औरंगजेब का परिवार पूरे राष्ट्र के लिए प्रेरणाः निर्मला सीतारमण

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के पुंछ में शहीद जवान औरंगजेब के परिवार से आज बुधवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने मुलाकात की और उनके परिवार वालों का हौसला बढ़ाया। परिवार से मिलकर रक्षा मंत्री सीतारमण ने कहा कि यह परिवार पूरे देश के लिए प्रेरणा है। इस दौरान शहीद औरंगजेब के परिवार के बीच काफी देर तक रूकीं और परिवार के लोगों से मुलाकात की। गौरतलब है कि ईद की छुट्टी में अपने घर जाने के दौरान जवान औरंगजेब की आतंकियों ने अपहरण कर हत्या कर दी थी। औरंगजेब का शव 14 जून को पुलवामा में मिला था। हालांकि, आतंकवादियों ने औरंगजेब की हत्या करने से पहले उससे कुछ जानकारी हासिल करने की भी कोशिश की थी।
सीतारमण ने कहा…
शहीद औरंगजेब के परिवार से मिलने के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि मैं शहीद के परिवार से मिलने आई। एक संदेश जो मैं यहां से वापस ले सकती हूं वह यह है कि यहां एक परिवार है, यहां एक शहीद है, जो पूरे राष्ट्र के लिए प्रेरणा के रूप में खड़ा है। इससे पूर्व सोमवार को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत शहीद औरंगजेब के घर गये थे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अब जीन बतायेंगे कब तक है आपकी जिंदगी!

लंदन : शोधकर्ताओं ने जीवन की अवधि पता लगाने के लिये जीन आधारित एक स्कोरिंग सिस्टम विकसित किया है। वैसे तो एन्ड्रॉइड मोबाइल पर और सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कई एप है जाे आपकी जिन्दगी कितनी है, आपकी मृत्यु कब [Read more...]

वरमाला के समय दुल्हन के पैर में लगी गोली, अगली सुबह लिए फेरे

नयी दिल्ली : मकर संक्राति के साथ ही खरमास की समाप्‍ति हाे जाती है तथा शुभ कार्य शुरु हो जाते है। अभी जोर शोर से शादी विवाह का मौसम चल रहा है। पर खुशियाें कभी कभी परेशानी का सबब बन [Read more...]

मुख्य समाचार

अब जीन बतायेंगे कब तक है आपकी जिंदगी!

लंदन : शोधकर्ताओं ने जीवन की अवधि पता लगाने के लिये जीन आधारित एक स्कोरिंग सिस्टम विकसित किया है। वैसे तो एन्ड्रॉइड मोबाइल पर और सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कई एप है जाे आपकी जिन्दगी कितनी है, आपकी मृत्यु कब [Read more...]

वरमाला के समय दुल्हन के पैर में लगी गोली, अगली सुबह लिए फेरे

नयी दिल्ली : मकर संक्राति के साथ ही खरमास की समाप्‍ति हाे जाती है तथा शुभ कार्य शुरु हो जाते है। अभी जोर शोर से शादी विवाह का मौसम चल रहा है। पर खुशियाें कभी कभी परेशानी का सबब बन [Read more...]

ऊपर