गोवा में सन् 1965 से ही लागू है समान नागरिक संहिता 

अमर सिंह
केंद्रीय मंत्री पी पी चौधरी

पणजी : देश में समान नागरिक संहिता लागू किए जाने की पुरानी मांग के बीच गोवा इस मामले में अपवाद है।
केंद्र सरकार ने शुक्रवार को राज्यसभा में स्पष्ट किया कि गोवा में सन् 1965 से ही समान नागरिक संहिता लागू है। उच्च सदन में निर्दलीय सदस्य अमर सिंह द्वारा इस बारे में पूछे गये सवाल के लिखित जवाब में विधि एवं न्याय राज्य मंत्री पी.पी. चौधरी ने बताया कि गोवा में समान नागरिक संहिता लागू है। अमर सिंह ने पूछा था कि क्या सरकार को इस बात की जानकारी है कि गोवा में सन् 1965 से ही समान नागरिक संहिता लागू रही है, जो राज्य के सभी नागरिकों, चाहे वे किसी भी जाति के हों, पर लागू है। हालांकि शेष राज्यों में भी इसे लागू करने के सवाल पर राज्य मंत्री चौधरी ने बताया कि भिन्न समुदायों और भिन्न क्षेत्रों पर लागू विभिन्न पर्सनल लॉ को ध्यान में रखते हुए देश के अन्य भागों में गोवा नागरिक संहिता को लागू नहीं किया जा सकता है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

फ्रांस से 3000 एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल खरीदने की तैयारी कर रहा है भारत

नयी दिल्ली : फ्रांसीसी कंपनी से रक्षा सामग्री खरीद पर चल रहे विवाद को दरकिनार करते हुए भारत ने अपनी सुरक्षा प्रणाली को और मजबूत तथा विश्‍वस्‍तरीय बनाने तथा सेना को नये उपकरणों से लैस करने की खातिर फ्रांस से [Read more...]

2019 में ब्रिटेन को पीछे छोड़ भारत बन सकता है 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्‍था

नई दिल्लीः इस वर्ष भारत ब्रिटेन को पीछे छोड़कर विश्व की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्‍था बन सकता है। ग्लोबल कंसल्टेंसी फर्म पीडब्ल्यूसी का ऐसा मानना है। 2017 में भारत ने फ्रांस को पीछे छोड़कर छठा स्थान हासिल किया था। वैश्विक अर्थव्यवस्था [Read more...]

मुख्य समाचार

कर्जमाफी को लेकर किसानों में भ्रम फैलाने की कोशिश कर रही है भाजपा : पायलट

जयपुर : यहां पत्रकारों से बातचीत में राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कर्जमाफी को लेकर किसानों में भ्रम फैलाने की कोशिश कर रही है। सरकार ने सहकारी बैंकों और [Read more...]

प्रवासी भारतीयों की दुनियाभर में बढ़ी नेतृत्व क्षमता : सुषमा

2022 तक ‘नूतन युवा भारत’ बनाने में मदद करेगी युवाओं की बढ़ती संख्या वाराणसी : प्रवासी भारतीयों की दुनियाभर में बढ़ती नेतृत्व क्षमताओं को नये भारत की विकास यात्रा के लिए अहम बताते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को [Read more...]

ऊपर