महिला को निर्वस्त्र घुमाने पर बड़ी कार्रवाई, राजद नेता समेत 16 गिरफ्तार

आराः बिहार के भोजपुर जिले में बिहिया थाना क्षेत्र के बिहिया स्टेशन के निकट एक युवक का शव मिलने के बाद आक्रोशित लोगों के एक महिला को सड़क पर नग्न घुमाने के मामले में पुलिस ने अब तक 16 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। भोजपुर के पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने आज यहां टेलीफोन पर बताया कि इस मामले में अब तक 16 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है। उन्होंने बताया कि नग्न स्थिति में सड़क पर घुमायी गई महिला की फोटो खींचने और वीडियो बनाने वालों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार के लिए छापेमारी की जा रही है।
हत्या में शामिल को नहीं छोड़ा जाएगा
कुमार ने कहा कि 19 वर्षीय युवक विमलेश शाह की हत्या में संलिप्त नृत्य एवं थियेटर ग्रुप की महिला सदस्य को किसी भी कीमत पर छोड़ा नहीं जाएगा। वहीं, बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने इस घटना को लेकर ट्वीट किया, ‘इस कानून विहीन राज्य में भीड़ ने एक महिला को पहले दौड़ा-दौड़ाकर पीटा और उसके बाद उसे नग्न कर सड़क पर घुमाया। इंसानियत को तार-तार करने वाली इस घटना के बारे में सुनकर रूह कांप गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मैं आग्रह करता हूं कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति ठीक कर महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करें।’
क्या है मामला?
पुलिस सूत्रों ने बताया कि कल दोपहर करीब दो बजे लोगों ने बिहिया रेलवे स्टेशन के निकट एक युवक का शव पड़ा देखा। उसकी पहचान भोजपुर जिले में शाहपुर थाना क्षेत्र के दामोदरपुर गांव निवासी गणेश शाह के पुत्र विमलेश कुमार के रूप में हुई। इसकी सूचना मिलते ही लोग आक्रोशित हो गये। सैकड़ों की संख्या में पहुंचे लोगों ने घटनास्थल के निकट डफाली मुहल्ले पर हमला कर दिया। इसके अलावा भीड़ ने आस-पास की कई दुकानों में भी आग लगा दी।
फैल गई अफवाह
सूत्रों ने बताया कि आक्रोशित भीड़ जैसे ही डफाली मुहल्ले पहुंची वहां रह रही नट जाति की नर्तकियों के घर में ताला लगा हुआ था। पूछने पर पता चला कि वे अपने बच्चे का इलाज कराने अस्पताल गई है। इसी क्रम में अफवाह फैल गई की हत्या के बाद नर्तकी का परिवार भाग गया है। उग, भीड़ ने घरों में तोड़फोड़ की तथा एक चर्चित नर्तकी को पकड़कर उसे नग्न अवस्था में सड़क पर घुमाया।
भीड़ ने पुलिस पर भी किया हमला
सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने विरोध किया तो भीड़ ने उन पर भी हमला कर दिया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी। बाद में शाहपुर, बिहिया, तियर एवं आरा थाने से पहुंचे भारी संख्या में पुलिस बल ने स्थिति को नियंत्रित किया। भोजपुर के जिला अधिकारी संजीव कुमार एवं पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार अभी भी मौके पर कैंप कर रहे हैं। स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। वहीं, इस मामले में कोताही बरतने के आरोप में बिहिया थाना के अध्यक्ष एवं राजकीय रेल पुलिस (जीआरपी), आरा थाने के अध्यक्ष को कल देर रात निलंबित कर दिया गया।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

नरेंद्र मोदी और अशरफ गनी के बीच हुई महत्वपूर्ण बैठक

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने अशांत अफगानिस्तान में जारी शांति प्रक्रिया की स्थिति सहित अनेक महत्वपूर्ण क्षेत्रीय एवं द्विपक्षीय मुद्दों पर बुधवार को यहां गहन विचार विमर्श किया। नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर [Read more...]

विजय माल्‍या ने स्विस बैंक में भेजे 170 करोड़, भारतीय एजेंसियां नहीं रोक पाई

नई दिल्लीः ब्रिटिश सरकार ने भगौड़ा विजय माल्या के लंदन स्थित संपत्ति को फ्रीज कर दिया, लेकिन इससे पहले वह एक बड़ी रकम स्विस बैंक में ट्रांसफर करने में सफल हुआ था। इस बारे में ब्रिटेन द्वारा भारतीय एजेंसियों ने [Read more...]

मुख्य समाचार

भाजपा के सामने किसी राजनीतिक दल की कोई चुनौती नहीं : कैलाश विजयवर्गीय

नीमच : भारतीय जनता पार्टी के महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि देश में अब उनकी पार्टी के सामने कांग्रेस या अन्य किसी राजनीतिक दल की कोई चुनौती नहीं है। कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार दोपहर नीमच और जावद में कार्यकर्ताओं [Read more...]

नरेंद्र मोदी और अशरफ गनी के बीच हुई महत्वपूर्ण बैठक

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने अशांत अफगानिस्तान में जारी शांति प्रक्रिया की स्थिति सहित अनेक महत्वपूर्ण क्षेत्रीय एवं द्विपक्षीय मुद्दों पर बुधवार को यहां गहन विचार विमर्श किया। नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर [Read more...]

ऊपर