भारत की जवाबी कार्रवाईः कुछ अमेरिकी उत्पादों पर बढ़ाया आयात शुल्क

नई दिल्लीः अमेरिका के बाद अब भारत ने भी आखिरकार उस पर जवाबी कार्रवाई कर दी है। इसके तहत उसने अमेरिका से आने वाले कई उत्पादों पर सीमा शुल्क बढ़ा दिया है। इनमें चना , मसूर दाल सहित अन्य सामग्री शामिल हैं। वित्त मंत्रालय ने एक अधिसूचना में कहा कि ये शुल्क 4 अगस्त से प्रभावी होंगे। हालांकि अमेरिका से आयातित मोटरसाइकिलों पर शुल्क नहीं बढ़ाया गया है।
मटर और बंगाली चने पर शुल्क बढ़ाकर 60 प्रतिशत तथा मसूर दाल पर 30 प्रतिशत कर दिया गया है। इनके अलावा बोरिक एसिड पर 7.5 प्रतिशत तथा घरेलू रीजेंट पर 10 प्रतिशत शुल्क लगाया गया है। आर्टेमिया पर शुल्क बढ़ाकर 15 प्रतिशत कर दिया गया है। इनके अलावा चुनिंदा किस्म के नटों , लोहा एवं इस्पात उत्पादों , सेब , नाशपाती , स्टेनलेस स्टील के चपटे उत्पाद , मिश्रधातु इस्पात , ट्यूब – पाइप फिटिंग , स्क्रू , बोल्ट और रिवेट पर शुल्क बढ़ाया गया है।
इससे पहले अमेरिका ने चुनिंदा इस्पात एवं एल्युमीनियम उत्पादों पर शुल्क बढ़ाया था, जिससे भारत पर 24.1 करोड़ डॉलर का शुल्क बोझ पड़ा था, लेकिन अब भारत ने इसी के जवाब में ये शुल्क लगाये हैं।

Leave a Comment

अन्य समाचार

व्यापार युद्धः भारत, चीन के बाद अब कनाडा ने भी लगाया अमेरिकी सामग्रियों पर टैक्स

कनाडाः भारत, चीन के बाद अब कनाडा और अमेरिका के बीच भी व्यापार युद्ध शुरू हो गया है। शुक्रवार को कनाडा ने अमेरिका के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करते हुए उसके 12.6 अरब डॉलर के उत्पादों पर शुल्क लगाने का ऐलान [Read more...]

भारत की जवाबी कार्रवाईः कुछ अमेरिकी उत्पादों पर बढ़ाया आयात शुल्क

नई दिल्लीः अमेरिका के बाद अब भारत ने भी आखिरकार उस पर जवाबी कार्रवाई कर दी है। इसके तहत उसने अमेरिका से आने वाले कई उत्पादों पर सीमा शुल्क बढ़ा दिया है। इनमें चना , मसूर दाल सहित अन्य सामग्री [Read more...]

मुख्य समाचार

अफगान में आत्मघाती हमला, 7 मरे, 15 जख्मी

काबुलः अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में रविवार की शाम शाम करीब 4.30 बजे ग्रामीण पुनर्वास और विकास मंत्रालय के गेट के बाहर एक हमलावर ने खुद को विस्फोटक से उड़ा लिया। इस आत्मघाती हमले में आम लोग एवं सुरक्षाकर्मी समेत [Read more...]

भगवान जगन्नाथ का रथ गुंडिचा मंदिर पहुंचा

पुरीः भगवान जगन्नाथ का ‘नंदीघोष’ रथ रविवार को गुंडिचा मंदिर पहुंच गया। रथ यात्रा के दौरान शनिवार को बालागंडी चक पर इस रथ को रोकना पड़ा और उस दिन रथयात्रा पूरी नहीं हुई क्योंकि सूर्यास्त के बाद रथों को नहीं [Read more...]

ऊपर