शैक्षिक संस्थानों के साथ गठबंधन के लिए हार्वर्ड ने दिल्ली में ऑफिस खोला


अमेरिका के हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने नई दिल्ली में अपना कार्यालय खोला है। लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट (एसएआई) के नाम से खुलने वाला यह कायालय देश में हार्वर्ड का तीसरा तथा राजधानी में पहला कार्यालय है। इस मौके पर हार्वर्ड यूनीवर्सिटी में इंटरनेशनल अफेयर्स के वाइस प्रोवोस्ट तथा चीन के इतिहासकार प्रोफेसर मार्क इलियट ने नई दिल्ली के द इंपीरियल होटल जनपथ में इसका उद्घाटन किया। हार्वर्ड इतिहासकार और भारतीय सांसद प्रोफेसर सुगत बोस, एसएआई एग्जीक्युटिव डायरेक्टर मीना हुइट तथा एसएआई के कंट्री डायरेक्टर डॉ. संजय कुमार भी इस मौके पर उपस्थित थे।

इस इंस्टीट्यूट में दक्षिण एशिया में अध्ययन के लिए बड़े पैमाने पर संसाधनों को जुटाया जाएगा। लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर तरुण खन्ना पूव में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के प्रोफेसर रहे हैं। उद्घाटन के मौके पर हार्वर्ड यूनीवर्सटी के वाइस प्रोवोस्ट ( इंटरनेशनल अफेयर्स) मार्क इलियट ने कहा कि भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। हार्वर्ड के विद्वानों ने भारत के अतीत और वर्तमान में काफी समय से गहरी रुचि रखी है। नई दिल्ली में कार्यालय के खुलने के बाद इस क्षेत्र में हम अपनी पकड़ मजबूत बना सकेंगे। इस कार्यालय के जरिए हमें भारत के शैक्षिक और सांस्कृतिक संस्थानों के साथ गठबंधन करने, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान और कला एवं मानविकी के क्षेत्रों में शोध-कार्यों के विकास में तेजी आएगी।

Leave a Comment

अन्य समाचार

इंडिया रनवे वीक ने बांका सिल्क के साथ समझौता किया, बिहार व झारखंड के 40000 से ज्यादा बुनकर होंगे लाभान्वित

झारखंड और बिहार के 40,000 से भी ज्यादा बुनकरों को जोड़ने के लिए बांका सिल्क के साथ आईएफएफडी इंडिया रनवे वीक ने नई दिल्ली में एमओयू साइन किया है। समझौता ज्ञापन पर आईएफएफडी संस्थापक अविनाश पतनाथनिया और बांका सिल्क के [Read more...]

शैक्षिक संस्थानों के साथ गठबंधन के लिए हार्वर्ड ने दिल्ली में ऑफिस खोला

अमेरिका के हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने नई दिल्ली में अपना कार्यालय खोला है। लक्ष्मी मित्तल साउथ एशिया इंस्टीट्यूट (एसएआई) के नाम से खुलने वाला यह कायालय देश में हार्वर्ड का तीसरा तथा राजधानी में पहला कार्यालय है। इस मौके पर हार्वर्ड [Read more...]

मुख्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

उपर