11 घंटे में तय होगा दिल्ली से मुंबई का सफर

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि दिल्ली और मुंबई को जोड़ने वाले नए एक्सप्रेस हाईवे का निर्माण कराया जाएगा। इस हाईवे पर एक लाख करोड़ रुपये का खर्च आएगा। इसके बनने के बाद कार से दिल्ली से मुंबई का सफर 24 घंटे के बजाए 11 घंटे में ही पूरा जाएगा। परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री ने चंबल एक्सप्रेसवे निर्माण की योजना के बारे में भी बात की। यह एक्सप्रेसवे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ेगा। चंबल एक्सप्रेस-वे से मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों को लाभ पहुंचेगा।
नए हाईवे को विकसित किए जाने की घोषणा
सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि गडकरी ने दिल्ली और मुंबई को जोड़ने वाले नए हाईवे को विकसित किए जाने की घोषणा की है। इस योजना पर एक लाख कराड़ रुपये की लागत आएगी। अभी चल रही कुल दस परियोजनाओं पर 35,600 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।
घट जाएगी दूरी
एक्सप्रेस वे बनने के बाद दिल्ली और मुंबई के बीच की दूरी 1450 किमी से घटकर 1250 किमी हो जाएगी। इसके बाद यात्री महज 12 घंटे में इन शहरों में पहुंच सकेंगे। फिलहाल दिल्ली से मुंबई जाने के लिए 24 घंटे का समय लगता है। गडकरी ने कहा कि दिसंबर से इस पर काम शुरू हो जाएगा और यह अगले तीन सालों में बनकर तैयार हो जाएगा। ये एक्सप्रेसवे गुरुग्राम में राजीव चौक से शुरू होगा। ये एक्सप्रेस वे गुरुग्राम होते हुए दिल्ली से अलवर-सवाई माधोपुर-वडोदरा के रास्ते मुंबई तक जाएगा।

Leave a Comment

अन्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

मुख्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

उपर