मैं नोटबंदी के पक्ष में नहीं था, किया था सरकार को आगाह: राजन

नयी दिल्लीः रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन नोटबंदी के पक्ष में नहीं थे और उन्होंने सरकार को इसके खतरे के प्रति आगाह किया था। उनके कार्यकाल के दौरान इस पर निर्णय लेने को नहीं कहा गया। नोटबंदी की लागत के बारे में उन्होने सरकार को सावधान किया था तथा कहा था कि नोटबंदी के मुख्य लक्ष्यों को पाने के अन्य बेहतर विकल्प भी हैं। अपनी पुस्तक ‘आय डू ह्वाट आय डूः ऑन रिफार्म्स रिटोरिक एंड रिजॉल्व ‘ में राजन ने यह खुलासा किया है। इसके अनुसार 2013 से 2016 तक रिजर्व बैंक के गवर्नर रहे राजन ने बिना पूरी तैयारी के नोटबंदी करने के परिणामों के प्रति भी सरकार को आगाह किया था।
बेहतर विकल्प थे

राजन ने लिखा है, ‘मुझसे सरकार ने फरवरी 2016 में नोटबंदी पर दृष्टिकोण मांगा जो मैंने मौखिक दिया था। दीर्घकालिक स्तर पर इसके फायदे हो सकते हैं पर मैंने महसूस किया कि संभावित अल्पकालिक आर्थिक नुकसान दीर्घकालिक फायदों पर भारी पड़ सकते हैं। राजन ने कहा कि उन्होंने सरकार को एक नोट दिया था जिसमें नोटबंदी के संभावित नुकसान और फायदे बताये गये थे तथा समान उद्देश्यों को प्राप्त करने के वैकल्पिक तरीके बताये गये थे। इसके मुख्य लक्ष्यों को प्राप्त करने के संभवतः बेहतर विकल्प थे। ‘उन्होंने आगे कहा, ‘यदि सरकार फिर भी नोटबंदी की दिशा में आगे बढ़ना चाहती है तो इस स्थिति में नोट में इसकी आवश्यक तैयारियों और इसमें लगने वाले समय का भी ब्यौरा दिया था। रिजर्व बैंक ने अपर्याप्त तैयारी की स्थिति में परिणामों के बारे में भी बताया था। ‘
बनी थी समिति
सरकार ने इन मुद्दों पर विचार करने के लिए इसके बाद एक समिति गठित की थी। मुद्रा संबंधी मामलों को देखने वाले डिप्टी गवर्नर इसकी सभी बैठकों में शामिल हुए थे और मेरे कार्यकाल में कभी भी रिजर्व बैंक को नोटबंदी पर निर्णय लेने के लिए नहीं कहा गया था।
राजन के नोटबंदी संबंधी ये खुलासे इसलिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि रिजर्व बैंक ने पिछले ही महीने कहा कि 500 रुपये और 1000 रुपये के प्रचलन से बाहर किए गए 99 प्रतिशत नोट बैंकिंग प्रणाली में वापस आ गए हैं।

Leave a Comment

अन्य समाचार

स्वार्थी दुनिया में वफादारी की मिसाल है मेडिसन

सैन फ्रांसिस्को : उत्तरी कैलिफोर्निया के जंगलों में भीषण आग लगने के करीब एक महीने बाद एक हैरान कर देने वाला वाकया सामने आया है जिसमें आग में सबकुछ राख होने के बावजूद एक कुत्ता अपने क्षतिग्रस्त घर की रखवाली [Read more...]

माल्या के प्रत्यर्पण की सुनवाई के लिए सीबीआई टीम लंदन रवाना

नई दिल्ली : शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण की मामले में सीबीआई के संयुक्त निदेशक एस साईं मनोहर के नेतृत्व में अधिकारियों की टीम रविवार को लंदन रवाना हुई। इस मामले के सुनवाई सोमवार को लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट [Read more...]

मुख्य समाचार

मुकेश अंबानी की बेटी के वैवाहिक कार्यक्रम में पहुंचीं नामी गिरामी हस्तियां

हॉलीवुड सिंगर बियोंसे सहित अन्य ने अपनी प्रस्तुतियां दीं उदयपुर : देश के प्रमुख उद्योगपति मुकेश अंबानी की बेटी ईशा के वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल लेने के लिए देश दुनिया की प्रमुख हस्तियों रविवार को उदयपुर पहुंचीं। हॉलीवुड सिंगर बियोंसे सहित [Read more...]

भारत ने सत्तर के दशक में पूर्ण कंप्यूटरीकृत कर प्रणाली का मौका गंवाया

‘द टाटा ग्रुपः फ्रॉम टार्चबियरर्स टु ट्रेलब्लेजर्स’ में दावा नयी दिल्लीः सत्तर के दशक के आखिर में पूर्ण कंप्यूटरीकृत कर प्रशासन प्रणाली [Read more...]

ऊपर