सपा-बसपा गठबंधन का ऐलान कल

लखनऊ : लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी मिलकर चुनाव लड़ेंगे। दोनों ही पार्टियों के बीच सैद्धांतिक समझौता हो चुका है। अब केवल इसका औपचारिक ऐलान किया जाना बाकी है। सूत्रों की माने तो सपा और बसपा के गठबंधन का औपचारिक ऐलान शनिवार को हो सकता है। मालूम हो कि एसपी-बीएसपी के गठबंधन को लेकर लंबे वक्त से चर्चा चल रही थी। लोकसभा चुनाव 2019 के लिए उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच सीट शेयरिंग का फॉर्मूला तैयार हो चुका है। इसका सिर्फ औपचारिक ऐलान किया जाना बाकी है। जो फॉर्मूला तैयार हुआ है उसके मुताबिक समाजवादी पार्टी-37 सीट, बहुजन समाज पार्टी- 37 सीट, राष्ट्रीय लोकदल-3 और क्षेत्रीय निषाद पार्टी को 1 सीट। मालूम हो कि बीते शुक्रवार को राजधानी दिल्ली में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने बीएसपी सुप्रीमो मायावती से मुलाकात की थी। मायावती और अखिलेश यादव की मुलाकात करीब डेढ़ घंटे तक चली थी। इसी मुलाकात में गठबंधन के फॉर्मूले पर अंतिम मुहर लगी थी। जानकारी के मुताबिक लखनऊ के गोमती नगर में स्थित होटल ताज में अखिलेश यादव और मायावती शनिवार को दोपहर 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। हालांकि इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीट बंटवारे का ऐलान होगा या नहीं, इसे लेकर अभी कोई खबर नहीं है।

यूपी की 80 लोकसभा सीटों के लिए सपा-बसपा का फॉर्मूला
सूत्रों के हवाले से खबर है कि दोनों पार्टियों ने फिलहाल यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से 76 पर महागठबंधन के तहत साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला कर लिया है। बाकी बची 4 सीटों को लेकर खबर है कि इनमें से दो सीटें अमेठी और रायबरेली कांग्रेस के लिए छोड़ी जा सकती हैं, जबकि दो सीटों पर फैसला होना अभी बाकी है। एक अहम खबर यह भी है कि समाजवादी पार्टी को मिली 37 सीटों में से ही अखिलेश यादव निषाद पार्टी और पीस पार्टी को भी सीटें देंगे। गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में अखिलेश को इन दोनों पार्टियों का साथ मिला था। गोरखपुर में तो निषाद पार्टी प्रमुख के बेटे को ही सपा के टिकट पर लड़ाया गया था।

मुलायम गठबंधन पर पहले ही लगा चुके है मुहर
मालूम हो कि बीते मंगलवार को किशनी के ग्राम चांदा में आयोजित जनसभा में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सपा और बसपा के प्रस्तावित गठबंधन पर मुहर लगा दी। मुलायम ने कहा कि सपा और बसपा से कोई मुकाबला नहीं कर सकता। सपा और बसपा मिलकर चुनाव लड़ें तो देश की राजनीति बदल जाएगी। उन्होंने मैनपुरी में सपा को जिताने के लिए लोगों का आभार ही व्यक्त नहीं किया बल्कि ये भी कहा कि मैनपुरी में हर वर्ग के लोग मुलायम को जिताते हैं। उन्होंने कहा कि सपा किसानों, व्यापारियों और युवाओं को लेकर चलती है। सपा की नीतियां देश में सबसे अच्छी हैं। सपा जो कहती है, वही करती है। गठबंधन की कोशिश अच्छी है। दोनों एक होने से लोकसभा चुनाव में कोई नहीं हरा पाएगा। उन्होंने जनसभा में बसपा के लोगों का धन्यवाद दिया और कहा कि इस पहल को आगे भी जारी रखा जाएगा।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

सब्जी वाले से पत्नी ने हंसकर की बात तो पति ने उड़ा दी गर्दन

राजस्‍थान : पत्नी ने हंसकर बात की तो पति ने उड़ा दी सब्जी बेचने वाले की गर्दन। यह अजीब मामला राजस्‍थान के राजसमंद जिले की है। राजस्थान के एक गांव में 27 साल के नैना स‍िंह ने 48 साल के [Read more...]

डॉक्टर ने इतनी जोर खींचा कि बच्चे का शरीर दो हिस्सों में बंट गया

राजस्‍थान : हम लोग अक्सर अस्पताल या डॉक्टरों की तरफ मरीज के साथ हुई लापरवाही की बातें सुने या पढ़े होंगे। ऐसा ही एक बार फिर पूरे चिकित्‍सा जगत की असंवेदनशीलता और लापरवाही सामने आई है। राजस्‍थान के रामगढ़ में [Read more...]

मुख्य समाचार

सब्जी वाले से पत्नी ने हंसकर की बात तो पति ने उड़ा दी गर्दन

राजस्‍थान : पत्नी ने हंसकर बात की तो पति ने उड़ा दी सब्जी बेचने वाले की गर्दन। यह अजीब मामला राजस्‍थान के राजसमंद जिले की है। राजस्थान के एक गांव में 27 साल के नैना स‍िंह ने 48 साल के [Read more...]

प्रवासी भारतीय दिवस में होंगे दो नये आकर्षण : स्वराज

प्रवासी भारतीय दिवस के लिए अब तक 5802 लोगों का पंजीकरण।।अतिथियों को बदलती हुई काशी दिखायी जायेगी : योगी लखनऊ : केन्द्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस की। [Read more...]

ऊपर