक लुक सामने आया था जिसमें वो सिंहासन पर बैठी हुई नजर [Read more...]

लोकसभा में हंगामे से नाराज सुमित्रा महाजन ने कहा – ‘हम स्कूली बच्चों से भी गए-गुजरे हैं’

नयी दिल्ली : संसद के शीतकालीन सत्र में पांच दिनों से विभिन्न मुद्दों पर चल रहे हंगामें तथा मंगलवार को भाजपा, कांग्रेस, एआईएडीएमके, टीडीपी सदस्यों के शोर शराबे से नाराज लोकसभा [Read more...]

ऊपर