केरल में जल प्रलय, 29 मरे, 54 हजार से ज्यादा लोग बेघर

नयी दिल्‍ली :  केरल मे बाढ़ का प्रकोप जारी है। यहां जल प्रलय जैसी स्‍थिति बन गयी है। प्रदेश में बारिश और बाढ़ से अब तक 29 लोगों ने जाने गवां दी है। इडुक्की जलाशय के चौथे दरवाजे को खोलने के बाद पेरियार नदी का जलस्तर इतना बढ़ गया है कि इरनाकुलम जिला लगभग डूब गया है। इसी वजह से अधिकारियों ने स्कूल और दफ्तर बंद करने के आदेश दिए हैं। जलस्तर बढ़ने की वजह से कोच्चि एयरपोर्ट के डूबने की आशंका भी जताई जा रही है। जलाशय का पानी जो जिले से 130 किलोमीटर की दूरी पर है उसने पहले ही शहर के निचले इलाकों के लिए खतरा पैदा कर दिया है। इरनाकुलम के जिला कलेक्टर मोहम्मद सफीरुल्ला ने कहा कि हम हाई अलर्ट पर हैं। निचले इलाकों में रह रहे कम से कम 4000 लोगों को राहत एवं बचाव कैंप में भेज दिया गया है।
स्‍कूल, कालेज बंद करने के आदेश
पेरियार, जो भारतपुझा के बाद राज्य की दूसरी सबसे बड़ी नदी है, उसका उद्गम पश्चिमी घाट से होता है। यह कोच्चि के भारी जनसंख्या वाले इलाकों से होती हुई अरब सागर में गिर जाती है। प्राधिकारी कोच्ची को लेकर चिंतित हैं। अधिकारियों ने लगातार जलस्तर बढ़ने की वजह से थ्रिसूर जिले के सभी स्कूल, कॉलेज बंद करने का फैसला लिया है। जल विद्युत परियोजनाओं के अलावा यह नदी कोच्चि सहित बहुत से क्षेत्रों के लिए पीने के पानी का मुख्य स्रोत भी है। राज्य के राजस्व मंत्री ई चंद्रशेखरन ने कहा, पानी हटाने का कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। राज्य के सभी 24 बांधों को अतिरिक्त पानी छोड़ने के लिए खोल दिया गया है।
सेना राहत कार्य में जुटी
भारी बारिश की वजह से बहुत से लोग गायब हैं। सरकार द्वारा मदद मांगने के बाद भारतीय नौसेना की चार टीमें और एक सी किंग हेलिकॉप्टर वायानाड में फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए पहुंच चुके हैं। भारतीय सेना के 200 जवान अयानकुलु, इडुक्की और वायनाड में तैनात हैं जबकि 150 जवान कोझिकोड और मल्लापुरम की ओर भेजे गए हैं। बारिश और भूस्खलन की वजह से वायनाड और इडुक्की में भारी नुकसान हुआ है। केंद्र ने केरल सरकार को बारिश एवं बाढ़ के मद्देनजर राहत और बचाव अभियान में हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान यह आश्वासन दिया। राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा, केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के साथ सूबे में पैदा हुए बाढ़ की समस्या पर चर्चा की। मैने केंद्र की तरफ से हर संभव मदद का आश्वासन राज्य सरकार को दिया है। राहत और बचाव कार्य जारी है। गृह मंत्रालय नजदीक से बाढ़ की स्थिति पर नजर बनाए हुए है।’

Leave a Comment

अन्य समाचार

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

आतंकियों का चुनाव लड़ना चिंता का विषय : मोदी

सिंगापुर : पूर्वी एशिया सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि - दुनिया में कहीं भी आतंकी हमले होते हैं आखिर में उसकी जन्मस्‍थली एक ही होती है। प्रधानमंत्री ने यह बात अमेरिकी [Read more...]

मुख्य समाचार

2 मोटरसा​इकिलों की टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल, 4 की हालत गंभीर

जामुड़िया : केंदा फांड़ी अंतर्गत तपसी के भूत बांग्ला के पास तेज गति से आ रही 2 मोटर साइकिलों में आमने-सामने हुई टक्कर में 13 से अधिक छठ व्रती घायल हो गये जिसमें 4 की हालत गंभीर बतायी जा रही [Read more...]

अल्पसंख्यको को आरएसएस से सतर्क रहने की जरूरत : कमलनाथ

भोपाल : मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ का एक विडियो वायरल हो गया है। इस वायरल विडियो में कमलनाथ अल्पसंख्यक प्रतिनिधिमंडल से कथित तौर पर कहते दिखाई दे रहे हैं कि चुनाव होने तक उन्हें सतर्क रहने की जरूरत [Read more...]

ऊपर