आरुषि हत्याकांडः जेल में भी होती थी ‘तलवार’ की कमाई

जेल में भी होती थी ‘तलवारों’ की कमाई
नई दिल्‍लीः आरुषि-हेमराज हत्याकांड में तलवार दंपती को रिहा कर दिया गया है। लेकिन सभी के मन में अभी भी एक ही सवाल उठ रहा है कि अगर आरुषि के मां-बाप कातिल नहीं तो और कौन है ?
आरुषि की हत्या का दोषी ठहराकर तलवार दंपती को सीबीआई कोर्ट ने साल 2013 में उम्र कैद की सजा सुनाई थी। जेल में राजेश और नुपूर को योग्यता के अनुसार काम सौंपा गया था।
डॉक्टर तलवार को जेल की मेडिकल टीम का सहायक बनाया गया था, जबकि नुपूर को अध्यापिका का काम सौंपा गया था। राजेश कैदियों के दांतों का इलाज करते थे, जिसके ऐवज में उन्हें हर रोज 40 रुपए यानी 1200 रुपए महीना मिलते थे।
वहीं तरह नुपूर को भी जेल में महिलाओं को पढ़ाने के बदले 40 रुपए रोज मिलते थे। दोनों को सुबह 10 से शाम 5 बजे तक काम करना होता था। रविवार को उनकी छुट्टी होती थी।
क्या था मामला?
16 मई 2008 को तलवार दंपती की इकलौती संतान 13 वर्षीय आरुषि अपने बेडरूम में मृत पाई गई थी। उसका गला रेता गया था। शुरू में घर में काम करने वाले नौकर हेमराज पर शक किया गया, लेकिन अगले दिन छत पर उसकी भी लाश मिली।

Leave a Comment

अन्य समाचार

चेयरमैन हत्याकांड में निर्दल पार्षद यूपी से गिरफ्तार

हुगली : भद्रेश्वर नगरपालिका के चेयरमैन मनोज उपाध्याय हत्याकांड में पुलिस ने मुख्य अभियुक्त निर्दल पार्षद राजू साव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने राजू के साथ उसके दो सहयोगियों प्रभु चौधरी व बाबान यादव को भी [Read more...]

सीएम का जिलों में तूफानी दौरा

कोलकाता : पंचायत चुनाव में भाजपा समेत सभी विरोधी दलों को शिकस्त देने के लिए तृणमूल कांग्रेस चुनावी मैदान में डट चुकी है। भाजपा को राज्य में एक इंच जमीन भी नसीब ना हो उसके लिए खुद तृणमूल सुप्रीमो व [Read more...]

मुख्य समाचार

चेयरमैन हत्याकांड में निर्दल पार्षद यूपी से गिरफ्तार

हुगली : भद्रेश्वर नगरपालिका के चेयरमैन मनोज उपाध्याय हत्याकांड में पुलिस ने मुख्य अभियुक्त निर्दल पार्षद राजू साव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने राजू के साथ उसके दो सहयोगियों प्रभु चौधरी व बाबान यादव को भी [Read more...]

सीएम का जिलों में तूफानी दौरा

कोलकाता : पंचायत चुनाव में भाजपा समेत सभी विरोधी दलों को शिकस्त देने के लिए तृणमूल कांग्रेस चुनावी मैदान में डट चुकी है। भाजपा को राज्य में एक इंच जमीन भी नसीब ना हो उसके लिए खुद तृणमूल सुप्रीमो व [Read more...]

उपर