अब इमामी, अपोलो के निवेशकों का धन डूबने का खतरा

नई दिल्ली : जी के शेयरों के पतन के बाद म्यूचुअल फंड्स (एमएफ्स) और एनबीएफसीज की नसों में पहले से ही सिहरन दौड़ रही है। इस बीच सोमवार को एक नया नाम सामने आया है, जो ताजा झटके देनेवाला है। कोलकाता की कंपनी इमामी लि. पर एमएफ्स का भारी-भरकम 2,000 करोड़ रुपये का कर्ज है, जो कंपनी के प्रमोटरों को इमामी के सूचीबद्ध शेयरों को गिरवी रखकर दिया गया था। इमामी समूह पर गैर-एमएफ्स कर्जदाताओं के भी शेयरों को गिरवी रखकर बड़ी रकम का कर्ज दिया गया (प्रतिभूतियों के बदले कर्ज) है। इमामी के प्रमोटरों की कंपनी में 72 फीसदी हिस्सेदारी है, जिसमें से आधा कर्ज के बदले गिरवी रखा हुआ है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

2022 तक सबसे अधिक आबादी वाला देश होगा भारत, यह होगी बड़ी चुनौती

नई दिल्ली: वैश्विक आबादी रूझानों पर यूएन के अध्ययन में अनुमान लगाया गया है कि भारत 2022 तक चीन को पछाड़ते हुए दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश बन जाएगा। खाने वाले लोगों की संख्या बढ़ेगी तो ऐसे में [Read more...]

भारतीय स्मार्टफोन बाजार का 50 फीसदी हिस्से पर इन दो कंपनियां का कब्जा

नई दिल्ली : साल 2018 का अंत तक दो कंपनियों -चीनी स्मार्टफोन  श्याओमी और दक्षिण कोरिया की दिग्गज सैमसंग द्वारा भारतीय स्मार्टफोन बाजार के करीब 50 फीसदी हिस्से पर नियंत्रण से हुआ।  यह जानकारी अंतर्राष्ट्रीय डेटा कार्पोरेशन (आईडीसी) के नवीनतम [Read more...]

मुख्य समाचार

बंदूक की नोक पर भाजपा नेता की बेटी का अपहरण

घटना के विरोध में लोगों ने बंद का पालन कर किया सड़क जाम लाभपुर (बीरभूम) : लाभपुर में 1 स्थानीय भाजपा नेता के घर में घुसकर गुरुवार की रात अपराधियों ने बंदूक की नोंक पर उसकी बेटी का अपहरण कर लिया। [Read more...]

पुलवामा की घटना से मर्माहत हूं, जनता पूछ रही है सवाल – ममता

कहा- यह राजनीतिक का मुद्दा नहीं कोलकाता : बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने पुलवामा की घटना पर बेहद ही दु:ख जताते हुए पीड़ित परिवार के साथ होने का आश्वासन दिया तथा कहा कि वे इस घटना से बेहद ही मर्माहत [Read more...]

ऊपर