यात्री वाहनों की बिक्री लगातार दूसरे महीने घटी

ऐसा नोटबंदी के दौरान भी नहीं हुआ था
नयी दिल्लीः लगातार दूसरे महीने घरेलू बाजार में यात्री वाहनों की बिक्री घटी है। जुलाई में 2.71 प्रतिशत घटने के बाद अगस्त में यात्री वाहनों की बिक्री 2.46 प्रतिशत घटकर 2,87,186 इकाई रही।यात्री वाहनों की बिक्री में लगातार दो महीने गिरावट काफी अर्से बाद रही है। ऐसा नोटबंदी के दौरान भी नहीं हुआ था।

क्या रहा कारण

सियाम के महानिदेशक विष्णु माथुर ने कहा कि पिछले साल 01 जुलाई को जीएसटी लागू होने के बाद लगातार दो महीने बिक्री में उछाल आया था। इसी कारण इस साल जुलाई -अगस्त में एक साल पहले की तुलना में बिक्री घटी। केरल में आयी बाढ़ से भी बिक्री प्रभावित हुई।

कैसी रही बिक्री

अगस्त में यात्री वाहनों के खंड में कारों की बिक्री 1.03 प्रतिशत घटकर 1,96,847 इकाई रही। उपयोगी वाहनों की बिक्री 7.11 प्रतिशत घटकर 73,073 इकाई रही। वैनों की बिक्री 2.41 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,266 इकाई रही। जुलाई में कारों की बिक्री 0.45 प्रतिशत और उपयोगी वाहनों की 8.95 प्रतिशत घटी थी। वैनों की 2.79 प्रतिशत बढ़ी थी। दुपहिया वाहनों के खंड पर भी दबाव रहा। इनकी बिक्री 2.91 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 19,46,811 इकाई रही। माथुर ने बताया कि पश्चिम बंगाल में दुपहिया वाहन खरीदने के लिए लाइसेंस अनिवार्य करने से बिक्री प्रभावित हुई। स्कूटरों की बिक्री 0.60 प्रतिशत घटकर 6,69,416 इकाई, मोपेडों की बिक्री 13.47 प्रतिशत की गिरावट के साथ 70,883 इकाई रही। मोटरसाइकिलों की बिक्री 6.18 फीसदी बढ़कर 12,06,512 इकाई रही। वाणिज्यिक वाहनों का प्रदर्शन लगातार मजबूत बना हुआ है। माथुर ने कहा कि सियाम जल्द ही इस खंड के लिए बिक्री के अपने पूर्वानुमान को बढ़ायेगा। मध्यम-भारी वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 28.54 प्रतिशत तथा हल्के वाणिज्यिक वाहनों की 30.25 प्रतिशत बढ़कर क्रमशः 34,072 इकाई और 50,596 इकाई रही। अगस्त में देश में कुल 63,199 तिपहिया वाहन बिके। एक साल पहले की तुलना में इनकी बिक्री 22.83 प्रतिशत बढ़ी।

कुल मिलाकर बढ़ी

सभी खंडों के वाहनों की कुल घरेलू बिक्री 3.43 प्रतिशत बढ़कर 23,81,931 इकाई रही। अगस्त 2017 में कुल 23,02,902 वाहन बिके थे। निर्यात के मार्चे पर अगस्त में प्रदर्शन बेहतर रहा। सभी खंडों के सभी वाहनों का कुल निर्यात 23.70 प्रतिशत बढ़कर 4,11,357 रहा। यात्री वाहनों के निर्यात में 7.13 प्रतिशत, वाणिज्यिक वाहनों में 27.18 प्रतिशत, तिपहिया वाहनों में 61.82 प्रतिशत और दुपहिया वाहनों में 22.15 प्रतिशत वृद्धि रही।


एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

‘ब्याज दरें बढ़ा सकता है रिजर्व बैंक’

नयी दिल्लीः चालू वित्त वर्ष में भारतीय रिजर्व बैंक ब्याज दरों में और वृद्धि कर सकता है। यह बात भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के एक सर्वेक्षण में सामने आयी है। देश की 40% से अधिक कंपनियों ने यह राय व्यक्त [Read more...]

ट्रंप सरकार एच-4 वीजाधारकों के वर्क परमिट को रद्द करेगी, भारतीयों पर पड़ेगा सर्वाधिक असर

वॉशिंगटनः अमेरिका में एच-4 वीजाधारकों के वर्क परमिट को ट्रंप सरकार आने वाले 3 माह में रद्द कर सकती है। एक फेडरल कोर्ट ने इस बात [Read more...]

मुख्य समाचार

‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ ने फिर बनाया मुरीद

नयी दिल्ली : टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर से अपने फैसले से साबित कर दिया कि डीआरएस के मामले में उनसे सटीक कोई नहीं है। अगर वह इशारा कर दें तो मान लीजिए [Read more...]

केजरीवाल ने शाह को दी बहस की चुनौती

नयी दिल्लीः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर काम नहीं करने के बयान पर केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जितना काम उन्होंने किया है उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। जनता की सेवा का [Read more...]

ऊपर