36वां भारतीय अंतराष्ट्रीय व्यापार मेला 14 नवंबर से

हमारे संवाददाता

नई दिल्लीः दिल्ली के प्रगति मैदान में 14 नवंबर से 36वां भारतीय अंतराष्ट्रीय व्यापार मेला (आईआईटीएफ) आरम्‍भ होने वाला है। हर साल की तरह इस साल भी अन्य कई देश इस मेले में शामिल होंगे। हाल ही में हुए उरी हमले के बाद इस मेले मेंमिल होने वाले देशों की सूची में पाकिस्तान शामिल नहीं है। वहीं आॅस्टेलिया पहली बार इस मेले में शामिल होने वाला है।

150 कंपनियां होंगी शामिल

इंडिया ट्रेड प्रोमोशन ऑर्गेनाईजेशन के उप प्रबंधक संजय वशिष्ठ ने बताया कि यह मेला 14 से 27 नवंबर तक चलेगा, जिसमें तकरीबन 7 हजार कंपनियां भाग लेंगी। मेले में शामिल होने वाले कुल 24 देशों की 150 कंपनियां भी इस मेले में शिरकत करेंगी। इस मेले में भारत के पड़ोसी देश चीन, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, भूटान और श्रीलंका समेत 24 देश शामिल होंगे। इनके अलावा कुवैत, सिंगापुर, म्यांमार, ईरान, इराक, क्यूबा, ताइपे, दक्षिण कोरिया, थाईलैंड, तुर्की, ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका भी मेले में शामिल होंगे। इस बार दक्षिण कोरिया भागीदार देश होगा, जबकि बेलारूस पर ध्यान केंद्रीत किया जाएगा। बेलारूस इससे पहले भी अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में हिस्सा ले चुका है और इस बार बेलारूस के संसाधनों और उत्पादों पर ध्यान रहेगा। ये देश पिछले कई साल से इस मेले में आते रहे हैं।

नहीं दिखेगा करांची का सुुरमा और लाहौर की पोशाक

उरी हमले के बाद भारत-पाक रिश्तों में आए तनाव के कारण पाकिस्तान इस मेले में भाग लेने वाले देशों की सूचि में नहीं है। अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में करांची का सुरमा और लाहौर की पोशाकें खास आकर्षण का केंद्र रहती थीं, लेकिन इस बार ये मेले में नजर नहीं आयेंगी।

मध्य प्रदेश, झारखंड भागीदार, हरियाणा फोकस राज्य

हमेशा की तरह सभी राज्य इस मेले में भाग लेंगे, लेकिन इस बार मेले में मध्य प्रदेश और झारखंड भागीदार राज्य होंगे, जबकि हरियाणा फोकस राज्य रहेगा। केन्द्र शासित प्रदेश भी इस मेले में शामिल होंगे। मेले में राज्यों के 24 मंडप होंगे, वहीं केंद्र शासित प्रदेशों के 31 मंडप होंगे। इनके अलावा केन्द्र सरकार के विभाग भी विभिन्न मंडपों में ‘शामिल होंगे।

डिजिटल इंडिया होगा मुख्य आकर्षण

इस साल केन्द्र सरकार और राज्य के मंडपों में डिजिटल इंडिया को प्रमुखता से दिखाया जाएगा। मेले का पहला पांच दिन 14 से 18 नवंबर खास तौर पर व्यापारियों के लिए होगा, जबकि शेष दिन आम दर्शकों के लिए। इस बार का मेला कई मायनों में खास होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कारण भी देश और दुनिया में भारत का नाम बढ़ा है। खासकर कौशल विकास योजना और डिजीटल इंडिया के कारण भारतीय उद्योगों को विस्तार मिला है।

दिखेगा अल्पसंख्यक कलाकारों का जादू

अल्पसंख्यक केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय से संबंध रखने वाले देशभर के बुनकर, कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखने के लिए यह एक बड़ा मंच साबित होगा। मेले में राजस्थान, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, दक्षिणी राज्यों और कश्मीर की पारंपरिक कलाओं का प्रदर्शन किया जाएगा। इसके लिए कलाकारों को हाट में नि:शुल्क स्टाल प्रदान किया जाएगा। इस बार अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले के हुनर हाट में देशभर से सैकड़ों की संख्या में कलाकार और बुनकर कला का प्रदर्शन करेंगे। इसमें पूर्वोत्तर के बांस से निर्मित उत्पाद, कपड़े पर किए जाने वाले काम, चिकन वर्क, पीतल पर कलाकृतियां, जरदोजी, मिट्टी से बने उत्पादों आदि का प्रदर्शन किया जाएगा।

ऑनलाइन मिलेगा टिकट

दर्शकों की सुविधा के लिए पहली बार व्यापार मेले के टिकट ‘ऑनलाइन’ उपलब्ध होंगे। कुछ खास मेट्रो स्टेशनों और प्रगति मैदान के प्रवेश द्वार के अलावा ऑनलाइन भी टिकट उपलब्ध होंगे।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

‘दूरसंचार में पांच गुना बढ़ा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश’

नयी दिल्लीः दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा है कि दूरसंचार क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) करीब पांच गुना बढ़ा है। गत वित्त वर्ष में यह 6.2 अरब डॉलर हो गया, जो 2015-16 में 1.3 अरब डॉलर था। नई [Read more...]

5 हजार करोड़ रुपये के बैंक फ्रॉड मामले में फरार गुजराती परिवार के नाइजीरिया में होने की आशंका

नई दिल्लीः भारत में बैंक फ्रॉड मामले में फार्मा कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक का मालिक नितिन जयंतीलाल संदेसरा और उसका परिवार अब यूएई से फरार हो गया है। 5383 करोड़ रुपये के इस घोटाले मामले में सीबीआई और ईडी को उसकी [Read more...]

मुख्य समाचार

लुका मोड्रिच बने सर्वश्रेष्ठ फुटबालर, रोनाल्डो-मेसी की बादशाहत खत्म

लंदन : लुका मोड्रिच ने फीफा का वर्ष का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार हासिल करके क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी की फुटबाल के व्यक्तिगत पुरस्कारों को हासिल करने में एक दशक से चली आ रही बादशाहत को समाप्त कर दिया। [Read more...]

भारतीय खेल की आवाज, जसदेव सिंह का 87 की उम्र में निधन

नयी दिल्ली : अपनी आकर्षक आवाज और तेज रफ्तार हॉकी कमेंट्री के दम पर 1970, 80 और 90 के दशक में लोगों के दिलों पर राज करने वाले जाने-माने खेल कमेंटेटर जसदेव सिंह का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार को [Read more...]

ऊपर