गुजरात की 5 छोटी लाइनों को संरक्षित करने का निर्णय

वडोदराः रेल मंत्रालय ने 19 वीं सदी में वडोदरा रियासत (तत्कालीन रियासत के गायकवाड़ वडोदरा स्टेट रेलवे – जीबीएसआर) द्वारा निर्माण कराये गये गुजरात की 5 छोटी लाइनों को संरक्षित करने का निर्णय किया। फिलहाल पश्चिम रेलवे इसे संचालित करता है।
रेलवे बोर्ड के कार्यकारी निदेशक (धरोहर) सुब्रता नाथ ने बताया कि रेलवे बोर्ड ने हाल में पश्चिम रेलवे को एक चिट्ठी लिखकर सूचना दी कि राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए यह फैसला किया गया है। इन पुरानी लाइनों का आज भी इस्तेमाल किया जाता हैं। इनमें से एक 33 किलोमीटर लंबी दभोई-मियागम लाइन भारत की पहली छोटी लाइन है। वर्ष 1862 में जब डिब्बों को बैल खींचते थे तब इस लाइन ने काम करना शुरू किया था। इसके एक साल बाद भाप से चलने वाले इंजन आये।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस भी शामिल हो : राजबब्बर

यूपी : उत्तर प्रदेश में सियासी पारा धीरे-धीरे चढ़ता जा रहा है। लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में इन दिनों प्रयागराज कुंभ को लेकर सबसे ज्यादा सक्रियता देखने को मिल रही है। वहीं यूपी कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजबब्बर [Read more...]

मिजोरम में गणतंत्र दिवस के बहिष्कार का आह्वान

आइजोल: नागरिकता विधेयक में हुये संशोधन के विरोध में मिजोरम में गणतंत्र दिवस समारोह के बहिष्कार का आह्वान किया गया है। यह आह्वान एनजीओ समन्वय समिति के अध्यक्ष वनलालरुआता ने किया है।  एनजीओ समन्वय समिति की बैठक के बाद जारी [Read more...]

मुख्य समाचार

अपनी हार से डर गयी है भाजपा : डेरेक

कोलकाता : मालदह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की सभा पर कटाक्ष करते हुए ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस के मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता व सांसद डेरेक ओब्रायन ने कहा ​कि भाजपा अपनी होने वाली हार से डर [Read more...]

मालदह की सभा से अमित ने ललकारा

कोलकाता : भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अभी स्वाइन फ्लू से पूरी तरह ठीक नहीं हुए हैं। बुखार में मालदह आये शाह ने बंगाल की राजनीति का पारा जरूर चढ़ा दिया। उन्होंने न केवल बंगाल में लोकसभा [Read more...]

ऊपर