खत्म हुआ खेलों का महाकुम्‍भ

सन्मार्ग विशेष

26 स्वर्ण के साथ तीसरे नम्बर पर रहा भारत

गोल्ड कोस्टः जगमगाती रोशनी, संगीत व सुरों, खिलाड़ियों के भावनाओं के सैलाब, भविष्य की नई उम्मीदों व आशाओं के साथ 21वें गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों का रविवार को रंगारंग समापन हो गया। समारोह में आस्ट्रेलिया के इतिहास और परंपरा की झलक मिली। इसके साथ ही भारतीय दल की अगुआई मैरीकॉम ने की जिन्होंने 35 साल की उम्र में पदार्पण करते हुए स्वर्ण पदक जीता। 12 दिनों के लंबे और खेलों के रोमांच से भरपूर सफर के बाद राष्ट्रमंडल खेलों के आखिरी दिन भी भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी रहा। इसमें बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल ने आखिरी दिन भारत को एक स्वर्ण पदक दिलाया। इसके अलावा पीवी सिंधू, किदांबी श्रीकांत और सात्विक साईराज रंकीरैड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने अपने-अपने मुकाबले में 3 रजत, टेबल टेनिस में अचंत शरत कमल, मणिका-गणाशेेखरन की जोड़ी ने 2 रजत और स्क्वॉश में दीपिका-चिनप्पा की जोड़ी ने 1 रजत पदक दिलाकर भारत को कुल 7 पदक दिलाए।
भारत ने पूरे किए 500 पदक
रविवार को हुए विभिन्न मुकाबलों में आस्ट्रेलिया 80 स्वर्ण सहित 198 पदक जीतकर पहले, इंग्लैंड 45 स्वर्ण सहित 136 पदक जीतकर दूसरे और भारत ने अंतिम दिन 1 स्वर्ण पदक जीतकर कुल 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य सहित कुल 66 पदक जीतकर तालिका में तीसरे स्थान पर रहा। साथ ही भारत ने इन 66 पदकों के साथ राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में 500 पदक भी पूरे कर लिये और यह उपलब्धि हासिल करने वाला वह पांचवां देश बन गया। भारत ने 2014 के ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों की 15 स्वर्ण सहित 64 की कुल पदक संख्या को कहीं पीछे छोड़ दिया। भारत का राष्ट्रमंडल खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन अपनी मेजबानी में 2010 दिल्ली में दूसरा स्थान रहा था जहां उसने 38 स्वर्ण सहित कुल 101 पदक जीते थे। भारत ने 2002 के मैनचेस्टर राष्ट्रमंडल खेलों में 30 स्वर्ण सहित 69 पदक जीते थे और उस समय वह चौथे स्थान पर रहा था। राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में भारत के अब कुल 504 पदक हो गये हैं जिनमें 181 स्वर्ण, 175 रजत और 148 कांस्य पदक शामिल हैं। बता दें कि 1930 में शुरू हुई राष्ट्रमंडल खेलों में भारत अब तक 500 से अधिक पदक जीत लिया है।
इन खेलों में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन
भारत ने इन खेलों के कई प्रतियोगिताओं में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। खासतौर पर मुक्केबाजी, भारोत्तोलन, निशानेबाजी, टेबल टेनिस, कुश्ती और बैडमिंटन में भारत का प्रदर्शन चरम पर रहा और भारत ने अपने सर्वाधिक पदक इन्हीं खेलों में जीते। निशानेबाजीः निशानेबाजी में भारत ने सबसे ज्यादा पदक हासिल किये। युवा निशानेबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने 7 स्वर्ण, 4 रजत और 5 कांस्य पदक कुल 16 पदक जीते। इसके बाद कुश्ती का नंबर रहा जहां भारत ने 5 स्वर्ण, 3 रजत और 4 कांस्य सहित कुल 12 पदक जीते। इसके बाद मुक्केबाजी और भारोत्तोलन का नंबर रहा जहां भारतीय खिलाड़ियों ने 9-9 पदक जीते। भारोत्तोलन में भारत को 5 स्वर्ण, 2 रजत और 2 कांस्य तथा मुक्केबाजी में 3 स्वर्ण, 3 रजत और 3 कांस्य पदक मिले। टेबल टेनिस की कामयाबी हर लिहाज से हैरतअंगेज रही जिसमें भारतीय खिलाड़ियों ने 3 स्वर्ण, 2 रजत और 3 कांस्य सहित कुल 8 पदक जीते। बैडमिंटन में भारत ने 2 स्वर्ण, 3 रजत और 1 कांस्य सहित 6 पदक हासिल किये। एथलेटिक्स में भारत को 1 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य पदक मिला। स्क्वैश में भारत के हिस्से में 2 रजत पदक आये। पैरा पावरलिफि्टंग में भारत को 1 कांस्य पदक मिला। बता दें कि भारत ने गोल्ड कोस्ट में 226 सदस्यीय दल उतारा था जिसमें आठ पैरा खिलाड़ी भी शामिल थे।
8 साल पहले की उपलब्धि को दोहराया
बैडमिंटन में सायना ने आठ साल पहले की दिल्ली की उपलब्धि को दोहराया। उन्होंने भारत को ऐतिहासिक टीम स्वर्ण दिलाने के साथ साथ महिला एकल स्वर्ण भी जीता और वह राष्ट्रमंडल खेलों में 2 बैडमिंटन स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गयीं। कुश्ती के पहलवान सुशील कुमार ने अपने आलोचकों को गलत साबित करते हुये 74 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीता और राष्ट्रमंडल खेलों में खिताबी हैट्रिक पूरी की। सुशील ने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो में भी स्वर्ण पदक जीते थे।
भारत के अब तक के प्रदर्शन
वर्ष- स्थान -स्वर्ण-रजत- कांस्य- कुल
2002- मेनचेस्टर- 30- 22-17- 69
2010- दिल्ली- 38- 27- 36 – 101
2014-ग्लास्गो- 15- 30- 19- 64
बैडमिंटनः सायना ने बाजी मारी
महिला सिंगल्स में सायना नेहवाल और पीवी सिंधु आमने-सामने थीं। हाई वोल्टेज ड्रामे में सायना ने एक बार फिर अपनी श्रेष्ठता दिखाते हुए स्वर्ण पर कब्जा जमाया। रियो ओलंपिक में सिल्वर मैडल विजेता पीवी सिंधु ने हालांकि फाइनल में सायना को कड़ी टक्कर दी लेकिन वह उनके अनुभव से पार नहीं पा सकीं। सायना इससे राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण पाने वाली अकेली बैडमिंटन प्लेयर भी बन गई हैं। 56 मिनट तक चले फाइनल में उन्होंने सिंधु को 21-18, 23-21 से हराया।
3 रजत पदक मिले
सायना से हारकर पीवी सिंधू ने रजत पदक हासिल किया। पुरुष वर्ग में नंबर वन बने भारतीय शटलर किदांबी श्रीकांत पुरुष सिंगल में उलटफेर का शिकार हो गए। वह मलेशिया के दिग्गज ली चोंग वेई ने एक घंटे पांच मिनट चले मैच दौरान 19-21, 21-14, 21-14 से हार गए और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा।
पुरुष डबल्स वर्ग में भी भारतीय जोड़ी सात्विक साईराज रंकीरैड्डी और चिराग शेट्टी फाइनल में पहुंचे थे, लेकिन वह इंग्लैंड की मार्कस एलिस और क्रिस लेंगरिज की जोड़ी को टक्कर नहीं दे पाए और सीधे सेटों में 13-21, 16-21 से हार गए और रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा। इस प्रकार से भारत की झोली में 3 रजत पदक आए।
टेबल टेनिस : भारत को 2 कांस्य पदक
अचंत शरत कमल ने पुरुषों की एकल वर्ग स्पर्धा का कांस्य पदक अपने नाम किया। शरत का कांस्य के लिए इंग्लैंड के सैमुएल वॉकर से मुकाबला हुआ था जो उन्होंने 4-1 (11-7, 11-9, 9-11, 11-6, 12-10) से हराकर जीता। मिक्सड डबल्स में मणिका बत्रा और साथियान गणाशेखरन ने भी कांस्य पदक अपने नाम किया। मणिका-साथियान की जोड़ी ने हमवतन शरथ-मौमा को एकतरफा मुकाबले में 3-0 (11-6, 11-2,11-4) से हराकर इन खेलों का पहला कास्य भी हासिल किया।
स्कवॉश : दीपिका-चिनप्पा की जोड़ी को रजत पदक
महिला डबल में दीपिका पल्लिकल कार्तिक और जोशना चिनप्पा की जोड़ी को भी फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। जोशना-दीपिका का फाइनल में न्यूजीलैंड की जोले किंग और अमांडा लैंडर्स मर्फी से मुकाबला था जो वह महज 21 मिनट तक चले मैच दौरान 11-9, 11-8 से हार गईं। इस तरह दोनों को रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा।

भारत के 26 स्वर्ण पदक

ऑस्ट्रेलिया: 80 – 59 – 59 – 198
इंग्लैंड: 45 – 45 – 46 – 136
भारत: 26 – 20 – 20 – 66
कनाडा: 15 – 40 – 27 – 82
न्यूजीलैंड: 15 – 16 – 15 – 46

Leave a Comment

अन्य समाचार

हंगामे के बीच सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार

नई दिल्लीः संसद का मॉनसून सत्र बुधवार से शुरू हुआ है, और पहले ही दिन सदन में जोरदार हंगामा देखने को मिला। हंगामें के बीच विपक्ष द्वारा सरकार के खिलाफ लोकसभा में रखे गए अविश्वास प्रस्ताव को स्पीकर सुमित्रा महाजन [Read more...]

विराट ने धोनी व एबी को पीछे छोड़ा

नई दिल्लीः भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए आखिरी वनडे मैच में कप्तान विराट कोहली ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बना डाला। इंग्लैंड के खिलाफ पारी का 15वां रन बनाते ही विराट कोहली ने वनडे क्रिकेट में कप्तान के तौर पर [Read more...]

मुख्य समाचार

कश्मीर में पाकिस्तानी व इस्लामिक टीवी चैनलों पर प्रतिबंध

श्रीनगर (जेके ब्यूरो): जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल एन एन वोहरा आक्रामक मूड में हैं। पहले उन्होंने आतंकी गतिविधियों और पत्थरबाजी को बढ़ावा देने वाले व्हाट्सएप ग्रुपों की नकेल कसी अब कश्मीर में पाकिस्तानी व इस्लामिक टीवी चैनलों को प्रतिबंधित कर दिया। [Read more...]

अमरनाथ श्रद्धालु की मौत, 18वां जत्था रवाना

जम्मूः सरस्वती धाम रेलवे स्टेशन के समीप एक वाहन की टक्कर से घायल होने पर जीएमसी अस्पताल में भर्ती महाराष्ट्र की तीर्थयात्री गया भाई कैले (61) की मंगलवार की शाम मृत्यु हो गयी, जबकि दिल का दौरा पड़ने के बाद [Read more...]

ऊपर