लोजपा ने किया साफ- लोकसभा चुनाव में नीतीश नहीं मोदी होगा चेहरा

नई‌ दिल्लीः राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में शामिल भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सहयोगी दल में सीटों के खींचतान को लेकर अंदर की जंग शुरू हो चुकी है। इसके संकेत भी मिलने लगे है। लोकसभा चुनाव नजदीक आते देख एनडीए में शामिल बीजेपी के सहयोगी दल सीटों के बंटवारे को लेकर अपनी रणनीति तैयार करने में जुट गए हैं। एनडीए में शामिल बिहार की एक और प्रमुख लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने मंगलवार को साफ कर दिया कि अगले लोकसभा चुनाव में बिहार में नीतीश कुमार नहीं बल्कि नरेंद्र मोदी एनडीए का चेहरा होंगे। लोजपा के इस तरह नीतीश के खिलाफ मुखर होने से एक बात तो तय है कि 40 लोकसभा सीटों वाले बिहार में जेडीयू को साधना बीजेपी के लिए आसान नहीं होगा। आपको बता दें कि जेडीयू बिहार में ‘बिग ब्रदर’ की भूमिका चाहती है। माना जा रहा है कि पहले से दावा ठोककर पार्टी ज्यादा से ज्यादा सीटें अपने पास रखने की रणनीति पर काम कर रही है। लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद चिराग पासवान ने कहा कि 2019 में एनडीए बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नहीं बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे को आगे कर चुनाव लड़ेगी। इससे 2 दिन पहले ही जेडीयू के नेताओं पवन वर्मा और केसी त्यागी ने दावा किया था कि बिहार में अगले साल नीतीश कुमार एनडीए की अगुआई करेंगे। हालांकि मंगलवार को केंद्रीय मंत्री और एलजेपी के अध्यक्ष राम विलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने ऐसी संभावना को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) अगला लोकसभा चुनाव मोदी के नेतृत्व में ही लड़ेगाऔर मोदी के नाम पर ही जनता से वोट मांगेगा। कहा कि लोकसभा चुनाव सीधे तौर पर मोदी के नाम पर लड़ा जाएगा, इसमें कोई संदेह नहीं है।
मालूम हो कि हाल के कुछ उपचुनावों में बीजेपी की हार से विपक्ष ही नहीं सहयोगियों को भी सौदेबाजी करने का मौका नजर आने लगा है। यही वजह है कि गुरुवार को होनेवाली एनडीए की अहम बैठक से पहले ही जेडीयू ने ऐलान कर दिया कि बिहार में नीतीश कुमार एनडीए का चेहरा होंगे। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि नरेंद्र मोदी के चेहरे को आगे कर 2014 का चुनाव लड़ने वाली बीजेपी क्या जेडीयू के इस ऑफर को स्वीकार करेगी।

Leave a Comment

अन्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

मुख्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

ऊपर