आज है तेजप्रताप और ऐश्वर्या राय की शादी, पहुंचे अखिलेश-डिंपल

पटनाः पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे व पूर्व स्वास्‍थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव और पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा प्रसाद राय की पोती व पूर्व मंत्री चन्द्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या की शनिवार, 12 मई को शादी के बंधन में बधेंगें। दोपहर बाद यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव पटना पहुंचीं। अखिलेश ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नहीं बना सकता, देश की जनता जिसको चाहेगी उसको प्रधानमंत्री बनाएगी। मेरा पहला लक्ष्य यूपी में भाजपा को रोकना है। लालू परिवार से मुलाकात के बाद अखिलेश यादव वापस लखनऊ लौट गए। इधर, शादी में शामिल होने वालों में शरद यादव, केंद्रीय मंत्री आरके सिंह, एनसीपी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल भी लालू आवास पहुंच गए हैं।
बग्‍घी पर सवार होकर जाएगें वरमाला पहनाने
इस शाही शादी में दूल्हा बने तेजप्रताप बीएमपी-5 की सरकारी बग्घी से ऐश्वर्या को वरमाला पहनाने वेटनरी कॉलेज परिसर जाएंगे। शनिवार शाम बारात 10 सर्कुलर रोड से हवाई अड्डा होते हुए वेटनरी कॉलेज परिसर पहुंचेगी। परिसर में अतिथियों की खातिरदारी के लिए चन्द्रिका राय की ओर से भव्य व्यवस्था की गई है। तैयारी को अंतिम रूप दे दिया गया है।
शादी की सारी तैयारी के लिए दिल्ली से पेशेवर बुलाए गए हैं
शादी की व्यवस्था के लिए दिल्ली से कई पेशेवर बुलाए गए हैं। वधू पक्ष की ओर से अतिथियों का स्वागत वेटनरी मैदान में किया जाएगा। जयमाला के बाद अतिथि वर-वधू को आशीर्वाद देंगे। वरमाला के लिए स्टेज तैयार कर लिया गया है। मंच इतना ऊंचा है कि करीब 20 हजार लोग आसानी से वर-वधू को देख सकेंगे। शादी की सारी रस्में ऐश्वर्या राय के निवास पांच सर्कुलर रोड में पूरी की जाएगी। यहां बाहरी लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। सिर्फ दोनों परिवारों के करीबी रिश्तेदार ही शामिल हो सकेंगे।
आर्केस्ट्रा के साथ 50 स्टॉल लगे खाने के
बगल में ही डांस फ्लोर बनाया गया है। आर्केस्ट्रा एवं डीजे की व्यवस्था भी की गई है। बारात में शामिल लोग चाहें तो डांस कर सकते हैं। मेहमानों के बैठने की व्यवस्था को पूरी तरह से वातानुकूलित (एसी) किया गया है। परिसर में मेहमानों के खाने के लिए करीब 50 स्टॉल बनाए गए हैं।
25 हजार बारातियों को खिलाने के लिए दिन-रात लगे हैं दो सौ हलवाई
करीब 25 हजार बारातियों को खिलाने के इंतजाम किए जा रहे हैं। विभिन्न व्यंजन बनाने में दो सौ हलवाई दिन-रात लगे हैं । मुख्य हलवाई सुभाष चंद्र गुप्ता ने बताया कि भोज की शाकाहारी व्यवस्था की जा रही है। इसमें कई तरह की वेरायटी हैं। पूड़ी-पुलाव, लिट्टी-चोखा, नान, मिस्सी रोटी, गुलाब जामुन, बूंदी मलाई, इमरती, कड़ाही पनीर, वेज कोफ्ता, परवल, आलू दम, कश्मीरी दाल, वेज बिरयानी, दही बाड़ा, पंजाबी कुल्चा, पंजाबी छोले एवं दाल मखनी आदि बनाया जा रहा है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

उत्तराखंड : 25 लोगों से भरी बस खाई में गिरी

14 लोगों की हुई मौत टिहरीः उत्तराखंड में एक और बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। यहां टिहरी जिले में 25 लोगों से भरी बस सड़क से 250 मीटर गहरी खाई में गिर गई। इस घटना में बस में सवार 14 लोगों की [Read more...]

टीम में वापसी के कुछ घंटे बाद ही मोहम्मद शमी के लिए आई बुरी खबर

कोर्ट ने शमी को किया तलब, पत्नी हसीन को दिया गया चेक बाउंस कोलकाताः इंग्लैंड के खिलाफ खेले जाने वाले टेस्ट सीरीज की लिए भारतीय टीम का चुनाव किया गया जिसमें बहुत दिनों बाद मोहम्मद शमी ने अपनी जगह पक्की की। [Read more...]

मुख्य समाचार

आदिवासियों को रिझाने की कोशिश कर रहे राजनीतिक दल

रायपुरः इस साल के अंत में होने वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में सत्तारूढ़ भाजपा चौथी बार सत्ता में आने तथा मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस अपना 15 वर्ष पुराना वनवास खत्म करने के लिए आदिवासी मतदाताओं को रिझाने की कोशिश कर [Read more...]

कांग्रेस की जनजागरण यात्रा पर चौहान का तंज

सतनाः मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के बाद कांग्रेस की जनजागरण यात्रा के बारे में कहा कि ऐसा करके कांग्रेस ने स्वयं को पिछलग्गू पार्टी साबित कर दिया। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को आड़े हाथों [Read more...]

ऊपर