सिक्कों की ढलाई का काम दोबारा शुरू

नई दिल्लीः सिक्कों की ढलाई रोकने के अपना आदेश को सरकार ने वापस ले लिया है और इसके बाद कोलकाता, मुंबई, नोएडा और हैदराबाद स्थित देश की चारों टकसालें फिर से इस काम में जुट गई हैं। सरकार ने सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एसपीएमसीआईएल) को इस बारे में आदेश जारी किए हैं। हालांकि इस बार सिक्कों की ढलाई का काम धीमी गति से किया जा रहा है। हालांकि, उन्हें यह काम धीमी रफ्तार से करने को कहा गया है।
क्यों कर दिया था बंद?
कलकत्ता टकसाल कर्मचारी संगठन के उपाध्यक्ष विजन डे ने कहा ‘हमने कल से सिक्कों की ढलाई शुरू कर दी है। हमें हर तरह के सिक्कों की ढलाई करने के लिए कहा गया है।’ उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक ने वित्त वर्ष 2017-18 में 771. 2 करोड़ सिक्कों की ढलाई करने को कहा था जिनमें से 590 करोड़ सिक्कों की ढलाई हो चुकी है। चालू वित्त वर्ष के बचे ढाई महीनों में टकसालों द्वारा यह लक्ष्य हासिल कर लेने की उम्मीद है। सरकार ने बाजार में सिक्कों की अधिकता तथा भंडारण के लिए जगह की कमी के कारण नौ जनवरी को सिक्कों की ढलाई रोकने का निर्देश दिया था।

Leave a Comment

अन्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

मुख्य समाचार

मीडिया पर भी गुंडई

कोलकाता : सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन राज्य के विभिन्न जिलों में हिंसक घटनाएं तो हुई ही, साथ ही चौथे स्तंभ यानी मीडिया को भी नहीं बख्शा गया। राज्य में मीडिया पर भी हमले हुए। जिलों में तो हमले [Read more...]

गिरिजा देवी के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता: राज्यपाल

कोलकाता : बनारस घराने की अंतिम दीपशिखा के रूप में पद्म विभूषण गिरिजा देवी भले ही आज मौन हो गईं, लेकिन उनका संगीत लोगों के जहन में युगों-युगों तक रहेगा। भले ही वह मौन हो गई हों लेकिन उनकी ठुमरी, [Read more...]

उपर