42 पैसे गिरावट के साथ डॉलर के मुकाबले 70.52 पर पहुंचा रुपया

मुंबईः रुपये में गिरावट का स्तर जारी है। बुधवार को रुपया 40 पैसे गिरावट के साथ डॉलर के मुकाबले 70.52 रुपये पर पहुंच गया। रुपये के निचले स्तर पर पहुंचने का कारण मांग और विदेशी कोषों की निकासी बताया जा रहा है।
विशेषज्ञों के अनुसार बैंकों और आयातकों की सतत डॉलर मांग से रुपया दबाव में आ गया। कच्चे तेल के दाम बढ़ने से मुख्य रूप से तेल रिफाइनरी कंपनियों की डॉलर मांग बढ़ी है।

3 दिन से गिरावट जारी
इससे पहले बुधवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 22 पैसे टूटकर 70.32 प्रति डॉलर पर आ गया। मंगलवार के कारोबार में रुपया छह पैसे की बढ़त के साथ 70.10 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। बाद में यह और टूटकर 70.52 प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ गया। कारोबारियों ने कहा कि विदेशी बाजारों में अन्य मुद्राओं की तुलना में डॉलर की मजबूती से भी रुपया प्रभावित हुआ।

नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने यह कहा
नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि भारतीय मुद्रा को अपना ‘प्राकृतिक स्तर’ खोजने की छूट देनी चाहिए।



Leave a Comment

अन्य समाचार

अब बिना क्रेडिट कार्ड अमेजन से ऐसे करिए खरीदारी

नई दिल्लीः ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन इंडिया पर एक नया फीचर शामिल किया गया है। इस फीचर का नाम अमेजन पे ईएमआई है, जिसकी मदद से अब आप बिना क्रेडिट कार्ड ईएमआई पर सामान खरीद सकते हैं। दरअसल अमेजन के ऐप [Read more...]

एयरटेल के 97 रुपये वाले कॉम्बो रीचार्ज में 1.5 जीबी डेटा

नई दिल्लीः एयरटेल ने एक बार फिर ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कम दाम वाला रिचार्ज पैक लॉन्च किया है। जियो को टक्कर देने के लिए भारती एयरटेल ने 97 रुपये वाला कॉम्बो पैक पेश किया है। इससे पूर्व [Read more...]

मुख्य समाचार

सेना प्रमुख के दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के बयान से डरा पाक, सीमा पर बैट एक्‍शन टीम तैनात

नई दिल्लीः भारत के सेना प्रमुख विपिन रावत के दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के बयान के बाद से पाकिस्तान डर गया है। इसलिए उसने सरहद पर बैट की टीम को तैनात कर दिया है। पाकिस्तान ने सरहद पर मोर्टार व अन्य [Read more...]

उत्तर भारत में तेज बारिश से 11 मरे, कई राज्यों में अलर्ट जारी

नई दिल्लीः उत्तर भारत के कई राज्यों में तेज बारिश का कहर अब भी जारी है। लगातार बारिश से उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन के चलते जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा में कम से कम [Read more...]

ऊपर