गया से गायब हुए तेजप्रताप, इंतजार करती रही ऐश्वर्या

पटना : लालू के लाल इन दिनों चर्चा का विषय बने हुए हैं। अपने पिता से सांची में मुलाकात के बाद तेजप्रताप बोधगया के एक होटल से अचानक गायब हो गए और उनके सुरक्षाकर्मियों को भनक तक नहीं लगी। जानकारी के अनुसार तेजप्रताप जिस कमरे में ठहरे थे उसके पिछले दरवाजे पर उनके दोस्त की गाड़ी लगी थी जो अब नहीं है। सुरक्षाकर्मियों ने जब कमरे का दरवाजा खुलवाया तो पता चला कि तेजप्रताप गायब हैं। आपको बता दें कि तेजप्रताप इन दिनों अदालत में पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने की अर्जी दाखिल करने की वजह से सुर्खियों में हैं। वह पत्नी से किसी भी हाल में सुलह करने के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं।
आपको बता दें कि पिता से मिलने के बाद रविवार को उन्होंने कहा था कि मेरे साथ न मां हैं और न ही पिता हैं। मैं अकेला हो गया हूं। तलाक लेने का फैसला अंतिम है। मैं इस फैसले से पीछे नहीं हटूंगा। यादव ने कहा था कि परिवार में कोई भी आदमी उन्हें सपोर्ट नहीं कर रहा है। उनके परिवार ने उन्हें नकारते हुए ऐश्वर्या का समर्थन करना शुरू कर दिया है।
नहीं मानी पिता की बात, मां और ऐश्वर्या करती रहीं इंतजार –

ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी लगाने के बाद तेजप्रताप अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने रांची गए थे। लालू यादव ने उन्हें समझाने की कोशिश की लेकिन तेजप्रताप ने बात नहीं मानी और पिता से मुलाकात के बाद बोधगया के एक होटल में रूके थे। लेकिन दोपहर बाद वह अचानक कमरे से गायब हो गए। बताया जा रहा है कि तेजप्रताप पिछले दरवाजे से निकल गए और सुरक्षाकर्मियों को इसका पता तक चला। तेजपताप के गायब होने की बात तब पता चली जब राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के विधायक कुमार सर्वजीत के होटल उनसे मिलने होटल पहुंचें। लेकिन जब तेजप्रताप के रूम का दरवाजा खोला गया तो पता चला कि वह अपने दो दोस्तों और चालक के साथ गायब हैं।
इसके बाद सुरक्षाकर्मियों में अफरातफरी मच गई। अब ये भी पता नहीं है कि तेजप्रताप यादव कहां निकल गए। वह सोमवार की शाम को पटना पहुंचने वाले थे जहां वे पत्नी ऐश्वर्या और मां राबड़ी देवी से मिलने वाले थे। तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद लगातार परिवार उन्हें मनाने की कोशिश कर रहा है। इसी मान-मनोव्वल के बीच वह पटना लौटने के लिए तैयार हुए थे। वहीं पार्टी के कार्यकर्ता और मीडियाकर्मी भी उनसे मिलने के लिए होटल में उनका इंतजार कर रहे थे। लेकिन इस तरह से अचानक गायब होने से ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि कहीं वे वृंदावन तो नहीं चले गए?
गुस्से में पटक दिया था मोबाइल –

जानकारी के अनुसार तेजप्रताप सोमवार को सुबह से ही अपने कमरे से नहीं निकले थे। उन्‍होंने खाना भी कमरे में ही मांगाया था। पटना से परिजनों के लगातार आ रहे फोन से परेशान होकर उन्होंने गुस्से में अपना मोबाइल फोन भी पटक दिया और अपने कमरे को अंदर से बंद कर लिया। काफी समय बीत जाने के बाद जब बोधगया के आरजेडी विधायक सर्वजीत के मोबाइल पर फोन आया जिसके बाद तेजप्रताप के कमरे को खुलवाने की कोशिश की गई लेकिन दरवाजा नहीं खुला। होटल की मास्टर चाबी से दरवाजा खोला गया तो तेजप्रताप कमरे में नहीं थे। वह कहां गए इसके बारे में अभी तक जानकारी नहीं मिल पा रही है। आरजेडी विधायक सर्वजीत ने बताया कि तेजप्रताप शान्ति के लिए बोधगया आए थे।


एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

मुख्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

ऊपर