तो इसलिए अनुष्का को मिला ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ का खिताब

नई दिल्लीः बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के लिए 2017 बहुत खास रहा। 11 दिसंबर को उन्होंने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से शादी रचाई और अब उन्‍हें ‘पेटा-2017 परसन ऑफ द ईयर’ चुना गया है। अनुष्का शाकाहारी हैं और पिछले काफी सालों से जानवरों के हक में काम कर रही हैं। जानवरों के अधिकारों की रक्षा करने वाली संस्था पीपल फॉर द् एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (पेटा) के एसोसिएट निदेशक सचिन बंगेरा ने कहा ‘अनुष्का बहुत ही अच्छी एनिमल राइट एक्टिविस्ट हैं।’
क्या कहा पेटा ने ?
दरअसल, अभिनेत्री अनुष्का शर्मा को पशुओं से काफी लगाव है और यही वजह है कि वो शाकाहारी हैं। अनुष्का को पशुओं के लिए किए गए व्यापक कार्य के लिये पेटा-2017 के पर्सन आफ द ईयर पुरस्कार के लिये नामित किया है। बंगेरा के मुताबिक ‘अनुष्का शर्मा पशु अधिकारों की समर्थक हैं, जिनकी दयालुता एवं कार्य प्रशंसनीय हैं।’ पेटा ने अपने बयान में ये भी कहा कि अभिनेत्री ने सोशल मीडिया ट्वीटर पर मुंबई में पशुओं पर क्रूर अत्याचार पर प्रतिबंध की मांग की है, जहां अक्सर लाचार घोड़ो को बगैर पर्याप्त आराम, भोजन या पानी दिये सभी मौसमों में यात्रियों को खींचने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
कई हस्तियों को मिल चुका है ये पुरस्कार
गौरतलब है के अनुष्का शर्मा से पहले नेता डा. शशि थरूर , सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश के एस राधाकृष्णन पानिक्कर, साथ ही बॅालीवुड इंडस्ट्री में हेमा मालिनी, आर माधवन, जैकलीन फर्नांडीस और कपिल शर्मा को पेटा के ‘पर्सन आफ दि ईयर’ पुरस्कार से पुरस्कृत किया जा चुका है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

मुख्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

उपर