आजादी के बाद के सारे रिकॉर्ड की जांच करवाऊंगा

टोकियो : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कालेधन को बाहर निकालने के लिए और कदम उठाने का संकेत देते हुए कहा कि जिन लोगाें के पास बेहिसाबी धन है, उन्हें बख्शा नहीं जायेगा और इस बात की कोई ‘गारंटी’ नहीं है कि 30 दिसंबर के बाद और कदम नहीं उठाये जायेंगे।

यहां एक स्वागत समारोह में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘मैं एक बार फिर यह घोषणा करना चाहूंगा कि इस योजना के बंद होने के बाद इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि कालाधन रखने वालों को ठिकाने लगाने के लिए (दंड देने के लिए) कोई नया कदम नहीं उठाया जायेगा। मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं यदि किसी बेहिसाबी चीज का पता चलता है, तो मैं आजादी के बाद के सारे रिकॉर्ड की जांच करवाऊंगा। इसकी जांच के लिए जितने लोगों को लगाने की जरूरत होगी, लगाऊंगा। ईमानदार लोगाें को किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। किसी को बख्शा नहीं जायेगा। जो मुझे जानते हैं वे समझदार भी हैं। उन्हाेंने इसे बैंकाें के बजाय गंगा में डालना बेहतर समझा।’’ उनका इशारा इन रपटाें पर था कि बंद किए जा चुके 500 और 1,000 के नोट गंगा नदी में प्रवाहित किए गए हैं। मोदी ने इसे ‘स्वच्छता अभियान’ करार दिया। उन्हाेंने कहा कि आठ नवंबर को इस घोषणा के बाद लोगों द्वारा परेशानी का जिस चुनौतीपूर्ण तरीके से सामना किया गया है वह काबिले तारीफ है। मैं अपने देश के लोगों को सलाम करता हूं। लोग चार से छह घंटे तक लाइन में खड़े हुए हैं लेकिन उन्हाेंने राष्ट्रहित में इस फैसले को स्वीकार किया जैसा कि 2011 की आपदा के बाद जापान ने किया था।’

उन्हाेंने ईमानदार लोगों को भरोसा दिलाया कि उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं झेलनी पड़ेगी। मोदी ने कहा कि मैं प्रत्येक और हर भारतीय को सलाम करता हूं। कई परिवाराें में शादियां हैं, स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हैं, उन्हें असुविधा हो रही है, लेकिन उन्हाेंने फैसले को स्वीकार किया है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

फ्रांस से 3000 एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल खरीदने की तैयारी कर रहा है भारत

नयी दिल्ली : फ्रांसीसी कंपनी से रक्षा सामग्री खरीद पर चल रहे विवाद को दरकिनार करते हुए भारत ने अपनी सुरक्षा प्रणाली को और मजबूत तथा विश्‍वस्‍तरीय बनाने तथा सेना को नये उपकरणों से लैस करने की खातिर फ्रांस से [Read more...]

2019 में ब्रिटेन को पीछे छोड़ भारत बन सकता है 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्‍था

नई दिल्लीः इस वर्ष भारत ब्रिटेन को पीछे छोड़कर विश्व की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्‍था बन सकता है। ग्लोबल कंसल्टेंसी फर्म पीडब्ल्यूसी का ऐसा मानना है। 2017 में भारत ने फ्रांस को पीछे छोड़कर छठा स्थान हासिल किया था। वैश्विक अर्थव्यवस्था [Read more...]

मुख्य समाचार

प्रवासी भारतीयों की दुनियाभर में बढ़ी नेतृत्व क्षमता : सुषमा

2022 तक ‘नूतन युवा भारत’ बनाने में मदद करेगी युवाओं की बढ़ती संख्या वाराणसी : प्रवासी भारतीयों की दुनियाभर में बढ़ती नेतृत्व क्षमताओं को नये भारत की विकास यात्रा के लिए अहम बताते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को [Read more...]

चीनः 28 वर्षों में विकास दर में आई काफी कमी, अभी और गिरावट के आसार

बीजिंगः चीन की विकास दर में 1990 के बाद से अब तक सबसे अधिक कमी आई है। चीन की विकास दर 2018 में 6.6% रही, जो कि 28 साल में यह सबसे कम है। इससे पहले 1990 में चीन की [Read more...]

ऊपर