वीरे दी वेडिंग रिव्यूः क्‍या सच में बोल्‍ड है फ‍िल्‍म?

नई दिल्लीः 2018 के छठे महीने में कई द‍िलचस्‍प फ‍िल्‍में रिलीज होने वाली हैं। इनमें से पहली तारीख को दर्शकों के सामने आयी है वीरे दी वेड‍िंग जो महिलाओं पर केंद्रित फ‍िल्‍म है और 25 अप्रैल को रिलीज हुए ट्रेलर के बाद से बोल्‍ड डायलॉग्‍स के साथ अपने गानों को लेकर लगातार चर्चा में बनी हुई है।
क्या है कहानी?
फिल्म की कहानी चार सहेल‍ियों के इर्द-गिर्द बुनी गई है और मॉडर्न आउटलुक के साथ इनकी जिंदगी की उलझनों को दर्शकों के सामने रखती है। फ‍िल्‍म में करीना कपूर ने कालिंदी का रोल किया है जो प्‍यार में है लेकिन शादी के नाम पर उसे तमाम उम्मीदों पर खरा उतरना बहुत मुश्‍क‍िल लगता है और इसके साथ वह सहज नहीं हो पाती है। वहीं सोनम कपूर को आप अवनी के रोल में देखेंगे जिसकी मां दिन-रात उसके लिए जीवनसाथी ढूंढने में जुटी है लेकिन उसे कोई पसंद नहीं आ रहा है। ऐसे ही साक्षी के रोल में स्वरा भास्कर और मीरा के किरदार में शिखा तल्सानिया अपनी-अपनी जिंदगी की परेशान‍ियों से जूझ रही हैं।

गालियों की भरमार के कारण ए सर्टिफिकेट

सेंसर बोर्ड ने फिल्म देखने के बाद इसमें कई कट लगाने को कहा था, लेकिन निर्माता-निर्देशक के साथ-साथ दो-दो हीरोइनों के पिताजी अड़ गए कि कोई सीन नहीं काटेंगे। सेंसर बोर्ड के सदस्यों ने अश्लीलता और गालियां कम करने की सलाह दी, लेकिन वे नहीं माने तो ए सर्टिफिकेट दे दिया गया। पाकिस्तान ने भी गालियों और अश्लीलता के कारण इसे रिलीज करने से ही इनकार कर दिया। हां, खुद को बोल्ड मानने वाली लड़कियों को यह पसंद आ सकती है, लेकिन परिवार के साथ देखने लायक तो यह बिल्कुल भी नहीं है।

कहीं-कहीं ढीली पड़ी फिल्म
फ‍िल्‍म का निर्देशन शशांक घोष ने किया है। उन्‍होंने कहानी के किरदारों को तो अच्‍छा पकड़ा है लेकिन डायलॉगबाजी दिखाने के चक्‍कर में फ‍िल्‍म कहीं-कहीं ढीली पड़ जाती है। शायद इसकी वजह ये है कि आज के जमाने की लड़क‍ियों की बातचीत को दिखाने पर निर्देशक का फोकस ज्‍यादा रहा। वहीं फ‍िल्‍म के गाने भी बहुत ज्‍यादा दिलचस्‍प नहीं हैं। लेकिन हां जो लोग फैशन ट्रेंड्स या लुक्‍स कैसे कैरी किए जाएं जैसी बातों पर फोकस करते हैं तो सोनम कपूर और करीना कपूर का स्‍टाइल उनको निराश नहीं करेगा। रिया कपूर अपनी बहन सोनम कपूर की फ‍िल्‍मों के ल‍िए इस पॉइंट पर बहुत मेहनत करती हैं और इस बार भी बहनों की जोड़ी ने निराश नहीं किया है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह राजनीति नहीं देशभक्ति है : जावड़ेकर

नयी दिल्ली : विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह पर विश्वविद्यालयों को जारी संवाद पर विवाद के मद्देनजर मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सफाई देते हुए कहा कि इसमें कोई राजनीति नहीं है, बल्कि यह देशभक्ति [Read more...]

संघ के विचारधारा से नहीं चलेगा देश : राहुल

नयी दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को शिक्षकों के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सवाल-जवाब के दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर हमला बोला। राहुल गांधी ने कहा कि वह समझ रहे हैं कि शिक्षकों पर एक [Read more...]

विश्व में आतंक प्रभावित देशों में भारत तीसरे स्‍थान पर, भारत समेत 5 देशों में 59 फीसदी हमले

तीन दिन पहले ऐसा फैसला सुनाया जिसके बारे बात करने में भी संकोच करती थी अन्य सरकारः पीएम मोदी

स्वामी असीमानंद को बरी करने वाले जज भाजपा में शामिल होना चाहते हैं

भारत-पाक बातचीत रद्द होने से बौखलाया पाक, इमरान खान ने यह कहा

खेल रत्न के लिए अब कोर्ट नहीं जाएंगे बजरंग, मेंटर योगेश्वर की सलाह के बाद बदला फैसला

एशिया कप के रिकार्डधारी बने धवन, 34 साल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ

ट्रंप सरकार एच-4 वीजाधारकों के वर्क परमिट को रद्द करेगी, भारतीयों पर पड़ेगा सर्वाधिक असर

राफेल मामले में फ्रांस्वा ओलांद के खुलासे के बाद फ्रांस सरकार ने दिया बयान

मुख्य समाचार

सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह राजनीति नहीं देशभक्ति है : जावड़ेकर

नयी दिल्ली : विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह पर विश्वविद्यालयों को जारी संवाद पर विवाद के मद्देनजर मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सफाई देते हुए कहा कि इसमें कोई राजनीति नहीं है, बल्कि यह देशभक्ति [Read more...]

संघ के विचारधारा से नहीं चलेगा देश : राहुल

नयी दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को शिक्षकों के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सवाल-जवाब के दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर हमला बोला। राहुल गांधी ने कहा कि वह समझ रहे हैं कि शिक्षकों पर एक [Read more...]

ऊपर