गोवा में सन् 1965 से ही लागू है समान नागरिक संहिता 

अमर सिंह
केंद्रीय मंत्री पी पी चौधरी

पणजी : देश में समान नागरिक संहिता लागू किए जाने की पुरानी मांग के बीच गोवा इस मामले में अपवाद है।
केंद्र सरकार ने शुक्रवार को राज्यसभा में स्पष्ट किया कि गोवा में सन् 1965 से ही समान नागरिक संहिता लागू है। उच्च सदन में निर्दलीय सदस्य अमर सिंह द्वारा इस बारे में पूछे गये सवाल के लिखित जवाब में विधि एवं न्याय राज्य मंत्री पी.पी. चौधरी ने बताया कि गोवा में समान नागरिक संहिता लागू है। अमर सिंह ने पूछा था कि क्या सरकार को इस बात की जानकारी है कि गोवा में सन् 1965 से ही समान नागरिक संहिता लागू रही है, जो राज्य के सभी नागरिकों, चाहे वे किसी भी जाति के हों, पर लागू है। हालांकि शेष राज्यों में भी इसे लागू करने के सवाल पर राज्य मंत्री चौधरी ने बताया कि भिन्न समुदायों और भिन्न क्षेत्रों पर लागू विभिन्न पर्सनल लॉ को ध्यान में रखते हुए देश के अन्य भागों में गोवा नागरिक संहिता को लागू नहीं किया जा सकता है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

मप्र, छत्तीसगढ़ और राजस्थान विस चुनाव लड़ेगी सवर्ण समाज पार्टी

रीवाः अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम और आरक्षण के विरोध में प्रदर्शन की अनेक घटनाओं के बीच सवर्ण समाज पार्टी के अध्यक्ष व मध्यप्रदेश के विंध्य अंचल के प्रमुख लक्ष्मण तिवारी ने कहा कि उनकी पार्टी ने मध्यप्रदेश के 230 [Read more...]

मुख्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

ऊपर