आई एम हॉट ! प्रियंका चोपड़ा

प्रि यंका चोपड़ा ने न केवल अपने माता –पिता को, अपने आप को  प्राउड फील करवाया है अपितु भारत को भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी हॉलीवुड फिल्मों के किरदारों से गौरवान्वित किया है। क्वांटिको में रोल मिलने के बाद तो जैसे प्रियंका के लिए एक   साफ़ सुथरा रास्ता जैसे खुल सा गया हो। अब ,”बे वाच “में भी वह एक नेगेटिव किरदार निभा रही हैं।
पेश है लिपिका वर्मा के साथ बातचीत के कुछ अंश-
l “बे वाच ” हॉलीवुड फिल्म का किरदार , हॉलीवुड एक्टर से छीन  लिया अापने, ऐसा सुनने में आया है ?
ऐसा कहना ठीक  नहीं होगा। मैं कभी भी किसी का बुरा नहीं चाहूंगी। दरअसल, यह सच है कि  किरदार हॉलीवुड के जाने  माने अभिनेता करने वाले थे। लेकिन मैं खुश किस्मत हूँ, यह किरदार  मेरी गोद  में आ गिरा। यह अलेक्स का किरदार क्वांटिको का किरदार भी कोई और फिरंग  एक्टर ही करने वाली थी। मुझे अलेक्स का किरदार मिला और सबसे अच्छी बात यह है कि इस किरदार में मेरे देश के लिए कुछ हिंदी लाइनें भी जोड़ी गयीं।  भारतवर्ष  का सम्मान हुआ, यह मेरे लिए ख़ुशी  की बात है।
l रंगभेद एवं अन्य भेदभाव का शिकार  तो हुई होंगी आप?
देखिये, मुझे अपने रंग और अपने भारतीय  होने पर गर्व है। अब बस हम सब को अच्छे खासे रोल मिलने चाहिए ,बहुत हुआ… हॉलीवुड फिल्मों में इंडियंस को कोई भी छोटे रोल नहीं करने चाहिए। जहाँ  तक रग एवं अन्य भेदभाव की बात आती है, तो यही कहना  चाहूंगी में एक ओवर आल (समस्त) बदलाव  लाने की कोशिश कर रही हूँ।
l  हॉलीवुड और बॉलीवुड में सम्मान इज्जत को लेकर क्या कहना चाहेंगी आप?
देखिये , यह मेरी ख़ुशक़िस्मती है कि-बॉलीवुड एवं हॉलीवुड दोनों ही  जगह मुझे बहुत अच्छी फिल्मेंें और रोल मिले हैं। यह जरूर है कि  मैंने बॉलीवुड में लगभग 50 फ़िल्में कर ली हैं और अपना एक मुकाम बना लिया है। मुझे इस बात का भी एहसास है कि बॉलीवुड से ही मैं,अपने  तजुर्बे को स्ट्रांग बना पायी हूँ। इसी वजह से मुझे हॉलीवुड में काम करने में बहुत आसानी भी हुई है। यहाँ जो कुछ भी सीखा है मैंने, वह वहां के लोगों को समझा  देता है कि हम भी किसी से कम नहीं हैं। बस जब लोग मुझे  कहते हैं ,”आप बहुत प्रो-फोफेशनल हैं ” तब थोड़ा उत्तेजित हो  कर बोल देती हूँ ,”मैं भी 50 फिल्में कर, हार्ड वर्क करके ही आप लोगों के बीच आयी हूँ। सो जो कुछ भी आज मैं हूँ बॉलीवुड की वजह से ही हूँ। शिक्षा जो यहाँ से ली है।
l हाल ही में आप शाॅर्ट फिल्म फेस्टिवल की जूरी मेम्बर भी रह चुकी हैं, क्या कहना चाहेंगी आप ?
जी हाँ, मैं पहली बारी जूरी मेम्बर बनी  हूँ, बस  यही देख कर थोड़ा दुःख लगा है कि – हमारे यहाँ से केवल एक ही शार्ट फिल्म पेश की गयी। मैं चाहूँगी अगली बारी हमारी टीम में भी जो कई मेम्बर्स हैं वे फ़िल्में बना कर पेश करें। इस फील्ड में हमारे देश की उन्नति ही मेरा लक्ष्य है। हमारे एशियाई इंडियंस ने भी हमारे देश को गौरवान्वित किया है -देव पटेल, रिज़ अहमद इत्यादि ने हॉलीवुड में हमारे देश के परचम को लहराया है। हालाँकि यह साउथ एशियाई इंडियंस है किन्तु है तो भारतीय ही। बस मुझे बातें करना पसंद नहीं है। मैं काम  करने में विश्वास करती हूँ, और यही  चाहती  हूँ कि -हमारे नौजवान बच्चे भी हमारी संस्कृति को आगे बढ़ायें।
l हॉलीवुड फिल्में जो आप कर रही  हैं – वो रोल कुछ बोल्ड है  क्या?
क्यों आप हिंदी फिल्में नहीं देखती हैं क्या ? आप को यह बतला दूँ मैं कहानी  और रोल के अनुसार ही काम करती हूँ। कुछ भी सनसनीखेज बनाने हेतु अभिनय को तूल  नहीं देती हूँ। बॉलीवुड में जो कुछ भी अपना एक स्टैण्डर्ड बनाया है बस वही हॉलीवुड फिल्मों में भी कर रही हूँ। मैं न कुछ  कम और न ही कुछ ज्यादा करने में विश्वास करती हूँ। मैंने हिंदी फिल्मों में ही बेहतरीन एक्टर्स के साथ काम किया है और यहाँ भी -फर्क सिर्फ इतना है कि मेरा बॉयफ्रेंड ,”ह्वाइट ” है। ”
l अक्सर आपकी तुलना दीपिका पादुकोणे से की जाती है, क्या कहना चाहेंगी आप?
अब तक के सफर में मेरी  कई ढेर सारी   एक्टर्स से तुलना की गयी है। इससे मुझे कोई भी फर्क नहीं पड़ता है। बस मुझे हर बारी एक नये मुकाम को सेट करना होता है।  यही अपने मस्तिष्क में  लिए हुए मैं काम  करती हूँ और पिछली फिल्मों एवं किरदारों को वही छोड़ आगे बढ़ जाती हूँ। कैसे अपने काम में सुधार ला कर  एक नया माइलस्टोन सेट करूँ यही सोच  लेकर आगे बढ़ जाती हूँ। सो यह सब करने के लिए मुझे काम करना है कही भी रुकना पसंद नहीं है मुझे।
l अपने पैरेंट्स  की वह कौनसी बहुमूल्य शिक्षा लिए आप आगे बढ़ती जा रही हैं आज भी ?
मेरे माता-पिता ने हमें बचपन से यही  सिखलाया है मेहनत से काम करो और आगे बढ़ो।  आप एक लड़की हो, इस बात से भयभीत होकर अपने विचारों को प्रकट करने में जरा भी मत हिचकिचाओ। जो कुछ भी आप का मत है उसे बेधड़क बोल दो। कोई भी विचार गलत या सही नहीं होता है -यह हर एक इंसान का भ्रामक अवधारणा होती है।  यही शिक्षा मैं अपने आने वाली पीढ़ी -खासकर लड़कियों को देना चाहूंगी।
l आपको वर्ल्ड हॉटेस्ट  स्टार की श्रेणी में ला खड़ा किया गया है। …..क्या इंडिया की गर्मी आपको पसंद है, इसी वजह से आप हॉट हैं?
हंस कर बोली,” काश यह सही होता ? आई एम हॉट !!

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

ढाई महीने बाद आए नए ‘डॉ हाथी’

मुंबईः 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के निर्माताओं ने डॉक्टर हाथी की एंट्री के लिए गणेश उत्सव को चुना है और डॉक्टर हाथी ने गणपति बप्पा के साथ शो में धमाकेदार एंट्री की है। कुछ समय पहले इस शो में [Read more...]

‘लवरात्रि’ अब हो गया ‘लवयात्री’

मुंबईः 'लवरात्रि' के नाम को लेकर हो रहे विरोध के बाद सलमान खान ने अपनी फिल्म के नाम को ही बदल दिया है। अब इसका नया नाम 'लवयात्री: अ जर्नी ऑफ लव' रखा गया है। फिल्म घोषणा के बाद से [Read more...]

मुख्य समाचार

भाजपा के सामने किसी राजनीतिक दल की कोई चुनौती नहीं : कैलाश विजयवर्गीय

नीमच : भारतीय जनता पार्टी के महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि देश में अब उनकी पार्टी के सामने कांग्रेस या अन्य किसी राजनीतिक दल की कोई चुनौती नहीं है। कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार दोपहर नीमच और जावद में कार्यकर्ताओं [Read more...]

नरेंद्र मोदी और अशरफ गनी के बीच हुई महत्वपूर्ण बैठक

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने अशांत अफगानिस्तान में जारी शांति प्रक्रिया की स्थिति सहित अनेक महत्वपूर्ण क्षेत्रीय एवं द्विपक्षीय मुद्दों पर बुधवार को यहां गहन विचार विमर्श किया। नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर [Read more...]

ऊपर