आखिरकार इंफोसिस को‌ मिल ही गया नया सीईओ

नई दिल्ली/बेंगलुरू: देश की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस को तीन माह की मशक्कत के बाद नया सीईओ मिल गया। कंपनी ने सलिल एस. पारेख को अपने नए सीईओ और एमडी के पद पर नियुक्त किया है। पारेख 2 जनवरी 2018 को अपना कार्यभार ग्रहण करेंगे।
कंपनी के चेयरमैन ने कहा…
इस बारे में कंपनी के निदेशक मंडल के चेयरमैन नंदन नीलेकणि ने कहा, कि सलिल पारेख के पास सूचना प्रौद्योगिकी के सेवा क्षेत्र में करीब तीन दशक का अनुभव है। अतीत के कई कारोबारों में प्रबंध करने का उनका शानदार रिकॉर्ड रहा है। ऐसे परिवर्तनकारी समय में इंफोसिस का नेतृत्व करने के लिए पारेख एकदम उचित व्यक्ति हैं। वर्तमान में यू. बी. प्रवीण राव कंपनी के अंतरिम सीईओ और एमडी का कार्यभार संभाल रहे हैं।
कौन हैं पारेख?
आपको बता दें कि इसके पूर्व पारेख कैपजेमिनी में पूरे समूह के कार्यकारी निदेशक मंडल के सदस्य रह चुके हैं। पारेख ने कॉर्नेल विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस एवं मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर की डिग्री ली है। उन्होंने स्नातक की डिग्री भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बंबई से हासिल की है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

पूर्व सीएफओ से केस हारी इंफोसिस, अब ब्याज सहित देने होंगे 12.17 करोड़

नई दिल्लीः भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस मंगलवार को आर्बिट्रेशन केस हार गई है। अब उसे पूर्व सीएफओ राजीव बंसल को 12.17 करोड़ रुपये और ब्याज चुकाने होंगे। दरअसल, इंफोसिस के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्‍का के कार्यकाल [Read more...]

भारतीय स्पिनरों के सामने होंगे पाकिस्तान के तेज गेंदबाज, कौन पड़ेगा भारी ?

नई दिल्लीः पूरी दुनिया में फैले क्रिकेट के प्रशंसकों को इंतजार है 19 सितंबर का जब एशिया कप में भारत का सामना चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से होगा। सदियों से पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मैदान मारने की कोशिश करते हैं। वहीं [Read more...]

मुख्य समाचार

तमिलनाडु में भ्रष्टाचार के खिलाफ द्रमुक का प्रदर्शन

चेन्नईः तमिलनाडु की अन्नाद्रमुक सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए विपक्षी द्रमुक ने अपने पार्टी प्रमुख एमके स्टालिन के नेतृत्व में मंगलवार को पूरे राज्य में अन्नाद्रमुक के खिलाफ प्रदर्शन किया। स्टालिन के अलावा, उनके बेटे उदयनिधि, बहन कनिमोझी [Read more...]

तेलंगाना में टीआरएस के लिए भाजपा चुनौती : राव

हैदराबादः भाजपा प्रवक्ता व राज्यसभा सदस्य जीवीएल नरसिम्हा राव ने मंगलवार को कहा कि तेलंगाना में कांग्रेस-तेदेपा गठजोड़ से उसकी चुनावी संभावनाओं में सुधार हुआ और वहां वह खुद को टीआरएस के लिए मुख्य चुनौती मानती है क्योंकि पार्टी अपने [Read more...]

ऊपर