जल्द जारी होगी मुखौटा कंपनियों की परिभाषा

नयी दिल्लीः सरकार ने कहा कि वह जल्द ही मुखौटा कंपनियों की परिभाषा जारी करेगी। वित्तीय गड़बड़ी में ल‌िप्त कंपनियों पर कारवाई तेज होने के बीच कारपोरेट कार्य राज्यमंत्री पीपी चौधरी ने रविवार को कहा,  हम इस पर काम कर रहे हैं। आमतौर पर मुखौटा कंपनियां केवल कागजों में होती हैं और इनका इस्तेमाल धोखाधड़ी में किया जाता है। इसी के मद्देनजर सरकार मुखौटा कंपनियों की परिभाषा तय करेगी। मुखौटा कंपनियों की परिभाषा तय करते समय दूसरी कंपनियों के शेयरों में क्षमता से अधिक निवेश, अस्पष्ट मालिकाना स्थिति जैसे कारकों को ध्यान में रखा जा सकता है। कारपोरेट कार्य राज्य मंत्री के साथ चौधरी विधि एवं न्याय मंत्रालय में भी राज्य मंत्री हैं। कारपोरेट कार्य मंत्रालय, कंपनी कानून का कार्यान्वयन कर रहा है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

शिकायतें निपटाने के आधार पर तय हो विमान कंपनियों की रैकिंग

नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा नयी दिल्लीः विमान सेवा कंपनियों की सेवा गुणवत्ता का आंकलन शिकायत निपटान में [Read more...]

लगातार 29वें दिन घटीं पेट्रोल-डीजल की कीमतें

नयी दिल्लीः रविवार को लगातार 29वें दिन डीजल-पेट्रोल की कीमतों में कमी दर्ज की गयी। इसके साथ ही ये पुनः मध्य अगस्त के स्तर पर आ गये। पेट्रोल 20 पैसे और डीजल 18 पैसे प्रति लीटर सस्ता हुआ। दिल्ली में [Read more...]

मुख्य समाचार

अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर रखी जाएगी निगरानी – पार्थ

कोलकाता : सोमवार को विधानसभा में प्रश्नोत्तर काल के दौरान राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने ​कांग्रेस विधायक असित मित्रा के सवालों का जवाब देते हुए कहा ​कि राज्य के अंग्रेजी माध्यम स्कूलों पर निगरानी रखने के लिए राज्य [Read more...]

नायडू मिले ममता से, हुई विपक्षी एकता पर बात

कोलकाता : लोकसभा चुनाव में भाजपा को शिकस्त देने के लिए विपक्ष एक बार फिर सक्रिय हो गया है। इस कड़ी में सोमवार को आंधप्रदेश के मुख्यमंत्री व टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मिलें। [Read more...]

ऊपर