फिल्म समीक्षा/अजहर: अजहरुद्दीन की कमीज चमकाने की कोशिश

अजहर के अंतिम दृश्य को देखते हुए एक कहावत याद आती हैः चित भी मेरा पट भी मेरा और अंटा मेरे बाप का। हारने के लिए बुकी से पैसे लेने के बाद हीरो अजहर (इमरान हाशमी) मैदान में तड़ातड़ चौके-छक्के मारते हुए मैच जीत जाता है! इसके बाद वह फोन पर बुकी से कहता है कि हां मैंने पैसे लिए थे। इसलिए लिए थे कि तू टीम के किसी दूसरे खिलाड़ी के पास इन्हें भेजकर उसे भ्रष्ट न कर दे। मैच खत्म, मैंने पैसे वापस भिजवा दिए।

इसके बाद हीरो की आवाज दर्शकों से मुखातिब होती है, ‘यही थी मेरी कहानी, अगर आप इसे सच मानना चाहें तो आपकी मर्जी और न मानना चाहें तो आपकी मर्जी।’ देश के लिए खेलने और खाने का यह कमाल का अंदाज है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन की जिंदगी की घटनाओं पर आधारित यह फिल्म कुल मिला कर उनकी कमीज चमकाने का प्रयास है। फिल्म से पहले दर्शक से कहा जाता है कि अजहर के अलावा यहां सब काल्पनिक है। अन्य खिलाड़ी, कोरबारी घराने, खेल संस्था। किसी को कलंकित करने का उद्देश्य नहीं है। आप अपनी समझ जेब में रखिए।

मैच फिक्सिंग में फंसे अजहर की कहानी मोहम्मद अजहरुद्दीन की जिंदगी के सार्वजनिक तथ्यों पर आधारित है। इसमें विवाहेतर संबंध और बॉलीवुड का तड़का भी है। एक हीरोइन (नरगिस फाखरी) अजहर के दिल में उतरती है, मगर साफ कहती है कि वह शादीशुदा मर्द से दूर रहेगी। तब भी अजहर का दिल है कि मानता नहीं! उधर सुंदर-सुशील पत्नी (नौरीन) घर-परिवार-बच्चों में इतनी उलझी है कि पति को वक्त नहीं दे पा रही।

Leave a Comment

अन्य समाचार

फिल्म रिव्यूः वाय चीट इंडिया

पराग छापेकर- स्टार कास्ट: इमरान हाशमी , श्रेया धनंवतरी- निर्देशक: सौमिक सेन- निर्माता: भूषण कुमार, अतुल कसबेकर इमरान हाशमी की फिल्म 'वाय चीट इंडिया' शुक्रवार को बड़े पर्दे पर रिलीज हो गई है। फिल्म शिक्षा व्यवस्था में फैले भ्रष्टाचार [Read more...]

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले अनिल कपूर

नई दिल्लीः अभिनेता अनिल कपूर ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यहां मुलाकात की। 62 वर्षीय अभिनेता ने ट्विटर पर यह खबर साझा की। कपूर ने प्रधानमंत्री के साथ तस्वीर को साझा करते हुए लिखा ‘ मुझे आज हमारे [Read more...]

मुख्य समाचार

अगड़ी जाति के लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंची डीएमके

नयी दिल्‍ली : चुनावी वर्ष के शुरुआत से ही राजनीतिक दलों द्वारा तरह तरह के ऐसे हथकंडे अपनाये जा रहे है ताकि उन्‍हें लगे कि वे ही जनता के सच्‍चे हितैषी है। इसी क्रम में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी [Read more...]

उत्तर प्रदेश में गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण पर कैबिनेट की मुहर

लखनऊः कैबिनेट की बैठक में यूपी में गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण लागू करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके लिए अध्यादेश के मसौदे को भी मंजूरी दे दी है। इसके तहत [Read more...]

ऊपर