नीतीश ने कहा विकास सरकार की प्राथमिकता

पुल निर्माण में लालू का अहम योगदान है

पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने न्याय के साथ राज्य के सर्वांगीण विकास की प्रतिबद्धता को दुहराते हुए रविवार को कहा कि विरोधियों का काम हर मुद्दे पर राजनीति करना है और वह करते रहेंगे। लेकिन उनकी सरकार का एजेंडा राज्य के प्रत्येक कोने का विकास करना है और इसके लिए पुरजोर कोशिश जारी है। कुमार ने यहां रिमोट कंट्रोल के जरिए आरा-छपरा के बीच गंगा नदी पर नवनिर्मित उच्चस्तरीय एक्स्ट्राडोज्ड पुल वीर कुंवर सिंह सेतु और गंगा नदी पर दीघा-सोनपुर पुल (जेपी सेतु) के पहुंच पथ का लोकार्पण किया। इसके साथ ही उन्होंने 138 अन्य योजनाओं का भी उद्घाटन किया, जिनमें अनेक पुल-पुलिया शामिल हैं। मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा कि राज्य सरकार ने सड़कों एवं पुल-पुलियों के रख-रखाव के लिए कई नई नीतियां बनाई है। ग्रामीण सड़कों का निर्माण उच्च गुणवत्ता के साथ कराया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि केन्द्र सरकार ने पुल का निर्माण कर राज्य सरकार को सौंप दिया था, जिसके बाद पहुंच पथ का निर्माण राज्य सरकार को करना था। इसमें भूमि अधिग्रहण संबंधित कई अड़चनें थीं, जिन्हें दूर करते हुए बहुत कम समय में इस पहुंच पथ का निर्माण कार्य पूरा किया गया है। नीतीश ने कहा कि वर्ष 2004 में जब लालू प्रसाद यादव रेल मंत्री बने थे तो यह परियोजना केवल रेल पुल से ही संबंधित था। इस पर गहन चर्चा, निरीक्षण और अध्ययन करवाया गया। इस पुल के फाउंडेशन का विस्तृत अध्ययन किया गया कि क्या इस स्वीकृत रेल पुल पर सड़क पुल बनाया जा सकता है अथवा नहीं। तकनीकी नतीजों के आधार पर रेल सह सड़क पुल पर काम शुरु हुआ और राज्य सरकार ने सम विकास योजना के अन्तर्गत इसकी मंजूरी प्रदान कर काम शुरू कराया। उन्होंने कहा कि रेल सह सड़क पुल के निर्माण में लालू का अहम योगदान है।

जन्म दिन पर लालू को बधाई देने पहुंचे नीतीश

पटनाः राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के 70वें जन्मदिन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनके आवास पर पहुंच कर उन्हें गुलदस्ता भेंट किया और गले मिलकर बधाई दी। नीतीश ने राजद सुप्रीमो के 70वें जन्मदिन के अवसर के पर उन्हें गुलाब के 70 फूलों का गुलदस्ता भेंट कर बधाई दी। उन्होंने कहा कि  राजनीतिक जीवन और सामाजिक जीवन में छात्र जीवन से लेकर अब तक जो उनका (लालू) सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में योगदान है, वह काफी अहमियत रखता  है। जन्मदिन के अवसर पर हमारी पूरी शुभकामनाएं  हैं। हम लोग मिलकर बिहार के लोगों की सेवा और खिदमत कर रहे हैं। इस अवसर पर लालू प्रसाद यादव ने कहा कि देश की एकता के  लिए धर्मनिरपेक्ष शक्तियां एकजुट हैं और आगे भी रहेंगे तथा इसको लेकर शीघ्र ही पटना में रैली का भी आयोजन किया जाएगा।

और किसने दी बधाई?

राजद सुप्रीमो को जन्मदिन की बधाई देने वाले अन्य प्रमुख लोगों में पूर्व वित्त मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी, शिक्षा मंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक कुमार चौधरी, कृषि मंत्री रामविचार राय, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्दुल गफूर, पर्यटन मंत्री अनिता देवी, श्रम संसाधन मंत्री विजय प्रकाश, खान मंत्री मुनेश्वर चौधरी, उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह, परिवहन मंत्री चन्द्रिका यादव, कला मंत्री शिवचन्द्र राम, सांसद जयप्रकाश नारायण यादव, विधायक मुन्द्रिका सिंह यादव, श्याम रजक, सुरेन्द्र यादव, शक्ति यादव, विधान पार्षद रणविजय सिंह, संजय कुमार सिंह गांधी एवं दिलीप चौधरी सहित महागठबंधन के अन्य नेता एवं कार्यकर्ता शामिल रहे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

सेना प्रमुख के दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के बयान से डरा पाक, सीमा पर बैट एक्‍शन टीम तैनात

नई दिल्लीः भारत के सेना प्रमुख विपिन रावत के दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के बयान के बाद से पाकिस्तान डर गया है। इसलिए उसने सरहद पर बैट की टीम को तैनात कर दिया है। पाकिस्तान ने सरहद पर मोर्टार व अन्य [Read more...]

उत्तर भारत में तेज बारिश से 11 मरे, कई राज्यों में अलर्ट जारी

नई दिल्लीः उत्तर भारत के कई राज्यों में तेज बारिश का कहर अब भी जारी है। लगातार बारिश से उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन के चलते जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में कम से कम [Read more...]

मुख्य समाचार

सेना प्रमुख के दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के बयान से डरा पाक, सीमा पर बैट एक्‍शन टीम तैनात

नई दिल्लीः भारत के सेना प्रमुख विपिन रावत के दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के बयान के बाद से पाकिस्तान डर गया है। इसलिए उसने सरहद पर बैट की टीम को तैनात कर दिया है। पाकिस्तान ने सरहद पर मोर्टार व अन्य [Read more...]

उत्तर भारत में तेज बारिश से 11 मरे, कई राज्यों में अलर्ट जारी

नई दिल्लीः उत्तर भारत के कई राज्यों में तेज बारिश का कहर अब भी जारी है। लगातार बारिश से उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन के चलते जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में कम से कम [Read more...]

ऊपर